जसप्रीत बुमराह का सामना करने के लिए ब्रायन लारा ने अपने खिलाड़ियों को दी सलाह

नई दिल्लीः जसप्रीत बुमराह का सामना करने के लिए वेस्ट इंडीज के रिटायर्ड व महान बल्लेबाज ब्रायन लारा ने अपने खिलाड़ियों को सलाह दी है। उन्होंने खुलासा किया है कि अगर वे आज वनडे क्रिकेट खेलते और दुनिया के मौजूदा नंबर वन गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का सामना करते तो क्या करते? ब्रायन लारा ने जसप्रीत बुमराह को कैसे परेशान किया जाता इसका भी जिक्र किया है। ब्रायन लारा ने कहा है वे बुमराह पर अटैक नहीं करते बल्कि स्ट्राइक रोटेट कर उन्हें परेशान करते।
टेस्ट क्रिकेट में 400 रन की पारी खेलने वाले दुनिया के पहले और अभी तक आखिरी खिलाड़ी ब्रायन लारा ने कहा कि वह जसप्रीत बुमराह के खिलाफ वनडे क्रिकेट में अटैक करने की नहीं सोचते बल्कि एक-एक रन लेकर बुमराह को परेशान करते। लारा ने कहा कि वह भारतीय गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को अपने खिलाफ जमने का मौका नहीं देते। बता दें कि जसप्रीत बुमराह डेथ ओवर्स स्पेशलिस्ट तो हैं ही साथ ही साथ विकेट चटकाने में माहिर हैं।
ब्रायन लारा ने कहा, “पहली बात, अगर मैं उन्हें खेल रहा होता। मैं स्ट्राइकर बदलना चाहता (हंसते हुए)। वह बेहतरीन गेंदबाज हैं और ऐसे हैं जिनका एक्शन थोड़ा अजीब सा है। बल्लेबाजों को उन पर निगाहें रखनी होती हैं और मैं होता तो मैं स्ट्राइक रोटट कर उन पर दबाव बनाता। वनडे में आपके पास सिंगल लेने के बहुत मौके होते हैं।”
कैरेबियाई दिग्गज ने कहा, “अतीत में आपने देखा होगा कि बल्लेबाज मुथैया मुरलीधरन और सुनील नरेन जैसे खिलाड़ियों पर रनों के लिए जाते थे। यह काफी मुश्किल होता है और बुमराह के खिलाफ करना मुश्किल है। मैं बल्लेबाजों से कहता कि उनके ओवर में छह सिंगल लो। वह भारत के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से एक हैं और शायद इसके बाद आप कुछ और एरिया में उनके खिलाफ रन बनाने के बारे में सोच सकते हो।”
काउंटर अटैक में विश्वास नहीं करता
ब्रायन लारा ने आगे कहा, “मैं काउंटर अटैक में विश्वास नहीं करता, इस तरह के गेंदबाज के खिलाफ यह अच्छा विचार नहीं होता। उनका एक दिन बुरा हो सकता है और बल्लेबाज इसका फायदा उठा सकते हैं।” इसके अलावा ब्रायन लारा ने विराट कोहली को लेकर कहा कि वे इंसान नहीं हैं, मशीन हैं। लारा ये भी मानते हैं कि टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने गेम को बदला है। बाएं हाथ के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा ने कहा, “वह मशीन हैं। हम 80-90 में जिन बल्लेबाजों को देखा करते थे कोहली ने उन सभी को एक साथ टेबल पर ला दिया है। फिटनेस हमेशा से अहम रही है लेकिन इतनी नहीं जितनी अब है। जितनी क्रिकेट खेली जा रही है उसके हिसाब से फिट होना बेहद जरूरी है। वह जिम में समय बिताना पसंद करते हैं। वह रन मशीन हैं।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था के लिए बैंकों ने किया विचार-मंथन

नयी दिल्लीः अगले पांच साल में देश को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में मदद के लिए बैंकिंग क्षेत्र को और अधिक मजबूत आगे पढ़ें »

बासुकीनाथ में अब पूजा अर्चना के लिए बनेंगे आजीवन दाता कार्ड

दुमका : दुमका जिले में बाबा बासुकीनाथ धाम मंदिर न्यास समिति ने आजीवन दाता कार्ड सदस्य बनाने का निर्णय लिया है। समिति ने रविवार को आगे पढ़ें »

आतंकवादियों को अलग-थलग करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है कश्मीर पुलिस : डीजीपी

flood

हिमाचल : बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से 8 लोगों की मौत, प्रदेश के 323 सड़के क्षतिग्रस्त

Gun-shot 1

आरपीएफ जवान ने गोलीमार कर की रेलकर्मी समेत उसकी पत्नी और पुत्री की हत्या

saho

इस फिल्‍म के नए पोस्टर में दिखी प्रभास और श्रद्धा कपूर की लव केमिस्ट्री

rajnath

रक्षामंत्री ने पाक को दी चेतावनी, पीओके के अलावा किसी दूसरे विषय पर बातचीत नहीं होगी

जियो फाइबर ब्रॉडबैंड अगले महीने होगी लॉन्च, जानिए प्लान्स

एफपीआई से लगातार निकासी जारी, अबतक घरेलू पूंजी बाजार से 8,319 करोड़ रुपये की निकासी

पूर्व मुख्यमंत्री पर लगा फोन टैपिंग का आरोप, येदियुरप्पा बोले- होगी सीबीआई जांच

ऊपर