पंघल नंबर वन मुक्केबाज, मैरी तीसरे स्थान पर

नयी दिल्ली : भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (बीएफआई) के अध्यक्ष अजय सिंह ने कहा है कि ट्रेनिंग शुरू होने से पहले खिलाड़ियों की रैंकिंग में सुधार होने से उनका मनोबल बढ़ेगा जो अगले साल होने वाले टोक्यो ओलम्पिक के लिए मजबूत संकेत है। अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ की जारी रैंकिंग में 12 खिलाड़ियों ने टॉप -10 में अपनी जगह बनाई है जिसमें आठ महिलाएं और चार पुरुष शामिल हैं। इसमें अमित पंघल (52 किग्रा) शीर्ष पर काबिज हैं। बीएफआई के अध्यक्ष अजय सिंह ने कहा, ‘‘बतौर बीएफआई अध्यक्ष मैं हमेशा भारतीय मुक्केबाजों को रैंकिंग में टॉप पर देखना चाहता हूं और इससे मुझे अंत्यत संतुष्टि मिलती है। पदक जीतना और रैंकिंग में टॉप पर आना विशेष अनुभव है लेकिन हम अभी भारत के लिए ओलंपिक पदक जीतने के मिशन में प्रयासरत हैं।’’ उन्होंने कहा कि भारतीय दल की इस सफलता का मंत्र निरंतर मेहनत करना रहा है और टीम ने इसे कई बार विभिन्न अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों में साबित किया है। भारतीय टीम ने न केवल परिणाम में बल्कि रैंकिंग में भी अपना दबदबा बनाए रखा है। अमित पंघल 52 किग्रा भार वर्ग में नंबर एक पोजिशन पर कायम हैं। छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम 51 किग्रा में तीसरे स्थान पर हैं जबकि महिला विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक से जीत की शुरुआत करने वाली युवा मंजू रानी 48 किग्रा में को करियर के सर्वश्रेष्ठ नंबर दो स्थान पर हैं। टॉप-10 में शामिल भारतीय पुरुषों में दीपक 49 किग्रा में छठे स्थान पर, कविंदर सिंह बिष्ट 56 किग्रा में चौथे स्थान पर और मनीष कौशिक 64 किग्रा में छठे स्थान पर शामिल हैं। महिलाओं में जमुना बोरो 54 किग्रा में पांचवें स्थान पर, सोनिया चहल 57 किग्रा में चौथे स्थान पर, सिमरनजीत कौर 64 किग्रा में छठे स्थान पर, लवलीना बोर्गोहेन 69 किग्रा में तीसरे स्थान पर, पूजा रानी 81 किग्रा में आठवें स्थान पर और सीमा पूनिया 81 किग्रा से अधिक में छठे स्थान पर हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 2752 नये आये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के पिछले 24 घंटे में 2752 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

राममंदिर के शिलान्यास के अवसर पर अपने घरों में दीपावाली मनाएं : रावत

देहरादून : उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पांच अगस्त को अयोध्या में राममंदिर निर्माण हेतु भूमिपूजन के अवसर पर प्रदेश की जनता से आगे पढ़ें »

ऊपर