वाडेकर को बीसीसीआई और टीम इंडिया ने दी श्रद्धांजलि

नयी दिल्‍ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और इंग्लैंड दौरे पर गयी टीम इंडिया ने पूर्व भारतीय कप्तान अजित वाडेकर के निधन पर गहरा शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों ने ट्रेंट ब्रिज में अपने अभ्यास सत्र से पहले दो मिनट का मौन रख दिवंगत कप्तान को अपनी श्रद्धांजलि दी। भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट शनिवार से ट्रेंट ब्रिज में खेला जाना है। वाडेकर ने अपनी कप्तानी में भारत को पहली बार इंग्लैंड की धरती पर 1971 में टेस्ट सीरीज में जीत दिलाई थी। उनकी कप्तानी में उसी साल भारत ने वेस्ट इंडीज में भी टेस्ट सीरीज जीतने का इतिहास बनाया था।
बीसीसीआई के सचिव अमिताभ चौधरी ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि, वाडेकर के जाने से भारतीय क्रिकेट में जो सूनापन पैदा हो गया है जिसे भरना बहुत मुश्किल होगा। वाडेकर ने पहले एक बल्लेबाज और फिर कप्तान के रूप में भारतीय क्रिकेट को नई दिशा दी। उन्होंने कोच, मैनेजर और चयन समिति के अध्यक्ष के रूप में भी शानदार काम किया। बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी ने कहा कि, उन्हें भारतीय क्रिकेट के पुरोधा के रूप में हमेशा याद रखा जाएगा। इंग्लैंड और वेस्ट इंडीज दो काफी मजबूत टीमें थीं और उन्हें उनकी धरती में हराना लगभग नामुमकिन था। लेकिन वाडेकर ने यह करिश्मा कर दिखाया। बाएं हाथ के इस बेहतरीन बल्लेबाज ने अपना टेस्ट पदार्पण मुंबई में 13 दिसम्बर 1966 को वेस्ट इंडीज के खिलाफ किया था। उन्होंने 37 टेस्टों में 31.07 के औसत से 2113 रन बनाये थे जिनमें एक शतक और 14 अर्धशतक शामिल थे। उनका सर्वाधिक स्कोर 143 रन था। वाडेकर ने 237 प्रथम श्रेणी मैचों में 15380 रन बनाये थे जिनमें 36 शतक और 84 अर्धशतक शामिल थे। प्रथम श्रेणी में उनका सर्वाधिक स्कोर 323 रन था। वाडेकर का शुमार देश के बेहतरीन कप्तानों में होता है। वाडेकर ने 16 टेस्टों में भारत की कप्तानी की थी जिनमें उन्होंने चार जीते, चार हारे और आठ ड्रा खेले। सरकार ने वाडेकर को अर्जुन अवार्ड (1967) और पद्मश्री (1972) से सम्मानित किया था। बीसीसीआई ने 2011 में वाडेकर को सीके नायुडू लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया था।

मुख्य समाचार

कृषि क्षेत्र में विकास के लिए केंद्र और राज्यों को मिलकर करना होगा काम

नई दिल्ली: केंद्र सरकार को कृषि क्षेत्र में सुधार के साथ राज्यों को वित्त आयोग द्वारा किए गए अनुदान और आवंटन को जोड़ना चाहिए। यह आगे पढ़ें »

2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन 51 फीसदी बढ़ी, कुल डिजिटल ट्रांजेक्शन 3,133.58 करोड़ के पार पहुंचा

नई दिल्ली : देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन तेजी से बढ़ रहा है। वर्ष 2018-19 में डिजिटल ट्रांजेक्शन पिछले साल की तुलना में 51 फीसदी बढ़ी आगे पढ़ें »

निजी क्षेत्र और उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार तेज करना चाहती है सरकार

नई दिल्ली : केंद्र सरकार निजी क्षेत्र और निजी उपक्रमों को बढ़ावा देकर आर्थिक वृद्धि की रफ्तार बढ़ाने पर जोर दे रही है। इस बारे आगे पढ़ें »

सिंधू का दमदार प्रदर्शन, इंडोनेशिया ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंची

जकार्ता : भारत की चोटी की शटलर पीवी सिंधू ने डेनमार्क की मिया बिलिचफेल्ट के खिलाफ तीन गेम तक चले संघर्षपूर्ण मैच में जीत दर्ज आगे पढ़ें »

fire in an animation studio in japan, 24 dead

एनिमेशन स्टूडियो में लगायी आग, 24 जिंदा जले

टोक्यो : जापान के क्योटो शहर में गुरुवार सुबह एक एनिमेशन स्टूडियो में आग लगने से 24 लोग जिंदा जल गए जबकि 35 से अधिक आगे पढ़ें »

ऐसे उठा सकते हैं एनपीएस में छुट का लाभ

नई दिल्ली : नेशनल पेंशन योजना (एनपीएस) ने ईपीएफओ से कहीं ज्यादा रिटर्न दिया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बीते 10 साल में केंद्रीय और आगे पढ़ें »

teachers enclosing legislative assembly lathi charged by the police

विधानसभा का घेराव करने पहुंचे शिक्षकों पर पुलिस ने किया लाठीजार्च

पटना : वेतनमान समेत सात सूत्रीय मांगों को लेकर गुरुवार को राजधानी पटना में विधानसभा का घेराव करने पहुंचे नियोजित शिक्षकों पर पुलिस ने जमकर आगे पढ़ें »

Government told - cases of rape are increasing in trains

सरकार ने बताया – ट्रेनों मे लगातार बढ़ रहे है दुष्कर्म के मामले

नई दिल्ली : देश की सड़कों-गलियों में तो बहू-बेटियां सुरक्षित थी ही नहीं, अब यात्रा के लिए सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली ट्रेनों में भी आगे पढ़ें »

हिरवानी होंगे भारतीय महिला टीम के स्पिन सलाहकार

नयी दिल्ली : भारत के पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर और राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के स्पिन कोच नरेंद्र हिरवानी देश की महिला टीम के साथ सलाहकार के आगे पढ़ें »

In the hospital the bed was reduced, the collector made the bungalow 'hospital'

अस्पताल में बिस्तर कम पड़ गए, कलेक्टर ने बंगले को बना दिया ‘अस्पताल’

सीधी : मध्यप्रदेश के सीधी जिले के कलेक्टर ने वह काम कर दिखाया जो न केवल मानवता की मिसाल है बल्कि एक नजीर भी है। आगे पढ़ें »

ऊपर