मास्टर ब्लास्टर सचिन को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं

मुंबई: क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का आज जन्मदिन है और वह 46 साल के हो गए हैं। 24 अप्रैल 1973 को मुंबई के शिवाजी पार्क राणाडे रोड स्थित निर्मल नर्सिंग होम में जन्में सचिन तेंदुलकर ने महज 16 वर्ष की उम्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था। उनके कभी न थकने वाले जज्बे ने उन्हें क्रिकेट के सफर में इतने कीर्तिमान रचने में मदद की कि उन्हें ‘क्रिकेट के भगवान’ का दर्जा दे दिया गया।

सचिन के क्रिकेट करियर से जुड़ी कुछ बातें
-महज 12 वर्ष की उम्र में अंडर-17 हैरिस शील्ड में अपने स्कूल की ओर से खेलते हुए शतक लगाया। 
-जब 14 साल के हुए तो विनोद कांबली के साथ 664 रनों की पार्टनरशिप की, जो उस समय वर्ल्ड रिकॉर्ड था।
-इन दिनों सचिन ने बिना आउट हुए 207, 329 और 346 के स्कोर बनाए। 
-15 वर्ष की उम्र में तत्कालीन बंबई के लिए फर्स्ट क्लास में डेब्यू करते हुए शतक जमाया।
-16 साल के हुए तो पाकिस्तान के खिलाफ कराची (1989) में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया।
-17 वर्ष की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला शतक जमाया और इंग्लैंड के खिलाफ 1990 का ओल्ड ट्रैफर्ड टेस्ट हार से बचा लिया।
– वर्ष 2000 में 50 अंतरराष्ट्रीय शतक बनानवाले वे पहले बल्लेबाज बने।
-2003 वर्ल्ड कप में 673 रन बनाए, जो वर्ल्ड कप के इतिहास में सर्वाधिक रनों का रिकॉर्ड बना।
-2008 में टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने के मामले में ब्रायन लारा को पीछे छोड़ा।
-2009 में 14,000 टेस्ट रन, 30,000 अंतरराष्ट्रीय रन और 90 अंतरराष्ट्रीय शतक पूरे कर लिये।
-36 साल के होने पर ऐसा कारनामा किया,जो वनडे इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ था।-वनडे इंटरनेशनल का पहला दोहरा शतक जमाया।-दिसंबर 2012 में वनडे से रिटायर होने से पहले सचिन ने 100 इंटनेशनल शतकों का अद्भुत रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया।
-नवंबर 2013 में उन्होंने अपने घरेलू मैदान वानखेडे़ स्टेडियम में 200 वां टेस्ट खेलकर क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

rajeev-kumar

राजीव पर शिकंजा कसने आ रहे हैं ‘स्पेशल 12’

सप्ताह भर के अंदर कार्रवाई होगी पूरी : सीबीआई सूत्र अलीपुर कोर्ट में कैविएट दायर किया राजीव कुमार ने सीबीआई जारी करा सकती है वारंट सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

मोदी से मिलीं ममता, बंगाल से जुड़े मसले पर हुई चर्चा

पीएम को बंगाल आने का दिया न्योता राज्य के नामकरण को लेकर हुई चर्चा एनआरसी के मुद्दे पर नहीं हुई बात सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता/नई दिल्ली : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आगे पढ़ें »

ऊपर