भारत-बांग्लादेश : डे-नाइट टेस्ट में कप्तानों को गुलाबी गेंद सौंपेंगे सेना के पैराट्रूपर

कोलकाता : सेना के पैराट्रूपर ईडन गार्डन्स में 22 नवंबर से यहां भारत और बांग्लादेश के बीच शुरू होने वाले ऐतिहासिक दिन रात्रि टेस्ट मैच में टॉस से तुरंत पहले दोनों टीमों के कप्तानों को गुलाबी गेंद सौंपेंगे। बंगाल क्रिकेट संघ के सचिव अभिषेक डालमिया ने कहा, ”पैराट्रूपर दो गुलाबी गेंद के साथ विकेट के ऊपर आयेंगे। हमने सेना (पूर्वी कमान) के साथ इस योजना की चर्चा की है।”सेना मैच शुरू होने से पहले दोनों देशों का राष्ट्रगान बजाएंगी। इसके बाद बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ईडन की घंटी बजायेंगी। तय कार्यक्रम के मुताबिक हसीना एक दिन के लिए आएंगी और घंटी बजाने के बाद कुछ देर मैच देखेंगी। इसके बाद वो 8 बजे फिर आएंगीं जब बंगाल क्रिकेट संघ उन्हें सम्मानित करेगा। हसन ने ये नहीं बताया कि ममता और हसीना साथ में मैच देखेंगी या नहीं लेकिन कैब अधिकारी ने संकेत दिया कि दोनों बी सी रॉय क्लब हाउस पर प्रेसिडेंट बॉक्स में साथ बैठ सकती हैं। कैब कई भारतीय खिलाड़ियों को इस मौके पर सम्मानित करेगा जिसमें महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर, ओलंपिक चैंपियन अभिनव बिंद्रा, टेनिस स्टार सानिया मिर्जा, विश्व बैडमिंटन चैंपियन पीवी सिंधू और एमसी मेरीकोम मौजूद हैं। यह भारत का पहला दिन-रात का टेस्ट मैच होगा। साथ ही यह भारत में खेला जाने वाला पहला दिन-रात का टेस्ट होगा। भारतीय टीम हालांकि इससे पहले दिन-रात के टेस्ट मैच को लेकर राजी नहीं थी। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने बीसीसीआई अध्यक्ष पद सम्भालने के बाद दिन-रात का टेस्ट खेलने को लेकर कप्तान विराट कोहली को मना लिया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर