मनप्रीत को सर्वश्रेष्ठ हाकी खिलाड़ी का ताज, पुरस्कार जीतने वाले पहले भारतीय बने

लुसाने : राष्ट्रीय पुरुष हाकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह गुरुवार को अंतराष्ट्रीय हाकी महासंघ (एफआईएच) का साल का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार जीतने वाले पहले भारतीय बने जिससे उनके लिए 2019 सत्र यादगार रहा जहां उनकी अगुआई में टीम ने ओलंपिक में भी जगह बनाई। मिडफील्डर मनप्रीत इस तरह 1999 में पुरस्कार शुरू होने के बाद इसे जीतने वाले पहले भारतीय बने।
मनप्रीत ने इस पुरस्कार की दौड़ में बेल्जियम के आर्थर वान डोरेन और अर्जेन्टीना के लुकास विला को पछाड़ा जो क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे। राष्ट्रीय संघों, मीडिया, प्रशंसकों और खिलाड़ियों के संयुक्त मतों में मनप्रीत को 35.2 प्रतिशत मत मिले। वान डोरेन ने कुल 19.7 प्रतिशत जबकि विला ने 16.5 प्रतिशत मत हासिल किए। इस पुरस्कार के लिए बेल्जियम के विक्टर वेगनेज और आस्ट्रेलिया के एरन जालेवस्की और एडी ओकेनडेन को भी नामित किया गया था। लंदन 2012 और रियो ओलंपिक 2016 में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले 27 साल के मनप्रीत ने 2011 में सीनियर राष्ट्रीय टीम के लिए पदार्पण किया था। वह अब तक भारत की ओर से 260 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं।
पिछले सत्र के बारे में मनप्रीत ने कहा, ‘‘अगर आप साल में हमारे प्रदर्शन को देखें तो हमने जिस भी टूर्नामेंट में हिस्सा लिया उसमें अच्छा किया। यह जून में एफआईएच सीरीज फाइनल हो या बेल्जियम में टेस्ट श्रृंखला, जहां हम मेजबान और स्पेन के खिलाफ खेले और उन्हें हराया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘2019 में हमारा सबसे बड़ा लक्ष्य ओलंपिक में जगह बनाना था।’’ भारत ने दो ओलंपिक के ओलंपिक क्वालीफायर में रूस को 4-2 और 7-2 से हराकर यह लक्ष्य हासिल किया।
मनप्रीत ने कहा, ‘‘यह पुरस्कार जीतकर मैं बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं और मैं इसे अपनी टीम को समर्पित करना चाहता हूं। मैं अपने शुभचिंतकों और दुनियाभर के हाकी प्रशंसकों को धन्यवाद कहना चाहता हूं जिन्होंने मेरे पक्ष में मतदान किया। भारतीय हाकी के लिए इतना अधिक समर्थन शानदार है।’’

शेयर करें

मुख्य समाचार

पंचायत कार्यालय, बैंक व तृणमूल कार्यालय के सामने भारी संख्या में बम बरामद

बोलपुर (बीरभूम) : निगम चुनाव के पहले बीरभूम जिले के बोलपुर स्थित सियान मुलुक ग्राम में फिर ताजा बमों की बरामदगी से इलाके में हलचल आगे पढ़ें »

माध्यमिक में दूसरे दिन भी प्रश्नपत्र वायरल

- परीक्षा हॉल में ही छात्र बना रहा था प्रश्नपत्र का टिकटॉक, रंगे हाथ पकड़ाया सन्मार्ग संवाददाता मालदह/कोलकाता : माध्यामिक की परीक्षा के द्वितीय पेपर इंगलिश के आगे पढ़ें »

ऊपर