बांग्लादेश के खिलाड़ियों के आक्रामक सेलिब्रेशन को आईसीसी ने गंभीरता से लिया

पोटचेफ्सट्रूम : भारतीय अंडर-19 टीम के मैनेजर अनिल पटेल ने कहा कि आईसीसी ने विश्व कप फाइनल में जीत के बाद बांग्लादेश के खिलाड़ियों द्वारा आक्रामक तरीके से जश्न मनाने को गंभीरता से लिया है और वह टूर्नामेंट के इस आखिरी मैच के ‘अंतिम कुछ मिनटों’ के फुटेज की समीक्षा करेगा। फाइनल जीतने के बाद बांग्लादेश की अंडर-19 क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों ने इंडियन प्लेयर्स के साथ बदसलूकी और झड़प की। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है विजयी रन लेने के बाद भी बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने आक्रामक तरीके से जश्न मनाया। पटेल ने कहा, ‘‘आईसीसी अधिकारी आखिरी कुछ मिनटों के फुटेज देखकर हमें बतायेंगे।’’ मैच के दौरान भी बांग्लादेशी खिलाड़ी काफी आक्रामक थे जबकि उनके तेज गेंदबाज शरीफुल इस्लाम ने हर गेंद पर भारतीय बल्लेबाजों के साथ छींटाकशी की।
बांग्लादेश के कप्तान ने ‘अप्रिय घटना’ के लिये माफी मांगी
उनके कप्तान अकबर अली ने इस ‘अप्रिय घटना’ के लिये माफी मांगी। अली ने हालांकि कहा,‘‘ जो हुआ, वह नहीं होना चाहिये था। फाइनल में जज्बात उमड़ आते हैं और कई बार खिलाड़ियों का उन पर काबू नहीं रहता।’’ उन्होंने कहा,‘‘ युवाओं को इससे बचना चाहिये। हमें विरोधी का सम्मान करना चाहिये, खेल का सम्मान करना चाहिये। क्रिकेट भद्रजनों का खेल है। अली ने कहा,‘‘ भारत बांग्लादेश प्रतिद्वंद्विता ऐसी ही है। हम एशिया कप फाइनल में हारे थे, मुझे लगता है कि कहीं बदले की बात खिलाड़ियों के जेहन में थी। मैं अपनी टीम की ओर से माफी मांगता हूं।’’
मैच रेफरी ग्रीम लाब्रोरे ने खेद जताया
मैच खत्म होने के बाद बांग्लादेशी खिलाड़ी मैदान पर पहुंच कर आक्रामक भावभंगिमा दिखाने लगे जिससे स्थिति तनावपूर्ण हो गयी। कोचिंग स्टाफ और मैदान अधिकारियों के बीच-बचाव से हालांकि स्थिति को संभाल लिया गया। पटेल ने दावा किया कि मैच रेफरी ग्रीम लाब्रोरे ने उनसे मुलाकात कर मैदान पर जो हुआ उस पर खेद जताया। उन्होंने कहा, ‘‘रेफरी मेरे पास आये और उन्होंने इस घटना पर खेद जताया। उन्होंने स्पष्ट किया कि मैच के दौरान और आखिरी सत्र में जो हुआ आईसीसी उसे बहुत गंभीरता से लेने वाला है। फील्डिंग के दौरान कई बार आक्रामकता दिखा चुके खिलाड़ियों ने मैच के बाद सारी हदें पार कर दीं। उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों के सामने जाकर उनसे गाली-गलौच की, जिससे दोनों टीम के खिलाड़ियों में धक्कामुक्की हुई।
‘भद्दा’ था बांग्लादेश का बर्ताव
भारतीय कप्तान प्रियम गर्ग ने कहा कि पहला अंडर 19 विश्व कप जीतने के बाद बांग्लादेश के खिलाड़ियों का बर्ताव ‘भद्दा ’ था। गर्ग के हवाले से कहा गया कि ,‘‘हम सहज थे। यह खेल का हिस्सा है। कभी आप जीतते हैं तो कभी हारते हैं। उनकी प्रतिक्रिया भद्दी थी। ऐसा नहीं होना चाहिये था लेकिन ठीक है, चलता है।’’ भारतीय टीम प्रबंधन के एक करीबी सूत्र ने बताया कि मैच काफी तनाव में खेला गया लेकिन मैच के बाद जो हुआ, उसमें भारतीय खिलाड़ियों की कोई गलती नहीं थी।

भारतीय खिलाड़ियों को अपशब्द कहे
दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर जेपी डुमिनी ने मैच के बाद का एक वीडियो ट्विटर पर शेयर किया। इसमें दिख रहा है कि मैच जीतने के बाद बांग्लादेशी खिलाड़ी पिच के पास पहुंचे और भारतीय खिलाड़ियों के बीच घुसकर जश्न मनाने लगे। इस दौरान एक बांग्लादेशी प्लेयर भारतीय खिलाड़ियों के सामने खड़ा हो गया और कुछ अपशब्द कहने लगा। इसके बाद सामने खड़े भारतीय खिलाड़ी ने उसे दूर हटा दिया था। मैदान पर मौजूद अंपायर ने खिलाड़ियों को एक-दूसरे से दूर किया

शेयर करें

मुख्य समाचार

सोनम वांगचुक के चीनी उत्पादों के बहिष्कार अभियान को व्यापारियों का मिला समर्थन

नई दिल्ली : कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कहा है कि देश के सात करोड़ व्यापारी लद्दाख के शैक्षिक सुधारक सोनम वांगचुक के आगे पढ़ें »

पूर्व पाक कप्तान हनीफ का दावा, 1983 में हॉकी टीम के सदस्‍य तस्‍करी में लिप्‍त थे 

कराची : पाकिस्तान के पूर्व हॉकी कप्तान हनीफ खान ने आरोप लगाया कि 1983 में हांगकांग से वापस आते समय उनकी टीम के कुछ खिलाड़ियों आगे पढ़ें »

ऊपर