छेत्री के गोल से भारत ने जीता इंटरकांटिनेंटल कप खिताब, केन्‍या को 2-0 से हराया

मुंबई : कप्तान और स्टार स्ट्राइकर सुनील छेत्री के डबल से भारत ने केन्या को रविवार को 2-0 से हराकर चार देशों का हीरो इंटरकांटिनेंटल कप फुटबॉल खिताब जीत लिया। सुनील छेत्री ने आठवें और 29 वें मिनट में गोल कर भारत की जीत सुनिश्चित कर दी। भारत ने केन्या को लीग चरण में भी 3-0 से हराया था और अब फाइनल में उसे दो गोल से शिकस्त दे दी। भारत ने लीग चरण में केन्या को हराने के अलावा चीनी ताइपे को 5-0 से शिकस्त दी थी लेकिन उसे न्यूजीलैंड से 1-2 से हार झेलनी पड़ी थी। छेत्री ने ताइपे के खिलाफ तीन गोल, केन्या के खिलाफ दो गोल, न्यूजीलैंड के खिलाफ एक गोल और फाइनल में दो गोल किये।
मैस्‍सी से की बराबरी, सिर्फ रोनाल्‍डो से पीछे है छेत्री
छेत्री इसके साथ ही अर्जेंटीना के करिश्माई स्ट्राइकर लियोनल मेस्‍सी के 64 अंतर्राष्ट्रीय गोलों की बराबरी पर पहुंच गये। मौजूदा अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों में अब सिर्फ पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो 81 गोलों के साथ छेत्री और मैसी से आगे हैं। छेत्री ने टूर्नामेंट में कुल आठ गोल दागे और अकेले अपने दम पर भारत को खिताबी जीत दिलाई। मुंबई फुटबॉल एरेना में छेत्री के करिश्मे ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। भारत ने पिछले मुकाबले में न्यूजीलैंड से मिली हार को पीछे छोड़ते हुए फाइनल में बेहतरीन प्रदर्शन किया। भारत को पहला गोल आठवें मिनट में ही मिल गया। छेत्री को बॉक्स के बाहर गिराया गया और भारत को फ्री किक मिल गयी।
पहला गोल दाएं और दूसरा बाएं पैर से की
अनिरुद्ध थापा ने फ्री किक ली जबकि छेत्री ने खिलाड़ियों के बीच में अचानक प्रकट होते हुए गेंद को गोल की दिशा दिखा दी। भारत का पहला गोल होते ही पूरा स्टेडियम खुशी से झूम उठा। छेत्री ने जहां पहला गोल दाएं पैर से किया वहीं उनका दूसरा गोल बाएं पैर से था। अनस एडाथोडिका ने छेत्री को लम्बा पास दिया। छेत्री ने गेंद को अपने सीने पर लेकर अपने सामने गिरा दिया। छेत्री के लिए विशेष रूप से लगाए गए मार्कर माइकल किब्वागे इस समय छेत्री को घेर नहीं पाए और छेत्री का बाएं पैर से लगाया गया शॉट गोलकीपर पैट्रिक मतासी को छकाता हुआ गोल में समा गया। स्टेडियम एक बार फिर शोर से गूंज उठा। छेत्री का यह रिकॉर्ड 64 वां गोल था और भारतीय कप्तान ने इसके साथ ही मैस्‍सी की बराबरी कर ली। भारत ने फिर इस दो गोल की बढ़त को अंत तक बनाये रखा और केन्या को वापसी करने का कोई मौका नहीं दिया। केन्या ने दूसरे हाफ में एक- दो मौके बनाये लेकिन भारतीय रक्षापंक्ति ने मुस्तैदी से अपना किला संभाले रखा। अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ के अध्यक्ष प्रफुल पटेल ने विजेता टीम को ट्रॉफी और 50 हजार डॉलर का चेक सौंपा जबकि केन्या को 25 हजार डॉलर मिले। छेत्री को प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का पुरस्कार मिला और उन्हें 7500 डॉलर दिए गए।

Leave a Comment

अन्य समाचार

पिछली बैठकों में तय किया गया था, गेंदबाज मांकडिंग का इस्तेमाल नहीं करेंगे : शुक्ला

बैठक में धोनी और कोहली भी मौजूद थे राजस्‍थान के खिलाफ मैच में अश्‍विन ने बटलर को मांकडिंग से आउट किया नई दिल्ली : इंडियन प्रीमियर लीग के अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने कहा कि विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी समेत आईपीएल [Read more...]

फिंच की शतकीय पारी से जीता आस्ट्रेलिया

पाक को 8 विकेट से पराजित कियानई दिल्लीः आस्ट्रेलिया ने दूसरे वनडे मैच में पाकिस्तान को यूएई के शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए मैच में 8 विकेट से हरा दिया। मैच में आस्ट्रेलिया टीम की तरफ से कप्तान एरॉन [Read more...]

मुख्य समाचार

भाजपा वरिष्ठों का सम्मान न कर करती है विभाजन की राजनीति : ममता

कोलकाता : पहले उम्मीदवार की तालिका, फिर चुनावी प्रचार की लिस्ट से लालकृष्ण अाडवाणी जैसे वरिष्ठ नेता को बाहर का रास्ता दिखाना, तृणमूल की प्रमुख ममता बनर्जी को रास नहीं आ रहा है। इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते [Read more...]

भाजपा ने जारी की 10 उम्मीदवारों की सूची

कोलकाता : मंगलवार को भाजपा ने 10 उम्मीदवारों की एक और सूची जारी कर दी है। अब तक पार्टी कुल 40 उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है और अब भी 2 उम्मीदवारों की घोषणा बाकी है। मंगलवार को [Read more...]

सारधाकांड : सुप्रीम कोर्ट ने कहा सीबीआई ने बहुत ही गंभीर खुलासे किए हैं

काम करने तेल टैंकर में उतरे युवकों की मौत, सनसनी

भाजपा की नई सूची में जयप्रदा को रामपुर से टिकट, मनोज सिन्‍हा गाजीपुर से तो बलिया से वीरेंद्र सिंह मस्त

पटना में लगे ‘गो बैक रविशंकर’ के नारे, आपस में भिड़े भाजपाई तो पुलिस ने भांजी लाठियां

सैमसंग अप्रैल में लॉन्च करेगा गैलेक्सी ए90, जानिए क्या हैं खूबियां

सुरक्षाबलों ने सुकमा में चार नक्सलियों को मार गिराया, भारी मात्रा में हथियार बरामद

चीन ने अरुणाचल प्रदेश को उसका हिस्सा ना दिखाने वाले 30,000 मानचित्र किए नष्ट

लोकसभा चुनाव : तेलंगाना से 200 किसानों ने भरा पर्चा

ऊपर