डीआरएस पहले आता तो कुंबले टेस्ट में 900 विकेट लेते : गंभीर

नयी दिल्‍ली : कोरोना की वजह से पूरी दुनिया में क्रिकेट प्रभावित हुआ है। हालांकि इस दौरान खेल के मैदान से जुड़ी हुई हस्तियां ऐसे राज खोल रही हैं जो उसके प्रशंसक को मालूम ही नहीं है। इसके अलावा अलग-अलग मुद्दों पर खिलाड़ियों की राय भी सोशल मीडिया के जरिए सामने आ रही है। टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी गौतम गंभीर ने दावा किया है कि अगर डीआरएस का इस्तेमाल पहले से होता तो कुंबले टेस्ट क्रिकेट में कम से कम 900 विकेट लेते। इतना ही नहीं गंभीर ने यह भी दावा किया है कि डीआरएस की मदद से हरभजन भी टेस्ट क्रिकेट में अपने करियर का अंत 700 विकेट के साथ करते। गंभीर का मानना है कि डीआरएस का भारतीय स्पिनर्स को खूब फायदा मिलता। उल्‍लेखनीय है कि अनिल कुबंले टेस्ट क्रिकेट में दुनिया के तीसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। कुंबले के नाम टेस्ट में 619 विकेट हैं। हरभजन ने टेस्ट में भारत के लिए 417 विकेट लिए हैं। गंभीर ने कहा, यह दोनों कई बार फ्रंटफुट पर ही एलबीडब्ल्यू लेने से चूक गए थे। भज्जू पा ने केपटाउन में सात विकेट लिए थे। जरा सोचिए कि अगर विकेट स्पिनरों की मददगार होती तो विपक्षी टीम 100 रन भी नहीं बना पाती।” गंभीर ने कुंबले को गांगुली और धोनी से बेहतर कप्तान बताया। गंभीर का कहना था कि जिन भी कप्तानों के अंडर में वह खेले हैं उनमें कुंबले सबसे लाजवाब थे। गंभीर ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2008 में खेली गई सीरीज का जिक्र करते हुए कहा, “सहवाग और मैं डिनर कर रहे थे और तभी कुंबले आए और कहा कि तुम दोनों पूरी सीरीज में ओपनिंग करोगे चाहे कुछ भी हो। गंभीर ने कहा अगर मुझे किसी के लिए अपनी जिंदगी देनी पड़ी तो मैं अनिल कुंबले के लिए दूंगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल चुनाव में कन्हैया कर सकते हैं प्रचार, ओईशी बनेंगी उम्मीदवार

कोलकाता : विधानसभा चुनाव की तैयारियां सभी राजनीतिक पार्टियां कमर कसकर कर रही हैं। एक तरफ तृणमूल तो दूसरी ओर भाजपा के बीच इस बार आगे पढ़ें »

तृणमूल के घोषणापत्र पर टिकीं निगाहें

कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस इस बार बहुत ही सोच-समझकर अपना घोषणापत्र जारी कर सकती है। सूत्रों के मुताबिक आज मंगलवार को तृणमूल का घोषणापत्र जारी आगे पढ़ें »

ऊपर