पहली बार तीन भारतीय गोल्फर एलपीजीए प्रतियोगिता में लेंगी हिस्सा 

नॉर्थ बेरविक (स्कॉटलैंड) : भारत की तीन महिला गोल्फर अदिति अशोक, दीक्षा डागर और त्वेसा मलिक गुरुवार से शुरू हो रहे लेडीज स्कॉटिश ओपन गोल्फ टूर्नामेंट के साथ पहली बार एलपीजीए टूर्नामेंट में एक साथ हिस्सा लेंगी। लेडीज यूरोपीय टूर (एलईटी) की शीर्ष प्रतियोगिता लेडीज स्कॉटिश ओपन को 2017 से एलपीजीए की संयुक्त मान्यता हासिल है और यह चौथी बार है जब दोनों टूर मिलकर प्रतियोगिता का आयोजन कर रहे हैं। पहले दौर में दीक्षा को स्टेफनी काइरियाकू और यू ल्यू के साथ टूर्नामेंट की शुरुआत करनी है जबकि अदिति को स्कॉटलैंड की स्टार कार्ली बूथ और दक्षिण अफ्रीका की ली आन पेस के साथ खेलना है।

भारत में कई लोगों ने की हमारी मदद 

त्वेसा अपने अभियान की शुरुआत यीलिमी नोह और एमिली क्रिस्टीन पेडरसन के साथ करेंगी। दीक्षा और त्वेसा शुक्रवार को ब्रिटेन पहुंचे थे और इसके बाद सोमवार को एडिनबर्ग पहुंचे। अदिति और उनकी मां सोमवार को यहां पहुंची। दीक्षा के पिता और कैडी कर्नल नरेन डागर ने कहा, ‘हवाई अड्डे पर हमारा परीक्षण हुआ और टूर ने स्कॉटलैंड में भी हमारा परीक्षण किया।’ उन्होंने कहा, ‘यह अलग तरह की यात्रा थी। कागजी कार्रवाई और यात्रा के लिए स्वीकृति दिलाने में भारत में कई लोगों ने हमारी मदद की। ईमानदारी से कहूं तो थोड़ा तनाव था क्योंकि यह सामान्य स्थिति नहीं है लेकिन स्वदेश में अधिकारियों और एलईटी ने मदद की।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

फीस नहीं देने के कारण कोई बोर्ड परीक्षा से वंचित नहीं होगा : हाई कोर्ट

कोलकाता : किसी भी छात्र व छात्रा को बोर्ड की परीक्षा में बैठने से सिर्फ इस आधार पर वंचित नहीं किया जा सकता है कि आगे पढ़ें »

व्यापक सुधारों के अभाव में संयुक्त राष्ट्र पर मंडरा रहा ‘भरोसे की कमी’ का संकट : मोदी

संयुक्त राष्ट्र: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि व्यापक सुधारों के अभाव में संयुक्त राष्ट्र पर ‘भरोसे की कमी का संकट’ मंडरा रहा है। उन्होंने आगे पढ़ें »

ऊपर