कुश्ती प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंचे दीपक, दिलाया चौथा ओलंपिक कोटा

puniya

नूर सुल्तान : जूनियर विश्व चैंपियन पहलवान दीपक पुनिया ने चल रही विश्व कुश्ती प्रतियोगिता के 86 किग्रा फ्री स्टाइल ओलंपिक वजन वर्ग मुकाबले में शनिवार को इतिहास बनाते हुये फाइनल में जगह बना ली और भारत को टोक्यो ओलंपिक 2020 के लिये चौथा कोटा भी दिला दिया। दीपक ने इसके साथ ही देश के लिये इस प्रतियोगिता में पहला रजत पदक सुनिश्चित कर दिया। हालांकि वह स्वर्ण पदक से और 2010 में लीजेंड पहलवान सुशील कुमार की स्वर्णिम सफलता का इतिहास दोहराने से एक कदम दूर हैं।

9 साल बाद स्वर्ण पदक के करीब

जूनियर विश्व चैंपियनशिप में देश को 18 साल बाद स्वर्ण पदक दिलाने वाले दीपक अब सीनियर चैंपियनशिप में भारत को 9 साल बाद स्वर्ण पदक दिलाने के करीब पहुंच गये हैं। वहीं एक अन्य भारतीय पहलवान राहुल अवारे 61 किग्रा के गैर ओलंपिक वर्ग के कांस्य पदक मुकाबले में उतरेंगे।

एकतरफा अंदाज में फइनल तक पहुंचे

द्रोणाचार्य अवार्डी महाबली सतपाल के शिष्य दीपक ने सेमीफाइनल में स्विटजरलैंड के स्टीफन रेचमुथ को एकतरफा अंदाज में 8-2 से पराजित कर फाइनल में प्रवेश कर लिया जहां उनका मुकाबला ईरान के हसन आलियाजाम याजदानीचराती के साथ होगा।

चौथा पदक व चौथा ओलंपिक कोटा

भारत का इस प्रतियोगिता में यह चौथा पदक और चौथा ओलंपिक कोटा हो गया है। इससे पहले रवि कुमार ने 57 किग्रा फ्री स्टाइल, बजरंग पुनिया ने 65 किग्रा फ्री स्टाइल और महिला पहलवान विनेश फोगाट ने 53 किग्रा वर्ग में देश को ओलंपिक कोटा दिलाया था। रवि, बजरंग और विनेश अपने वजन वर्गों में कांस्य पदक जीत चुके हैं। वहीं विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में भारत का एकमात्र स्वर्ण पदक सुशील ने साल 2010 में जीता था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

केरल घूमने गयी थीं 5 बहनें, 3 की सड़क दुर्घटना में मौत

बनगांव : उत्तर 24 परगना के बनगांव से केरल घूमने गयीं 5 बहनों में से 3 की मौत सड़क दुर्घटना में हो गयी। वहीं 2 आगे पढ़ें »

19 में हाफ हुई 21 में साफ हो जायेगी तृणमूल : दिलीप घोष

खड़गपुर : पश्चिम मिदनापुर जिले के नारायणगढ़ विधानसभा के 12 नम्बर तुतरंगा के ठाकुरचक से भाजपा की गांधी संकल्प यात्रा चौथे दिन आगे के लिये आगे पढ़ें »

ऊपर