वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज जीतने के बावजूद मुझे कप्तानी से हटाया गया : गावसकर

मुंबई : दिग्गज बल्लेबाजों में शुमार भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावसकर ने कहा है कि उन्हें आज तक समझ नहीं आया कि 1978-79 में घर में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने के बाद भी कप्तानी से क्यों हटा दिया गया था। इस सीरीज में उन्होंने 700 से ज्यादा रन भी बनाए थे। भारत ने छह मैचों की सीरीज 1-0 से जीती थी। इस सीरीज के बाद गावसकर के स्थान पर एस. वेंकटराघवन को टीम का कप्तान बनाया गया था। गावसकर ने कहा कि, ‘वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज जीतने के बाद भी मुझे कप्तानी से हटा दिया गया था जबकि इस सीरीज में मैंने 700 से ज्यादा रन बनाए थे। मुझे अभी तक इसका कारण नहीं पता।’… लेकिन शायद मैं उस समय कैरी पैकर वर्ल्ड सीरीज क्रिकेट से जुड़ने को तैयार था। इसलिए शायद हटा दिया गया हो। चयन से पहले मैंने बीसीसीआई के साथ करार किया और बताया कि मैं किसके लिए वफादार हूं।’ 70 साल के गावसकर ने बताया कि उन्होंने किस तरह बिशन सिंह बेदी को टीम में रखने के लिए चयनकर्ताओं को मनाया। गावसकर ने कहा कि वह अभी भी देश में बाएं हाथ के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर हैं और इसलिए उन्होंने पहले टेस्ट मैच में उन्हें मौका दिया।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

ढूंढने से भी पीसीबी को नहीं मिल रहे हैं प्रायोजक, शाहिद अफरीदी फाउंडेशन का लोगो लगाकर खेलेगी पाक टीम

कराची : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) राष्ट्रीय टीम के लिए मुख्य प्रायोजक ढूंढने के लिए जूझ रहा है और ऐसे में इंग्लैंड के खिलाफ आगामी आगे पढ़ें »

बिकरू कांड : गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी और बेटा भी गिरफ्तार

लखनऊ : कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी विकास दुबे की गुरुवार को मध्य प्रदेश के उज्जैन आगे पढ़ें »

ऊपर