पेस ने रचा इतिहास, पेस-रोहन ने चीनी खिलाड़ियों को दी शिकस्त

तियानजिनः  देश के स्टार खिलाड़ी लिएंडर पेस ने डेविस कप एशिया ओसनिया जोन ग्रुप-1 के मुकाबले में इतिहास रच दिया। डेविस कप एशिया ओसियाना मुकाबले में चीन के खिलाफ भारत के दिगगज लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना की जोड़ी ने चीन के माओ जिन गोंग और जी झांग की जोड़ी को 5-7, 7-6 (5), 7-6 (3) से शिकस्त दे दी। पेस ने टूर्नामेंट के इतिहास में सर्वाधिक मैच जीत दर्ज करने का रिकॉर्ड दर्ज करा लिया है। पेस की ये रिकॉर्ड 43वीं जीत है। पेस ने टीम को जीत उस वक्त दिलाई जब भारत चीन 2-0 से पीछे चल रहा था। इससे पहले गत शुक्रवार को हुए मुकाबले में रामकुमार रामनाथन और सुमित नागल की जोड़ी को हार का सामना करना पड़ा था।

देश की महत्वपूर्ण जीत

भारत के सामने पांच साल में पहली बार एशिया-ओसियाना से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा था। डेविस कप में पिछले कई वर्षों से भारत के नायक रहे अनुभवी पेस लंबे समय से इटली के निकोला पीटरांजली के साथ 42 जीत की बराबरी पर थे लेकिन आखिर में वह उन्हें पीछे छोड़ने में सफल रहे। पेस ने 16 साल की उम्र में 1990 में जीशान अली के साथ डेविस कप का पहला मुकाबला खेला था। अब जीशान टीम के कोच हैं। इसके बाद उन्होंने महेश भूपति के साथ सफल जोड़ी बनायी जो अब टीम के कप्तान हैं। अपने चमकदार करियर में पेस ने भूपति के साथ मिलकर डेविस कप में लगातार सबसे अधिक 24 मैच जीतने का रिकॉर्ड बनाया। इन दोनों खिलाड़ियों ने नब्बे के दशक के आखिरी वर्षों में एटीपी सर्किट पर धूम मचायी थी।

संघर्षपूण रहा मुकाबला

पहले सेट में एक दूसरे की सर्विस तोड़ने के बाद दोनों जोड़ियां 5-5 से बराबरी पर थी। तब 11वें गेम में पेस ने सर्विस गंवायी। गोंग ने अगले गेम में अपनी सर्विस पर टीम को आगे कर दिया। भारतीय खिलाड़ियों को ब्रेक प्वाइंट हासिल करने के अधिक मौके मिले लेकिन वे इसका फायदा नहीं उठा पाए। बोपन्ना की सर्विस हालांकि काफी तीखी थी जिन पर चीनी खिलाड़ी रिटर्न करने में असफल दिखे। दूसरे सेट में कोई भी टीम ब्रेक प्वाइंट नहीं ले पायी। गोंग ने 5-6 के स्कोर पर दबाव में सर्विस की। भारतीयों के पास एक सेट प्वाइंट भी था लेकिन वे इसका फायदा नहीं उठा पाये और सेट टाईब्रेकर तक खिंच गया। टाईब्रेकर भी काफी कड़ा रहा। इसमें पहले स्कोर 3-3 और फिर 5-5 रहा। बोपन्ना ने वॉली विनर से सेट प्वाइंट हासिल किया और पेस ने आसानी से अगला अंक बनाकर स्कोर बराबरी पर ला दिया। तीसरे और निर्णायक सेट में भारतीय जोड़ी शुरू में 3-1 से आगे थी लेकिन इसके बाद उसने लगातार तीन गेम गंवाये जिससे स्कोर 3-4 हो गया। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि अब तक प्रभावशाली सर्विस करने वाले बोपन्ना छठे गेम में अपनी सर्विस नहीं बचा पाये थे। पेस 5-6 के स्कोर पर सर्विस के लिये आए और एक समय स्कोर 0-30 था लेकिन वह आखिर में इस सेट को टाईब्रेकर तक खींचने में सफल रहे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Gautam Gambhir

गौतम गंभीर के लापता होने के पोस्टर लगे हैं दिल्ली में

नई दिल्ली : पूर्व क्रिकेटर और पूर्वी दिल्ली से सांसद गौतम गंभीर प्रदूषण पर हुई बैठक में नहीं आने की खबर आम जनता तक पहुंचने आगे पढ़ें »

बांग्लादेश में गैस पाइपलाइन में विस्फोट, 7 लोगों की मौत

ढाका : दक्षिण-पश्चिमी बांग्लादेश में रविवार को एक मकान में गैस के पाइपलाइन में विस्फोट होने के कारण करीब 7 लोगों की मौत हो गई। आगे पढ़ें »

रोजाना खाएं यह फल, बीमारियां रहेंगी हमेशा दूर

Malang

आदित्य रॉय कपूर की फिल्म ‘मलंग’ का फर्स्ट लुक जारी

nirmala

वित्त मंत्री ने कहा, मार्च तक बिक सकती है एयर इंडिया और भारत पेट्रोलियम

jilani

मस्जिद के लिए दूसरी जमीन स्वीकार नहीं, दाखिल करेंगे पुनर्विचार याचिका : पर्सनल लॉ बोर्ड

Gotabaya Rajpaksa

गोटबाया राजपक्षे होंगे श्रीलंका के राष्ट्रपति, सजित प्रेमदासा ने हार स्वीकार की

rajnath

राजनाथ सिंह ने अमेरिका के रक्षा मंत्री के साथ की वार्ता, हिंद-प्रशांत पर किया ध्यान केंद्रित

Adhir Ranjan Chowdhury

संसद में गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाने पर जवाब मागेंगे अधीर रंजन

gogoi

आज सीजेआई रंजन गोगोई हो रहे हैं रिटायर, पत्नी के साथ भगवान वेंकटेश्वर के किए दर्शन

ऊपर