धोनी खुद नहीं खेलना चाहते थे इसलिए पंत को मौका दिया – एमएसके प्रसाद

नयी दिल्‍ली : विश्व कप 2019 के बाद से महेंद्र सिंह धोनी मैदान पर नजर नहीं आए हैं। उनके भविष्य को लेकर लगातार कयास लगाए जा रहे हैं। अब पूर्व मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने खुलासा किया है कि माही खुद कुछ वक्त तक क्रिकेट नहीं खेलना चाहते थे, इसीलिए उन्हें टीम में भी शामिल नहीं किया गया। उल्‍लेखनीय है कि धोनी आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान हैं। अनिश्चितकाल के लिए यह टूर्नामेंट रद्द किए जाने से पहले धोनी फ्रेंचाइजी के होम ग्राउंड पर पहुंचे थे। कुछ दिन अभ्‍यास भी की थी। एक साक्षात्‍कार में पूर्व चयनकर्ता प्रसाद ने धोनी के टीम से बाहर रहने पर नई जानकारी का खुलासा किया। उन्‍होंने कहा, “मैं एक बात बिल्कुल साफ कर देना चाहता हूं। पहले भी की है। हमने माही से खेलने के बारे में बातचीत की थी। लेकिन, वो खुद कुछ वक्त तक नहीं खेलना चाहते थे। लिहाजा, उनकी जगह ऋषभ पंत को मौका दिया गया। हम उनका पूरा समर्थन भी कर रहे हैं। बीसीसीआई ने कुछ महीने पहले जारी सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में भी एमएस को नहीं रखा था। इसके बाद कयास लगने शुरू हो गये कि वो जल्द ही संन्यास का ऐलान कर सकते हैं। हालांकि, माही ने अब तक ऐसी कोई घोषणा नहीं की। प्रसाद ने भी इस बारे में कुछ नहीं कहा। इधर केएल राहुल न सिर्फ आईपीएल बल्कि इंटरनेशनल क्रिकेट के कई मैचों में विकेटकीपर-बल्लेबाज की दोहरी भूमिका निभा रहे हैं। यानी इन दो भूमिकाओं में धोनी के दो परखे हुए विकल्प टीम इंडिया के पास मौजूद हैं। प्रसाद ने कहा, “न्यूजीलैंड में वनडे सीरीज के दौरान राहुल ने बेहतरीन खेल दिखाया। अगर आईपीएल होता है तो हमारे पास धोनी का पुराना रंग देखने का मौका होगा। लेकिन, स्थितियां अभी जटिल हैं।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

आधुनिक क्रिकेट में विराट-रोहित की जोड़ी नंबर-1 : संगकारा

नयी दिल्‍ली : श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमारा संगकारा ने कहा कि क्रिकेट के हर युग में एक बेहतरीन जोड़ी देखने को मिलती है। इस आगे पढ़ें »

दिल्ली उपराज्यपाल के दफ्तर में मिले 13 कोरोना से संक्रमित कर्मचारी

नयी दिल्ली : दिल्ली के उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल के दफ्तर के 13 कर्मचारी और छह अन्य सरकारी कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए आगे पढ़ें »

ऊपर