ऑस्ट्रेलियन ओपन : खिताब बचाने का दबाव नहीं झेल सकीं सोफिया, हार के बाद छलके के आंसू

गत चैम्पियन केनिन बाहर, नडाल और बार्टी अगले दौर में

मेलबर्न : अमेरिका की सोफिया केनिन खिताब बचाने का दबाव नहीं झेल सकीं और गुरुवार को दूसरे दौर के मुकाबले में लगातार सेटों में हार झेलकर वर्ष के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट से बाहर हो गयीं जबकि विश्व के नंबर दो खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल और विश्व की नंबर एक खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी ने संघर्षपूर्ण जीत के साथ तीसरे दौर में जगह बना ली। 22 वर्षीया केनिन को एस्टोनिया की अनुभवी खिलाड़ी काइया कानेपी ने मात्र 64 मिनट में 6-3, 6-2 से हराकर तीसरे दौर में जगह बना ली। केनिन ने पिछले वर्ष ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीता था और फ्रेंच ओपन के फाइनल में पहुंची थीं। लेकिन इस बार वह उस प्रदर्शन के आसपास भी नजर नहीं आयीं। दूसरे दौर में हार के बाद चौथी सीड केनिन की आंखों से आंसू छलक आये और उन्होंने स्वीकार किया कि वह उन्हें मिले मौकों को भुना नहीं पायीं। उन्होंने यह भी माना कि खिताब बचाने का दबाव उन पर भारी पड़ा। हालांकि उन्होंने 94वीं रैंकिंग की कानेपी को जीत का श्रेय भी दिया और कहा कि वह शानदार खेली।

बार्टी को करना पड़ा संघर्ष, नडाल की आसान जीत
रिकॉर्ड 21वें ग्रैंड स्लेम खिताब की तलाश में लगे दूसरी सीड और विश्व के नंबर दो खिलाड़ी नडाल ने दूसरे दौर में अमेरिकी क्वालीफायर माइकल ममोह को एकतरफा अंदाज में एक घंटे 47 मिनट में 6-1, 6-4, 6-2 से हराकर तीसरे दौर में जगह बना ली। नडाल का तीसरे दौर में ब्रिटेन के कैमरून नोरी से मुकाबला होगा। इस बीच शीर्ष वरीयता प्राप्त बार्टी ने जीत के साथ तीसरे दौर में जगह बना ली, हालांकि उन्हें अपने ही देश की वाइल्ड कार्ड खिलाड़ी डारिया गावरीलोवा को एक घंटे 32 मिनट में 6-1, 7-6 (9-7) से हराने के लिए संघर्ष करना पड़ा। बार्टी ने पहला सेट आसानी से जीत लिया लेकिन दूसरे सेट का टाई ब्रेक 9-7 से जीतने में उन्हें पसीना बहाना पड़ गया। वहीं, पांचवीं वरीयता प्राप्त यूक्रेन की एलिना स्वितोलिना ने अमेरिका की युवा खिलाड़ी कोको गॉफ को एक घंटे 17 मिनट में लगातार सेटों में 6-4, 6-3 से हराकर तीसरे दौर में प्रवेश कर लिया।

दिविज, अंकिता ऑस्ट्रेलियाई ओपन से बाहर
भारत के दिविज शरण और अंकिता रैना ऑस्ट्रेलियाई ओपन पुरुष और महिला युगल के पहले दौर में सीधे सेटों में मिली हार के बाद बाहर हो गये। किसी ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने वाली तीसरी भारतीय महिला अंकिता और रोमानिया की मिहाइला बुजारनेकू की जोड़ी वाइल्ड कार्डधारी ओलिविया गाडेकी और बेलिंडा वुलकॉक से एक घंटे 17 मिनट में 3-6, 0-6 से हार गई। पुरुष युगल वर्ग में भी भारत की चुनौती समाप्त हो गई जब दिविज और स्लोवाकिया के इगोर जेलेने की जोड़ी को जर्मनी के यानिक हांफमैन और केविन के ने पहले दौर में 6-1, 6-4 से हराया। युगल वर्ग में भारत के रोहन बोपन्ना और जापान के बेन मैकलाचलान को भी पहले दौर में पराजय का सामना करन पड़ा, जिन्हें कोरियाई वाइल्ड कार्डधारी जि युंग नाम और मिन क्यु सोंग ने 6-4, 7-6 से मात दी। बोपन्ना मिश्रित युगल में चीन की यिंगियिंग दुआन के साथ खेलेंगे जिनका पहले दौर में सामना अमेरिका की बेथानी माटके सैंड्स और ब्रिटेन के जैमी मर्रे की जोड़ी से होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

गोद में रखकर लैपटॉप से काम करने की ना करें भूल, संतान सुख से हो जाएंगे वंचित

कोलकाताः वर्क फ्रॉम होम का चलन बढ़ गया है और लोग घंटो-घंटो लगातार लैपटॉप पर काम करते हैं तो ऐसे में अगर लंबे समय तक आगे पढ़ें »

भाजपा ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट, ममता के सामने शुभेंदु

कोलकाता : पश्चिम बंगाल चुनावों के लिए टीएमसी के बाद भाजपा ने अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है। लिस्ट के मुताबिक ममता बनर्जी आगे पढ़ें »

ऊपर