कोहली गलत खिलाड़ियों का सपोर्ट करते थे इसी कारण बेंगलुरु एक भी खिताब नहीं जीती : आरसीबी के पूर्व कोच

अबुधाबी : रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) के पूर्व कोच रे जेनिंग्स ने टीम के कप्तान विराट कोहली पर आरोप लगाया है कि वे उनकी बात नहीं सुनते थे और गलत खिलाड़ियों का समर्थन करते थे। इसी कारण से टीम एक बार भी आईपीएल की चैम्पियन नहीं बनी। जबकि उनकी कप्तानी में टीम इंडिया ने टेस्ट क्रिकेट में 60 फीसदी मैच जीते। जेनिंग्स ने एक इंटरव्यू में यह बातें कहीं। जेनिंग्स 2009 से 2014 तक आरसीबी के कोच रहे थे। उनकी कोचिंग में ही टीम दो बार 2009 और 2011 में फाइनल खेली। लेकिन दोनों मौकों पर खिताब नहीं जीत पाई। विराट को 2013 में ही टीम का फुलटाइम कप्तान बनाया गया था। जेनिंग्स ने कहा कि जब मैं टीम का कोच था। उस समय टीम में 20-25 खिलाड़ी होते थे। बतौर कोच मेरी जिम्मेदारी थी कि मैं सबका ध्यान रखूं। लेकिन विराट का अपना अलग प्लान होता था। वो कई बार टीम में अकेले दिखते थे, क्योंकि वो गलत खिलाड़ियों को सपोर्ट करते थे। आरसीबी के पूर्व कोच ने आगे कहा कि आईपीएल इंटरनेशनल क्रिकेट से बहुत अलग है। 6 हफ्ते में कुछ खिलाड़ी फॉर्म में आ सकते हैं, जबकि कुछ खिलाड़ियों का फॉर्म खराब हो सकता है। ऐसे में किसी ऐसे प्लेयर को टीम में रहना पड़ेगा, जो लगातार अच्छा खेले। जब मैं टीम का कोच था तो उन दिनों कुछ और खिलाड़ियों को ज्यादा मौके मिलने चाहिए थे। लेकिन कोहली की सोच कुछ और थी। हालांकि, अब इन बातों का कोई मतलब नहीं हैं। ये देखकर अच्छा लग रहा है कि एक कप्तान के तौर पर अब विराट काफी समझदार हो गए हैं। जेनिंग्स ने आरसीबी के कप्तान विराट की तारीफ करते हुए कहा कि उनके पास शानदार क्रिकेटिंग ब्रेन है। उन्होंने कहा कि विराट की टीम सेमीफाइनल (प्ले ऑफ) और फाइनल तक पहुंची है। उम्मीद है कि इस आईपीएल में उनकी टीम को और ज्यादा कामयाबी मिले।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना काल में देश के नाम 7वां संबोधन, जानें पीएम के भाषण की बड़ी बातें

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम संदेश दिया। कोरोना काल में ये उनका 7वां संबोधन था। पीएम मोदी ने आगे पढ़ें »

मंदिर की चौखट पर युवक की गला रेतकर हत्या

मिर्जापुर : यूपी के मिर्जापुर में एक मंदिर की चौखट पर एक युवक की गला रेतकर हत्या कर दी गई। मृतक का नाम मुन्ना पासी आगे पढ़ें »

ऊपर