2019 का विश्व कप खेलेंगे धोनी

राष्ट्रीय चयनसमिति के प्रमुख ने स्थिति साफ की
मुंबईः भारतीय क्रिकेटर और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी 2019 में होने वाले विश्व कप में भारतीय टीम का हिस्सा रहेंगे। राष्ट्रीय चयनसमिति के प्रमुख एमएसके प्रसाद ने कुछ समय पहले कहा था कि विकेटकीपर महेन्द्र सिंह धोनी को 2019 में होने वाले विश्व कप में उतरने के लिए अपने प्रदर्शन में सुधार लाना होगा, लेकिन अब उनका मानना है कि धोनी दुनिया के नंबर एक विकेटकीपर हैं और वह विश्व कप तक टीम का हिस्सा रहेंगे।

प्रसाद ने दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए वनडे टीम की घोषणा करते समय यह साफ कर दिया। चयनकर्ता प्रमुख की इन बातों से साफ है कि उन्हें कोई भी ऐसा विकेटकीपर नहीं दिखाई दे रहा है, जो धोनी को मात दे सके। विकेटकीपरों के सन्दर्भ में और खासतौर पर धोनी के बारे में प्रसाद ने कहा कि हम भारत ए के दौरे से कुछ विकेटकीपरों को तैयार कर रहे हैं। धोनी अब भी विश्व के नंबर एक विकेटकीपर हैं। इससे ऋषभ पंत और संजू सैमसन जैसे युवा विकेटकीपरों को झटका लग सकता है जो धोनी की जगह लेने की उम्मीद कर रहे थे।

अश्विन और जडेजा का सफर खत्म नहीं
सीमित ओवरों की सीरीज से भारतीय टीम से बाहर चल रहे ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और लेफ्ट आर्म स्पिनर रविंद्र जडेजा के वनडे और टी-20 का सफर अभी समाप्त नहीं हुआ है। यह बात राष्ट्रीय चयन समिति प्रमुख एमएसके ने दोनों को दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए चुनी गयी वनडे टीम से भी बाहर रखने के बाद कही। अश्विन और जडेजा को श्रीलंका दौरे में वनडे सीरीज और एकमात्र टी-20 मैच के लिए नहीं चुना गया था। उसके बाद से उन्हें ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैण्ड और श्रीलंका के खिलाफ भी सीमित ओवरों की सीरीज में मौका नहीं मिला और अब दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए भी उन पर विचार नहीं किया गया। उन्होंने कहा क‌ि वे नये खिलाड़ियों चहल और कुलदीप को ज्यादा आजमाना चाहते हैं। इसके साथ ही हम अक्षर को भी लगातार मौका दे रहे हैं। हम स्पिन विभाग में बेंच ताकत बढ़ाना चाहते हैं।

26 वर्ष उम्र वालों पर भारी हैं धोनीः शास्‍त्री

भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री का मानना है कि महेंद्र सिंह धोनी भारतीय वनडे टीम का फिलहाल अभिन्न हिस्सा है और अपने से 10 साल जूनियर खिलाड़ियों से अधिक फिट और चुस्त हैं। उन्होंने यह भी कहा कि धोनी में खामियां तलाशने की बजाय आलोचकों को अपने करियर का विश्लेषण करना चाहिये। पिछले कुछ अर्से में धोनी की बतौर बल्लेबाज काफी आलोचना हुई है हालांकि उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में उम्दा प्रदर्शन करके अपने आलोचकों को खामोश किया। उन्होंने कहा कि इस उम्र में भी धोनी 26 साल के खिलाड़ियों पर भारी है। जो लोग आलोचना कर रहे हैं, वे भूल गए हैं कि उन्होंने भी क्रिकेट खेला है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

रामपाल को झटका, हाईकोर्ट ने खारिज की जेल बदलने की मांग

चंडीगढ़ः हरियाणा के हिसार सेंट्रर जेल में बंद कथित संत रामपाल की जेल बदलने की मांग को पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है। कोर्ट ने हरियाणा सरकार का पक्ष सुनने के बाद रामपाल की याचिका को खारिज कर [Read more...]

मैदान पर हुई एक और क्रिकेटर की मौत

कोलकाताः एक बार फिर क्रिकेट के मैदान पर बड़ा हादसा हुआ जिसमें एक खिलाड़ी की मौत हो गई। ये घटना कोलकाता में घटी जहां बालीगंज स्पोर्टिंग क्लब की तरफ से बल्लेबाजी करते हुए सेकेंड डीविजन क्रिकेटर सोनू यादव की मौत [Read more...]

मुख्य समाचार

नाका चेकिंग के दौरान विस्फोटक बरामद

कोतुलपुर इलाके में बम से भरे बैग के साथ 1 गिरफ्तार [Read more...]

देव उतरे मैदान में, शुरू किया जोरदार चुनावी प्रचार

सन्मार्ग संवाददाता खड़गपुर : पश्चिम मिदनापुर जिले के घाटाल लोकसभा केंद्र से दोबारा खड़े तृणमूल प्रार्थी दीपक अधिकारी उर्फ देव चुनावी मैदान में पूरे जोश के साथ उतर गये हैं। बुधवार को डेबरा इलाके में उनकी उपस्थिति [Read more...]

ऊपर