3 बार के सर्वाश्रेष्ठ ऑलराउंडर को टीम से बाहर किया गया, खिलाड़ी ने बीसीसीआई से मांगा सीधा जवाब

नई दिल्लीः घरेलू क्रिकेट में रनों की झड़ी लगाने वाले बल्लेबाज मयंक अग्रवाल और हनुमा विहारी को उनकी मंजिल मिल गई। लेकिन भारत में सर्वश्रेष्ठ हरफनमौला खिलाड़ी का अवार्ड तीन-तीन बार ग्रहण करने वाले जलज सक्सेना के लिए टीम इंडिया में जगह बनाना महज एक सपना बनकर रह गया। इतना ही नहीं हाल ही में वेस्टइंडीज के खिलाफ जब बीसीसीआई की समिति ने उन्हें इंडिया ‘ए’ के दौरे से भी बाहर कर दिया तो उनका गुस्सा फूट पड़ा। जिसके चलते उन्होंने ट्वीट करते हुए बीसीसीआई से जवाब मांगा है।
साहा की हुई वापसी
वेस्टइंडीज ‘ए’ और श्रीलंका ‘ए’ के खिलाफ आगामी द्वीपक्षीय सीरीज के लिए मंगलवार को भारतीय ‘ए’ टीम का चयन हो गया था, इस टीम में लम्बे समय बाद रिद्धिमान साहा की वापसी हुई है, लेकिन शानदार फॉर्म में चल रहे जलज सक्सेना को टीम में जगह नहीं मिली है।
रणजी ट्राफी में कमाल किया था
बता दें कि जलज सक्सेना ने रणजी ट्रॉफी 2018-19 में शानदार प्रदर्शन किया था। उन्होंने केरल के लिए खेलते हुए आंध्र और बंगाल के खिलाफ शतक लगाया था। एक मैच में उन्होंने 133 तो दूसरे मैच के दौरान उन्होंने 143 रन की शतकीय पारी खेली थी।
जवाब मांगा
वहीं इंडिया ‘ए’ के इंग्लैंड लायंस के दौरे पर उन्होंने जनवरी 2019 में शानदार प्रदर्शन भी किया। वह नवदीप सैनी के 9 विकेट के बाद सबसे ज्यादा 7 विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। जबकि 28 रनों कि नाबाद पारी भी खेली थी। लेकिन फिर भी चयनकर्ताओं ने उन्हें इंडिया ए की टीम से बाहर कर दिया है। जिसके बाद जलज सक्सेना ने अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा ‘मैंने ऐसा क्या गलत किया, जो मुझे इंडिया ए टीम से बाहर कर दिया।’
यह अवॉर्ड लेकर बेइज्जति महसूस होती है
जलज सक्सेना बीसीसीआई पर पहले भी भड़क चुके हैं। दरअसल, जब बीसीसीआई ने घरेलू स्तर पर शानदार प्रदर्शन की वजह से माधवराव सिंधिया अवार्ड लिए जलज सक्सेना को चुना था। तो जलज सक्सेना अपने एक बयान में बीसीसीआई पर भड़क गए थे।
जलज का कहना था ‘मुझे यह अवार्ड दिया जा रहा है, हालांकि इस अवार्ड को कोई मतलब नहीं है। यदि बीसीसीआई इस बात का जवाब नहीं दे सकती है, कि बीते चार सालों से मुझे इंडिया ए की टीम में किस वजह से नहीं चुना जा रहा हैं, तो इस अवार्ड का भी कोई मतलब नहीं है। ऐसे में मुझे मिला यह अवॉर्ड बस बेइज्जती जैसा महसूस करा रहा है। मैं इसे लेकर बेहद तनाव में हूं।’
बता दें कि जलज सक्सेना के पास 111 प्रथम श्रेणी व 85 लिस्ट ए मैचों का अनुभव है। वह 85 लिस्ट ए मैचों में 96 विकेट हासिल कर चुके है और 1736 रन भी बना चुके है। वहीं अपने खेले 111 प्रथम श्रेणी मैचों में वह 6025 रन व 298 विकेट हासिल कर चुके हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चाइना ओपन : क्वार्टरफाइनल में बी साईं प्रणीत की हार के साथ भारतीय चुनौती खत्म

चांगझू : विश्व के 15वें नंबर के पुरूष खिलाड़ी बी साई प्रणीत कड़े संघर्ष के बावजूद चाइना ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में शुक्रवार को अपने क्वार्टरफाइनल आगे पढ़ें »

मरे चैलेंजर टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंचे रामनाथन

नयी दिल्ली : भारत के रामकुमार रामनाथन ने जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत ग्लास्गो में चल रहे 46,600 यूरो की ईनामी राशि वाले मरे ट्रॉफी चैलेंजर आगे पढ़ें »

ऊपर