‘हितों के टकराव’ मामले में द्रविड़ को क्‍लीनचिट 

 मुंबई : प्रशासकों की समिति ने मंगलवार को स्पष्ट किया कि राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के क्रिकेट प्रमुख के रूप में राहुल द्रविड़ की नियुक्ति में ‘हितों के टकराव’ का कोई मसला नहीं है। लेफ्टिनेंट जनरल रवि थोडगे ने कहा कि गेंद अब बीसीसीआई के लोकपाल सह आचरण अधिकारी डी के जैन के पाले में है। थोडगे ने कहा,‘‘राहुल के मामले में हितों का टकराव नहीं है। उसे नोटिस मिला था और हमने उसकी नियुक्ति को मंजूरी दी थी। हमें हितों का टकराव नहीं दिखा लेकिन अगर लोकपाल को लगता है तो हम उन्हें अपना पक्ष स्पष्ट करेंगे।’’ उन्होंने कहा,‘‘ उसके बाद वह इस पर गौर करेंगे। यह एक प्रक्रिया है जो जारी रहेगी।’’
भारतीय क्रिकेट के सबसे सम्मानित व्यक्तियों में से एक द्रविड़ पर एनसीए में नियुक्ति के बाद हितों के टकराव का आरोप लगा था चूंकि वह इंडिया सीमेंट्स के कर्मचारी है जो चेन्नई सुपर किंग्स टीम की मालिक है। द्रविड़ ने अपना जवाब जैन को भेज दिया है लेकिन अभी यह पता नहीं चला है कि उन्होंने पद से इस्तीफा दिया है या नहीं। सीओए ने उनकी नियुक्ति के समय स्पष्ट किया था कि द्रविड़ को इंडिया सीमेंट्स के उपाध्यक्ष का पद छोड़ना होगा या कार्यकाल पूरा होने तक छुट्टी पर रहना होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

झारखंड चुनाव : नजर और नजरिया

झारखंड में प्रथम चरण चुनाव में 206 उम्मीदवार मैदान में रांची : झारखंड में 30 नवंबर को प्रथम चरण की तेरह विधानसभा सीटों पर होने वाले आगे पढ़ें »

Vladimir Putin

एस-400 मिसाइल सिस्टम तय समय पर मिलेगा भारत को- पुतिन

ब्राजीलिया : दुनिया की सबसे शक्तिशाली एस-400 मिसाइल प्रणाली भारत को तय समय पर मिलने की उम्मीद है। इस डील के खिलाफ अमेरिका ने भारत को आगे पढ़ें »

ऊपर