राजस्थान ने पंजाब को 7 विकेट से हराया, राजस्थान अब भी प्ले ऑफ की रेस में

अबुधाबी : बेन स्टोक्स की अगुआई में शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के उम्दा प्रदर्शन की बदौलत राजस्थान रॉयल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग में शुक्रवार को यहां किंग्स इलेवन पंजाब को सात विकेट से हराकर लगातार पांच जीत के उसके क्रम को तोड़ दिया और प्ले आफ जगह बनाने की अपनी उम्मीदों को जीवंत रखा।
स्टोक्स-सैमसन की शानदार पारी
किंग्स इलेवन पंजाब के 186 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए रॉयल्स ने बेन स्टोक्स (50), संजू सैमसन (48), कप्तान स्टीव स्मिथ (नाबाद 31) और और रोबिन उथप्पा (30) की पारियों की बदौलत 17.3 ओवर में तीन विकेट पर 186 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। जोस बटलर भी 11 गेंद में 22 रन बनाकर नाबाद रहे।
शतक से चूके गेल
इस जीत से रॉयल्स के 13 मैचों में 12 अंक हो गए हैं। पंजाब की टीम के भी इतने ही मैचों में इतने ही अंक हैं। पंजाब की टीम हालांकि बेहतर नेट रन रेट के कारण चौथे जबकि रॉयल्स पांचवें स्थान पर है। इससे पहले गेल ने दो जीवनदान का फायदा उठाते हुए 63 गेंद में आठ छक्कों और छह चौकों से 99 रन की पारी खेलने के अलावा राहुल (46) के साथ दूसरे विकेट के लिए 120 रन की साझेदारी की जिससे पंजाब की टीम ने चार विकेट पर 185 रन बनाए। निकोलस पूरन ने 10 गेंद में 22 रन की उपयोगी पारी खेली।
कार्तिक-वरूण आरोन रहे काफी महंगे
जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स ने रॉयल्स की ओर से क्रमश: 26 और 32 रन देकर दो-दो विकेट चटकाए। कार्तिक त्यागी और वरूण आरोन काफी महंगे साबित हुए। दोनों ने चार ओवर में 47-47 रन लुटाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरे रॉयल्स को स्टोक्स और उथप्पा ने पहले विकेट के लिए 60 रन जोड़कर तेज शुरुआत दिलाई। स्टोक्स ने अर्शदीप पर पारी का पहला चौका जड़ने के बाद इस तेज गेंदबाज पर दो और चौके मारे। उथप्पा ने मोहम्मद शमी पर छक्का जड़ा।
स्टोक्स ने 24 गेंद में अर्धशतक लगाया
स्टोक्स ने लेग स्पिनर मुरुगन अश्विन का स्वागत लगातार गेंदों पर चौके और दो छक्कों के साथ किया। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने क्रिस जोर्डन की पहली ही गेंद को लांग आफ पर छह रन के लिए भेजकर सिर्फ 24 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। वह हालांकि एक गेंद बाद मिड आफ पर दीपक हुड्डा को आसान कैच दे बैठे। स्टोक्स ने 26 गेंद की अपनी पारी में तीन छक्के और छह चौके मारे। रॉयल्स ने पावर प्ले में एक विकेट पर 66 रन बनाए।
उथप्पा को पूरन ने लपका
संजू सैमसन आते ही लय में दिखे। उन्होंने जोर्डन पर चौका जड़ने के बाद अर्शदीप पर छक्का मारा। सैमसन ने रवि बिश्नोई पर छक्के के साथ 10वें ओवर में टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया। उथप्पा ने भी तेवर दिखाते हुए अश्विन पर अपना दूसरा छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में बाउंड्री पर पूरन को कैच दे बैठे। उन्होंने 23 गेंद का सामना करते हुए दो छक्के और एक चौका मारा। बटलर ने जोर्डन पर छक्का जड़ा और फिर इस तेज गेंदबाज ने वाइड गेंद फेंककर जीत रॉयल्स की झोली में डाल दी।
इससे पहले स्मिथ ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद आर्चर ने पहले ओवर में ही मनदीप सिंह (00) को स्टोक्स के हाथों कैच कराके टीम को शानदार शुरुआत दिलाई।
पराग ने गेल का कैच टपकाया
गेल ने आरोन पर चौका और फिर उनके अगले ओवर में छक्का जड़ा। वह हालांकि अगली गेंद पर भाग्यशाली रहे जब गेंद को हवा में लहरा गए लेकिन बाउंड्री पर रियान पराग ने कैच टपका दिया। गेल ने त्यागी का स्वागत लगातार दो चौकों और एक छक्के के साथ किया। राहुल ने भी धीमी शुरुआत के बाद आरोन पर छक्का और चौका जड़ा। टीम ने पावर प्ले में एक विकेट पर 53 रन बनाए।
पंजाब ने 10 ओवर में 81 रन बनाये
पंजाब के बल्लेबाजों ने बीच के ओवरों में भी रन गति को बरकरार रखा। स्मिथ ने लगातार गेंदबाजी में बदलाव किया लेकिन सफलता नहीं मिली। किंग्स इलेवन पंजाब ने 10 ओवर में एक विकेट पर 81 रन बनाए। गेल ने राहुल तेवतिया पर छक्के के साथ 33 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। गेल हालांकि इसी ओवर में गेंद को हवा में लहरा गए लेकिन तेवतिया अपनी गेंद पर मुश्किल कैच लपकने में नाकाम रहे। राहुल इसके बाद स्टोक्स की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में तेवतिया को कैच देकर पवेलियन लौटे। उन्होंने 41 गेंद की अपनी पारी के दौरान तीन चौके और दो छक्के मारे। पूरन ने आरोन पर दो छक्कों के साथ अपनी पारी का आगाज किया। गेल ने 18वें ओवर में स्टोक्स पर चौका और छक्का जड़ा लेकिन इसी ओवर में पूरन का बाउंड्री पर तेवतिया ने कैच लपका।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पहले टी-20 में भारत 11 रन से जीता

कैनबराः भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 टी-20 की सीरीज के पहले मैच में 11 रन से हरा दिया। टीम इंडिया पिछले 10 टी-20 मैच से आगे पढ़ें »

भारत में न्यूनतम मजदूरी पड़ोसी देशों से भी कम

नई दिल्ली : इंटरनेशनल लेबर आर्गनाइजेशन (आईएलओ) की नई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि भारत के मजदूरों पर कोरोना माहामारी और लॉकडाउन की आगे पढ़ें »

ऊपर