मैं लड़की के साथ ही घर बसाऊंगी : दुती चंद

‘मेरा खेल मेरी प्राथमिकता, भविष्य में अपनी पार्टनर के साथ घर बसाना है’
धारा 377 पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से मिली ताकत
हैदराबादः
भारत की स्टार धाविका दुती चंद देश की पहली ऐसी ऐथलीट हैं, जिन्होंने यह स्वीकार किया है कि वह एक लड़की के साथ रिश्ते में हैं। दुती ने एक अखबार को दिए साक्षात्कार में यह खुलासा किया। इन दिनों हैदराबाद में वर्ल्ड ऐथलेटिक चैंपियनशिप के लिए तैयारी कर रहीं दुती ने हमसे इस मुद्दे पर खुलकर बात की और बताया कि इस ओलिंपियन ने आखिर किस वजह के चलते अपने संबंधों को दुनिया के सामने उजागर किया और उन्हें अपने घर से धमकियां मिल रही हैं, जिनके कोई मायने नहीं हैं।
ओलिंपिक खेलों की 100 मीटर तेज दौड़ स्पर्धा में भाग लेने वाली दुती पीटी उषा के बाद पहली भारतीय हैं। वह एशियाई खेलों में 100 मीटर और 200 मीटर दौड़ में मेडल जीत चुकी हैं। उनका कहना है कि धारा 377 पर पिछले साल सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए फैसले से उन्हें ताकत मिली है। उन्होंने कहा ‘सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला हमारे लिए ताजा हवा का अहसास जैसा है। इस फैसले ने हमारी उस बात का समर्थन किया है, जो हम पहले से कहते थे। हम किससे प्यार करते हैं और किसके साथ रहते हैं सिर्फ इसके चलते हमें जज करने की जरूरत किसी को नहीं है। यह बेहद निजी चुनाव है। मैं किसी को भी दुख नहीं पहुंचा रही। इस फैसले के बाद हम सार्वजनिक तौर पर खुद को सशक्त समझते हैं। हम समझते हैं कि दुनिया हमें जाने यह बताने के लिए सही समय है।’
पार्टनर का नाम सार्वजनिक नहीं करना चाहती
हालांकि दुती ने यहां यह भी स्पष्ट कर दिया कि वह अपनी पार्टनर का नाम सार्वजनिक नहीं करना चाहती हैं। उन्होंने कहा ‘वह अभी सार्वजनिक रूप से दुनिया के सामने नहीं आना चाहती। मैं उसकी चाहत का सम्मान करती हूं। मैं इस चकाचौंध की आदी हूं लेकिन वह अभी नहीं है और मैं ऐसा नहीं चाहती कि इससे वह परेशान हो।’
अपनी पार्टनर के बारे में उन्होंने बताया ‘वह 19 साल की हैं और अभी भुवनेश्वर यूनिवर्सिटी में पढ़ रही हैं और वह पिछले 5 सालों से एक-दूसरे को जानती हैं। हम इसलिए मिले क्योंकि वह भी मेरी ही तरह स्पोर्ट्सपर्सन बनना चाहती थी और वह मुझसे सलाह और मार्गदर्शन लेने के लिए मिली। समय के साथ-साथ हम एक-दूसरे के करीब आ गए। वह मेरे लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण हैं।’
धमकियों से फर्क नहीं पड़ता
इस खुलासे के बाद ऐसी भी रिपोर्ट्स आई कि उन्हें अपने परिवार से धमकियां मिल रही हैं लेकिन इस ऐथलीट ने कहा उन्हें इन धमकियों से फर्क नहीं पड़ता। दुती ने कहा ‘मेरी बड़ी बहन ने धमकी दी है कि वह मुझे घर से निकाल देगी। उसने यही मेरे भाई के साथ किया था क्योंकि वह मेरे भाई की पत्नी को पसंद नहीं करती थी। लेकिन उनकी धमकियों से झुकने वाली नहीं हूं। मैं व्यस्क हूं और वह जो करना चाहे कर सकती हैं। लेकिन मैंने दो कारणों के चलते इसे सार्वजनिक किया है- इसमें कुछ भी गलत नहीं है और मुझे अपने फैसले पर कोई पछतावा नहीं है। मैं गर्व से कहती हूं कि मैं समानलिंग (सेम सेक्स) के साथ रिलेशनशिप में हूं।’
उदाहरण पेश करना चाहती हूं
भारत जैसे देश में जहां ज्यादातर लोग समाज के डर से लिंग को लेकर अपनी बाते सार्वजनिक तौर पर व्यक्त नहीं करते। यह समय है कि इस कुचक्र को तोड़ा जाए। वह कहती हैं ‘मैं एक खिलाड़ी हूं। बहुत सारे लोग मेरी ओर देखते हैं, तो मेरे ऊपर यह जिम्मेदारी है कि मैं समाज में उदाहरण पेश करूं। मैं मानती हूं कि लोग मेरे पदक और मेरी प्रदर्शन देखेंगे, जो मैंने देश के लिए हासिल किया है। लोग यह नहीं देखेंगे कि मैं मैदान से बाहर क्या करती हूं और मैं ऐसा ही करती रहूंगी।’
करियर पर रहेगा फोकस
अगले चार महीने में वर्ल्ड ऐथलेटिक्स चैंपियनशिप शुरू होगी और दुती इसी तैयारियों में व्यस्त हैं। जब उनसे पूछा गया कि मीडिया का ध्यान आप पर जाने से क्या आपकी ट्रेनिंग प्रभावित हो सकती है ? दुती ने इस पर कहा ‘यह बात लोगों के सामने तब आई, जब मैं यहां वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए तैयारियां कर रही हूं। ऐसा होने हमारे कोच नाराज थे लेकिन इससे हमारे फोकस में कोई कमी नहीं आई है।’ उन्होंने कहा, ‘मेरा फोकस हमेशा सबसे पहले मेरे करियर पर रहेगा और मैं देश के और मेडल जीतना चाहूंगी। हां भविष्य में मैं उसके (अपनी पार्टनर) के साथ सेटल होना चाहूंगी लेकिन यह सब अभी कुछ दूर है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

बेकाबू होता जा रहा है डेंगू, और 2 की मौत

अब तक 19 मरे, साढ़े 11 हजार लोग पीड़ित सन्मार्ग संवादाता कोलकाता : डेंगू का कहर दिन ब दिन बेकाबू होता जा रहा है। रविवार को डेंगू आगे पढ़ें »

mamata banerjee

आज केन्द्र सरकार के प्रतिष्ठानों के कर्मियों को सम्बोधित करेंगी ममता

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज सोमवार को नेताजी इंडोर स्टेडियम में केंद्र सरकार के प्रतिष्ठानों के कर्मचारियों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित करेंगी। इन आगे पढ़ें »

ऊपर