फीफा महिला विश्व कप 2023 की संयुक्त मेजबानी करेंगे आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड

जिनेवा : आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड फीफा महिला विश्व कप फुटबॉल 2023 की संयुक्त मेजबानी करेंगे जबकि इसके बाद अगला टूर्नामेंट दो साल बाद आयोजित करने पर विचार किया जा रहा है। विश्व फुटबाल की सर्वोच्च संस्था फीफा की शीर्ष परिषद में गुरुवार को हुए मतदान में आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के संयुक्त मेजबानी के दावे को 22 जबकि उनके एकमात्र प्रतिद्वंद्वी कोलंबिया को 13 मत मिले। फीफा अध्यक्ष जियानी इन्फेनटिनो उन सदस्यों में शामिल थे जिन्होंने आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के पक्ष में मतदान किया। इस महिला विश्व कप में पहली बार 32 टीमें भाग लेंगी। इसके बाद इसे हर चार साल की बजाय हर दो साल में आयोजित करने के पिछले सुझाव को भी दोहराया गया। इनफेनटिनो ने ज्यूरिख में फीफा मुख्यालय से पत्रकारों से कहा, ‘‘हमें महिला फुटबाल को बढ़ावा देने की जरूरत है। अगर आप हर समय चार साल तक इंतजार करोगे तो यह लंबा समय हो जाएगा। ’’ फीफा के फैसले का मतलब है कि दक्षिण अमेरिका को पहली बार महिला विश्व कप की मेजबानी के लिये अभी इंतजार करना पड़ेगा। यह टूर्नामेंट 1991 से खेला जा रहा है। आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में 2023 में होने वाला टूर्नामेंट पहला ऐसा विश्व कप होगा जिसे दो देश और दो भिन्न फीफा परिसंघों के सदस्य मिलकर आयोजित करेंगे। आस्ट्रेलिया एशियाई फुटबाल परिसंघ जबकि न्यूजीलैंड ओसियाना फुटबाल परिसंघ का सदस्य है। महिला फुटबॉल रैंकिंग में सातवें स्थान पर काबिज आस्ट्रेलिया और 23वें नंबर का न्यूजीलैंड मेजबान होने के कारण टूर्नामेंट के लिये स्वत: ही क्वालीफाई कर जाएंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विद्या बालन शंकुतला देवी के बाद शेरनी बनकर आएंगी

मुंबई : दूसरी अन्य कई अभिनेत्रियों की तरह विद्या बालन ने भी इस लॉकडाउन का पूरा सदुपयोग किया है। उनके मुताबिक मौके का फायदा उठाकर आगे पढ़ें »

प्रधानमंत्री मोदी के सिंगापुर दौरे ने आसियान में बढ़ाया भारत का कद : भारतीय राजनयिक

सिंगापुर : सिंगापुर में भारत के निवर्तमान उच्चायुक्त जावेद अशरफ ने कहा कि 2018 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के तीन दिवसीय दौरे ने आसियान क्षेत्र आगे पढ़ें »

ऊपर