चेन्‍नई के कप्‍तान धोनी ने कहा, उम्र तो बस एक नंबर है

 मुंबई : चेन्नई सुपरकिंग्स को तीसरी बार आईपीएल खिताब दिलवाने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने विपक्षी टीमों में युवा और अधिक फुर्तीले खिलाड़ियों की मौजूदगी के बावजूद अपने अनुभवी उम्रदराज चेहरों पर भरोसा जताया और चैंपियन बनने के बाद कहा कि उनके लिये उम्र केवल एक नंबर है और यह सफलता के लिये कोई पैमाना नहीं हो सकती।
चेन्नई सुपरकिंग्स ने मुंबई के वानखेड़े मैदान पर सनराइजर्स हैदराबाद को आठ विकेट से हराकर तीसरी बार इंडियन प्रीमियर लीग ट्वंटी 20 टूर्नामेंट का चैंपियन बना दिया। चेन्नई की टीम के लिये खिताबी मुकाबले में उसके अनुभवी 36 साल के आस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर शेन वाटसन मैन ऑफ द मैच बने जिन्होंने 11 चौकों और आठ छक्कों से सजी नाबाद 117 रन की मैच विजेता धुआंधार पारी खेली। टीम की जीत में कप्तान और विकेटकीपर 36 साल के धोनी की अहम भूमिका है जो करियर के आखिरी पड़ाव पर हैं और भारतीय टीम में कप्तानी के साथ टेस्ट क्रिकेट को भी छोड़ चुके हैं। इसके अलावा टीम को अहम मौकों पर जीत दिलाने में 33 साल के फाफ डू प्लेसिस और फाइनल में नाबाद 16 रन बनाने वाले 33 साल के अंबाटी रायुडू की भी अहम भूमिका रही है। रायुडू 16 मैचों में 602 रन के साथ चेन्नई के शीर्ष स्कोरर भी रहे हैं। वहीं 31 साल के सुरेश रैना (445) चौथे सबसे सफल स्कोरर रहे। क्रिकेट के सबसे चतुर खिलाड़ी माने जाने वाले टीम के कप्तान ने कहा कि हम अपनी गलतियों से वाकिफ थे। यदि वाटसन डाइव करते तो वह निश्चित ही चोटिल हो जाते, हम ऐसा नहीं चाहते थे। हम इन बातों के बारे में जानते हैं। लेकिन मैं अभी भी मानता हूं कि उम्र केवल एक नंबर ही है। आपके लिये फिट रहना बहुत जरूरी है।’ वर्ष 2010, 2011 और 2018 में अपनी टीम चेन्नई को चैंपियन बनाने वाले धोनी ने टूर्नामेंट में कमाल की बल्लेबाजी की और 16 मैचों में 150.66 के स्ट्राइक रेट से 455 रन बनाये जो टीम का तीसरा सर्वाधिक स्कोर रहा। इसमें तीन अर्धशतक भी शामिल हैं। उन्होंने साथ ही कहा कि बहुत से लोगों ने नंबर और आंकड़ों की बात की। फाइनल 27 तारीख को हुआ, मेरी जर्सी का नंबर भी सात है और यह चेन्नई का सातवां फाइनल भी है, लेकिन प्रदर्शन से फर्क पड़ता है।’ हमने पहले फील्‍डिंग की और उसी हिसाब से योजना भी बनाई थी। इसके अलावा हमारे बल्लेबाजों ने कमाल का खेल दिखाया। लेकिन हमें पता था कि हैदराबाद के पास जितने राशिद खान खतरनाक हैं उतने ही भुवनेश्वर कुमार भी हैं।’ धोनी ने तीन खिताबों में से किसी एक को खास नहीं बताया और माना कि सभी उनके लिये अहम हैं। धोनी ने साथ ही कहा कि उनकी टीम अब चेन्नई जाकर अपने प्रशंसकों से मिलेगी और उनका धन्यवाद करेगी।

Leave a Comment

अन्य समाचार

कंधे की चोट के चलते आईपीएल से बाहर हुए बेंगलुरू के यह घातक तेज गेंदबाज

नई दिल्लीः आईपीएल के मौजूदा सत्र में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू ने लगातार अपने गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन के चलते कई मैच हारे हैं। ऐसे परिस्‍थितियों में टीम ने दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज तेज गेंदबाज डेल स्टेन को टीम में शामिल [Read more...]

बीसीसीआई के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद के नाम पर लाखों की ठगी, ‌शिकायत दर्ज

नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद के अनुसार उनके नाम का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है। उनके नाम के जरिये लाखों रुपये की धोखाधड़ी की जा रही है। प्रसाद के मुताबिक, आरोपी युवक [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

सैमसंग ने लॉन्च किया दुनिया का सबसे बड़ा ओनिक्स सिनेमा एलईडी

सीमा पर गोला-बारूद रखने को बनेगी सुरंग, सेना ने एनएचपीसी के साथ किया करार

गिरिराज ने चुनावी सभा में दिया विवादित बयान, प्राथमिकी दर्ज

मारुति अगले साल अप्रैल से नहीं बेचेगी डीजल कारें

जापान ने डब्ल्यूटीओ में भारत के खिलाफ दर्ज मामले के समाधान से जुड़ी चर्चा में रुचि दिखाई

जनरल दलबीर सिंह सुहाग सेशेल्स में भारत के उच्चायुक्त नियुक्त

जेट एयरवेज ने इस एयरलाइन से मांगी मदद

कंधे की चोट के चलते आईपीएल से बाहर हुए बेंगलुरू के यह घातक तेज गेंदबाज

बीसीसीआई के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद के नाम पर लाखों की ठगी, ‌शिकायत दर्ज

प्रधानमंत्री मोदी का 7 किमी लंबा रोड शो, महारैली-सा नजारा रहा

ऊपर