बीसीसीआई परिवार को साथ ले जाने की मंजूरी नहीं देता है तो कोई दिक्कत नहीं : रहाणे

नयी दिल्ली : भारत के स्टार बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे चाहते हैं कि यूएई में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान उनकी पत्नी और बेटी मौजूद रहें लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण जोखिम को देखते हुए अगर भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) खिलाड़ियों के परिवारों को प्रतियोगिता से प्रतिबंधित करता है तो उन्हें कोई समस्या नहीं है। राजस्थान रायल्स की जगह आगामी सत्र में दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेलने वाले रहाणे ने कहा कि स्वास्थ्य शीर्ष प्राथमिकता होनी चाहिए। रहाणे ने कहा, ‘‘फिलहाल मुझे लगता है कि सबसे पहले स्वास्थ्य और फिर क्रिकेट बेहद महत्वपूर्ण है। हमने अपने परिवार के साथ चार-पांच महीने (लॉकडाउन के दौरान) बिताए।’’
रहाणे ने कहा कि खिलाड़ियों के साथ यूएई में परिवारों को आने की स्वीकृति देने का फैसला बीसीसीआई और फ्रेंचाइजी मालिकों को करना है। दिल्ली कैपिटल्स से जुड़ने वाले रहाणे ने कहा कि वह आगामी सत्र में दिल्ली के खिलाड़ियों और मुख्य कोच रिकी पोंटिंग के साथ काम करने को लेकर उत्सुक हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ पिछले साल जब मैं हैंपशर की ओर से खेल रहा था तो दिल्ली कैपिटल्स ने मेरे से पूछा था कि क्या मैं उनके लिए खेलने का इच्छुक हूं।’’ रहाणे ने कहा, ‘‘मैंने समय लिया और मैंने सोचा कि यह मेरे लिए कुछ नया सीखने का मौका है। बेशक दादा (सौरव गांगुली जो आईपीएल 2019 में टीम के मेंटर थे) वहां नहीं होंगे, उस समय मेरा ध्यान इस पर था कि अगर मैं दादा और रिकी पोंटिंग के मार्गदर्शन में खेल पाया तो मैं काफी चीजें सीख सकता हूं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पृथ्वी सॉव का शानदार अर्धशतक, दिल्‍ली ने चेन्‍नई को 44 रन से हराया

चेन्नई सुपरकिंग्स पर दिल्ली कैपिटल्स की 7वीं जीत, सीजन में चेन्नई की लगातार दूसरी हार दुबई : तीन बार की चैंपियन चेन्‍नई सुपर किंग्स को दिल्ली आगे पढ़ें »

हैदराबाद के खिलाफ जीत का खाता खोलने उतरेगी केकेआर

अबुधाबी : इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के शुरूआती मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कप्तान दिनेश कार्तिक की योजनाओं की आलोचना हुई जो शनिवार आगे पढ़ें »

ऊपर