मैच फिक्सिंग माफी लायक जुर्म नहीं, फिक्सर को फांसी दे देनी चाहिए : जावेद मियांदाद

इस्‍लामाबाद : पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने क्रिकेट में स्पॉट फिक्सिंग करने वालों को फांसी की सजा देने की बात कही है। उन्होंने कहा, ‘‘स्पॉट फिक्सिंग में लिप्त खिलाड़ियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। जैसे किसी की हत्या करना गंभीर अपराध है, वैसे ही मैच फिक्सिंग भी माफी लायक जुर्म नहीं है। स्पॉट फिक्सिंग करने वालों को फांसी दे दी जानी चाहिए। उन्हें दोबारा क्रिकेट खेलने का अधिकार नहीं देना चाहिए। मियांदाद ने कहा, ‘‘स्पॉट-फिक्सर को फांसी देकर एक उदाहरण स्थापित किया जाना चाहिए ताकि कोई भी खिलाड़ी फिर ऐसा गलत करने के बारे में न सोचे। ये बातें हमारे धर्म की शिक्षाओं के खिलाफ हैं। हम सभी को उसी के अनुसार व्यवहार करना चाहिए। जावेद मियांदाद ने कहा कि पीसीबी (पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड) उन्हें माफ करके सही नहीं कर रहा है। स्पॉट-फिक्सर को वापस लाने वालों को खुद पर शर्म आनी चाहिए।’’ ‘इस पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने कहा कि, ‘जो खिलाड़ी स्पॉट फिक्सिंग कर सकते हैं, वे अपने माता-पिता और परिवार के प्रति ईमानदार नहीं होते हैं। यदि वे ईमानदार होते तो ऐसा गलत काम कभी नहीं करते। ऐसे लोग इंसानियत के भी दुश्मन होते हैं, जिन्हें जीने का हक नहीं होता। यह खिलाड़ी पैसा कमाने के लिए भ्रष्टाचार में शामिल होते हैं। बाहर होने के बाद ये अपने कनेक्शन का इस्तेमाल कर फिर टीम में आ जाते हैं।’’

शेयर करें

मुख्य समाचार

बॉयकॉट ने बीबीसी की स्पेशल टेस्ट कॉमेंट्री टीम छोड़ी

लंदन : इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जैफरी बॉयकॉट ने कोरोना की वजह से बीबीसी की स्पेशल टेस्ट कॉमेंट्री टीम छोड़ दी है। वे 14 साल आगे पढ़ें »

एशिया कप में खेलना सपने सच होने जैसा : कप्तान आशा लता

नयी दिल्ली : भारतीय महिला फुटबॉल टीम के सदस्य घरेलू दर्शकों के सामने एएफसी महिला एशिया कप 2022 फाइनल्स की संभावनाओं से खुश हैं और आगे पढ़ें »

ऊपर