पाकिस्तान का झूठ बेनकाब, भारत के समर्थन में आया श्रीलंका

कोलंबोः पाकिस्तान के दौरे पर श्रीलंकाई खिलाड़ियों के जाने से इनकार के बाद पाकिस्तान ने इसका जिम्मेदार भारत को ठहराया, हालांकि अब श्रीलंका ने भारत का समर्थन करते हुए इसका ठीकरा खुद पाकिस्तान पर फोड़ा है।
श्रीलंका ने मंगलवार को कहा कि उसके किसी खिलाड़ी पर भारत ने पाकिस्तान दौरे से बाहर होने के लिए कोई दबाव नहीं डाला है। श्रीलंका के खेल मंत्री हरिन फर्नांडो ने पाकिस्तान के झूठ का पर्दाफाश करते हुए कहा कि दबाव जैसी कोई बात नहीं है और जिन खिलाड़ियों ने पाकिस्तान दौरे से नाम वापस लिया है उन्होंने 2009 में हुई घटना के आधार पर फैसला लिया है।

पाक के मंत्री ने भारत पर लगाया था आरोप
सोमवार को श्रीलंका के 10 खिलाड़ियों ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए पाकिस्तान दौरे से अपना नाम वापस ले लिया था। श्रीलंका की टीम 27 सितंबर से 19 अक्टूबर तक पाकिस्तान के दौरे पर जाने वाली थी। श्रीलंकाई टीम के टॉप खिलाड़ियों द्वारा सीरीज से नाम वापस लिए जाने पर बेसिर-पैर के बयान देने के लिए चर्चा में रहने वाले पाकिस्तान के विज्ञान और तकनीकी मंत्री फवाद हुसैन ने कहा था कि उन्हें सूचना मिली है कि भारत ने खिलाड़ियों को धमकी दी है कि अगर वे पाकिस्तान जाने से इनकार नहीं करते हैं तो उन्हें आईपीएल से बाहर कर दिया जाएगा।

इन खिलाड़ियों ने मना किया
जिन खिलड़ियों ने सुरक्षा कारणों से पाकिस्तान जाने से इनकार कर दिया है, उनमें वनडे टीम के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने, टी-20 कप्तान लसिथ मलिंगा, पूर्व कप्तान एंजेलो मैथ्यूज, निरोशन डिकवेला, कुसल परेरा, धनंजय डी सिल्वा, अकिला धनंजय, सुरंगा लकमल, दिनेश चंडीमल और दिमुथ करुणारत्ने शामिल हैं। माना जाता है कि ये खिलाड़ी श्रीलंका टीम की रीढ़ हैं।

फर्नांडो ने ट्वीट कर दिया जवाब
फवाद हुसैन के इन आरोपों के बाद श्रीलंका के खेल मंत्री हरिन फर्नांडो ने ट्वीट किया, “इन रिपोर्ट्स में कोई सच्चाई नहीं है कि भारत ने श्रीलंका के खिलाड़ियों पर पाकिस्तान में न खेलने का दवाब बनाया है, कुछ लोगों ने इस दौरे पर न जाने का फैसला 2009 की घटना के आधार पर लिया है। इन खिलाड़ियों की भावनाओं का सम्मान करते हुए हमने टीम में उन्हीं को शामिल किया जो पाकिस्तान जाना चाहते थे, हमारी टीम पूरी है हम उम्मीद करते हैं कि हम पाकिस्तान को पाकिस्तान में हराएंगे।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

भारतीय बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ घटकर दो साल के निचले स्तर पर आया : आरबीआई

नई दिल्ली : आरबीआई के आंकड़ों के मुताबिक भारतीय बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ घटकर लगभग दो साल के निचले स्तर पर आ गया है, क्योंकि आगे पढ़ें »

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

ऊपर