हॉकी इंडिया की कप्तान रानी खेल रत्न और वंदना, मोनिका, हरमनप्रीत अर्जुन के लिए नामित

नयी दिल्ली : हॉकी इंडिया ने भारतीय महिला टीम की कप्तान रानी का नाम देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न तथा वंदना कटारिया, मोनिका और हरमनप्रीत सिंह का नाम अर्जुन पुरस्कार के लिए केंद्रीय खेल मंत्रालय को भेजा है। हॉकी इंडिया ने मंगलवार को यह घोषणा की। हॉकी इंडिया ने लाइफटाइम अचीवमेंट के ध्यानचंद अवार्ड के लिए पूर्व भारतीय खिलाड़ी डॉ आरपी सिंह और तुषार खांडेकर तथा द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए कोच बीजे करियप्पा और रोमेश पठानिया का नाम खेल मंत्रालय को भेजा है। हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने सभी खिलाड़ियों और कोचों को राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों के लिए अपनी शुभकामनाएं दी हैं।
ई-मेल के जरिए किये गये नामांकन आमंत्रित
केंद्रीय खेल मंत्रालय ने इस साल के राष्ट्रीय खेल अवॉर्ड के लिए ई-मेल के जरिए नामांकन आमंत्रित किये थे। राष्ट्रीय खेल अवॉर्ड के नामांकन की शुरुआत अप्रैल में होनी थी लेकिन कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए इसे मई तक बढ़ा दिया गया था। नामांकन भेजने की अंतिम तारीख तीन जून है। इस वर्ष खेल रत्न और अर्जुन अवॉर्ड के लिए जनवरी 2016 से दिसंबर 2019 तक के प्रदर्शन को ध्यान में रखा जाएगा। इस अवधि के दौरान रानी ने अपनी अगुवाई में भारतीय महिला टीम को उल्लेखनीय सफलताएं दिलायीं जिसमें 2017 महिला एशिया कप में खिताबी जीत, 2018 एशियाई खेलों में रजत पदक और 2019 में टोक्यो ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई करना शामिल है।
इसलिए रानी का नाम भेजा गया खेल रत्न के लिए
भारत ने अमेरिका को ओडिशा के भुवनेश्वर में हराकर टोक्यो ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई किया था। भारत की जीत में कप्तान रानी ने निर्णायक गोल दागा था।ओलम्पिक इस साल 24 जुलाई से होने थे लेकिन कोरोना वायरस के कारण ओलम्पिक को अगले साल जुलाई तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। भारतीय महिला टीम ने इस अवधि के दौरान एफआईएच विश्व रैंकिंग में अपना सर्वश्रेष्ठ नौंवां स्थान हासिल किया। रानी को वर्ष 2019 के लिए वर्ल्ड गेम्स एथलीट ऑ़फ द ईयर चुना गया और यह उपलब्धि हासिल करने वाली वह पहली भारतीय हैं। रानी को 2016 में अर्जुन पुरस्कार और 2020 में पद्मश्री सम्मान मिल चुका है।
इसलिए वंदना, मोनिका और हरमनप्रीत का नाम भेजा गया अर्जुन पुरस्कार के लिए
स्ट्राइकर वंदना अपने 200 अंतर्राष्ट्रीय मैच और मोनिका 150 अंतर्राष्ट्रीय मैच पूरे कर चुकी हैं। दोनों के नाम की अर्जुन पुरस्कार के लिए सिफारिश की गयी है। दोनों खिलाड़ियों की हिरोशिमा में 2019 एफआईएच सीरीज फाइनल्स, टोक्यो 2020 ओलंपिक्स टेस्ट इवेंट और भुवनेश्वर में ओलम्पिक क्वालीफायर में भारत की सफलता में प्रमुख भूमिका रही। भारतीय पुरुष टीम के ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत ने टीम में उपकप्तान की भूमिका को बखूबी निभाया है। ओडिशा में एफआईएच सीरीज फाइनल्स जीतने में उनकी प्रमुख भूमिका रही थी। टोक्यो 2020 ओलंपिक्स टेस्ट इवेंट में कप्तान मनप्रीत सिंह की अनुपस्थिति में हरमन ने कप्तानी संभाली थी और टीम को जीत दिलाई थी। हरमन रूस के खिलाफ ओलम्पिक क्वालीफायर जीतने वाली टीम का हिस्सा थे। पूर्व भारतीय खिलाड़ी डॉ आरपी सिंह और तुषार खांडेकर का नाम ध्यानचंद पुरस्कार के लिए भेजा गया है। द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए कोच बीजे करियप्पा और रोमेश पठानिया का नाम भेजा गया है। करियप्पा के मार्गदर्शन में भारतीय जूनियर टीम ने 2019 में सुलतान जोहोर कप में रजत पदक जीता था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मोबाइल फोन से चीनी ऐप डिलीट करने पर मुफ्त में दिया जा रहा मास्क

बहराइच (उप्र) : चीन और भारत की आपसी तनातनी के बीच बहराइच की भाजपा विधायक और पूर्व मंत्री अनुपमा जायसवाल ने लोगों के मोबाइल फोन आगे पढ़ें »

मैं गरीबों की मदद कर रहा था, इमरान के मंत्री छुट्टियां मना रहे थे : अफरीदी

इस्‍लामाबाद : शाहिद अफरीदी ने इशारों में इमरान खान सरकार पर निशाना साधा। अफरीदी के मुताबिक, इमरान सरकार में एकता की कमी है और ये आगे पढ़ें »

ऊपर