विश्व क्रिकेट में अभी कोई भी स्टोक्स के करीब नहीं : गंभीर

नयी दिल्ली : भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कहा कि विश्व क्रिकेट में कोई भी खिलाड़ी इंग्लैंड के हरफनमौला बेन स्टोक्स के करीब नहीं है। इंग्लैंड को विश्व चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले स्टोक्स ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में 176 रन की शानदार पारी खेल कर अपनी टीम को जीत दिलायी। उन्होंने इस टेस्ट सीरीज के शुरुआती दो मैचों में 313 रन बनाने के साथ नौ विकेट भी लिये हैं। गंभीर ने कहा, ‘‘ आप इस समय किसी भारतीय क्रिकेटर से बेन स्टोक्स की तुलना नहीं कर सकते हैं। बिल्कुल भी नहीं, क्योंकि बेन स्टोक्स शानदार लय में हैं।’’ गंभीर ने कहा, ‘‘ उन्होंने टेस्ट क्रिकेट, एक दिवसीय क्रिकेट और टी20 क्रिकेट में जैसा प्रदर्शन किया है वैसा भारत तो छोड़िये, इस समय विश्व क्रिकेट में उनके करीब कोई भी नहीं है। ’’ इस 38 साल के पूर्व खिलाड़ी ने कहा कि स्टोक्स ऐसे खिलाड़ी है जिन्हें कोई भी कप्तान अपनी टीम में रखना चाहेगा। भारत के लिए 58 टेस्ट खेलने वाले गंभीर ने कहा, ‘‘ वह मैच में प्रभाव छोड़ने वाले ऐसे खिलाड़ी हैं जिसकी जरूरत हर टीम को होती है। किसी भी कप्तान का सपना होगा कि उसकी टीम में स्टोक्स की तरह का खिलाड़ी हो। उनकी बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण सब कुछ शानदार है।’’ जो रूट की गैरमौजूदगी में स्टोक्स के नेतृत्व में इंग्लैंड को पहले टेस्ट में हार का सामना करना पड़ा था। स्टोक्स के नेतृत्व गुणों के बारे में बात करते हुए गंभीर ने कहा, ‘‘वह अपनी क्षमता के हिसाब से एक कप्तान ही है। आपको कप्तान होने के लिए कप्तान कहलाने की आवश्यकता नहीं है। आप अपने प्रदर्शन से नेतृत्व करने वाला बन सकते हैं।’’ गंभीर ने कहा, ‘‘ ऐसे में मुझे लगता है कि बहुत सारे खिलाड़ी वास्तव में बेन स्टोक्स से प्रेरणा ले रहे होंगे, लेकिन दुर्भाग्य से, विश्व क्रिकेट में उनकी तरह इस समय कोई नहीं है।’’

शेयर करें

मुख्य समाचार

सेरेना विलियम्स फिट, छह महीने के ब्रेक के बाद खेलने को तैयार

लेक्सिंगटन (अमेरिका) : अमेरिका की 23 बार की ग्रैंडस्लैम चैम्पियन सेरेना विलियम्स अब पूरी तरह फिट हैं और छह महीने के ब्रेक के बाद टेनिस आगे पढ़ें »

लंबा नहीं चलेगा जसप्रीत बुमराह का करियर : शोएब अख्तर

इस्‍लामाबाद : पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का कहना है कि जसप्रीत बुमराह प्रतिभावान गेंदबाज हैं, लेकिन अपने मुश्किल गेंदबाजी एक्शन के कारण आगे पढ़ें »

ऊपर