कोहली को फायदा, धोनी को नुकसान

मेरठः मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) की सिफारिश पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) जल्द ही क्रिकेट में बल्ले और गेंद के बीच संतुलन बनाने के लिए बल्ले की मोटाई की सीमा 40 एमएम करे देगी। इससे एक तरफ भारतीय कप्तान विराट कोहली को फायदा होगा वहीं पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के लिए यह खतरे की घंटी साबित हो सकती है। गौरतलब है कि विराट का बल्ला नए नियमों के अनुसार बिल्कुल सटीक है। धोनी लंबे समय से 45 एमएम की मोटाई वाले बल्ले से खेल रहे हैं। कोहली समेत शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, केएल राहुल 40 एमएम या उससे कम मोटाई के बल्ले से खेलते हैं। इससे मेरठ की क्रिकेट का सामान बनाने वाली इंडस्ट्री को मुनाफा होगा क्योंकि 45 से 50 एमएम के बल्लों को तराशना बेहद कठिन था। तमाम दिग्गजों के हाथ में जल्द ही बदला हुआ बल्ला नजर आएगा। आईसीसी के नए नियम से इंडस्ट्री की बाछें खिल गई हैं। इस क्षेत्र में मेरठ में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्ले बनते हैं।
प्रशंसकों के लिए बुरी खबर
यह नियम लागू होने के बाद जो बल्लेबाज भारी या मोटे बल्ले से खेलते थे, उनके प्रदर्शन में ऊंच-नीच होने की आशंका है। ऐसे में गगनचुंबी छक्कों की बारिश देखना पसंद करने वाले लोगों को रनों के छींटों से काम चलाना पड़ेगा।
नया नियम एक अक्टूबर से लागू होगा
बल्लों के आकार में बदलाव का यह नियम एक अक्टूबर से लागू किया जाएगा। मोटे किनारे वाले बल्लों से गेंद बड़ी तेजी से सीमाक्षेत्र के बाहर चली जाती थी। एबी डिविलियर्स, डेविड वार्नर, क्रिस गेल और धोनी समेत तमाम बल्लेबाजों ने मोटे बल्लों से खेलते हुए ढेरों रन बनाए हैं। इंग्लैंड की बल्ला निर्माता कंपनी ग्रेनिकल्स ने 45 से 50 एमएम के एज वाला बल्ला बनाकर कारोबार की दिशा बदल दी थी। तमाम बल्लेबाज लंबे शॉट के लिए ऐसे बल्लों पर निर्भर रहने लगे थे।
श्रीलंका दौरे में हो सकते हैं इस्तमाल
ज्यादातर बल्लेबाज 1160 से 1250 ग्राम के बल्ले से खेलते हैं, लेकिन धोनी समेत अन्य ताबड़तोड़ बल्लेबाज 1300 ग्राम के बल्लों से खेलना पसंद करते थे। लेकिन अब सभी बल्लेबाजों को अपनी पसंद के विपरित बने बल्लों से ही खेलना होगा।
मेरठ में बल्लों को हाथ से तराशा जाता है। मेरठ की कंपनियों ने 40 एमएम से कम मोटाई वाला बल्ला बनाना शुरू कर दिया है। श्रीलंका खेलने गई भारतीय टीम के खिलाड़ियों के लिए नए बल्ले भेजे गए हैं।
बल्ले का कैसा होगा नया आकार ?
लंबाई : सवा 34 इंच
चौड़ाई : सवा चार इंच
स्पाइन : 67 मिमी
मोटाई : 40 मिमी

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

बम धमाके से फिर देहला श्रीलंका, कोलंबो के निकट हुआ धमाका

कोलंबो: श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम धमाकों को एक हफ्ता भी नहीं बीता है कि एक और धमाके की खबर है। गुरुवार सुबह श्रीलंका की राजधानी कोलंबो से 40 किमी. दूर बम धमाके की [Read more...]

लीबिया में फंसे भारतीयों की मदद के लिए नियुक्त किये गये 17 समन्वयक

नयी दिल्लीः विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को कहा कि भारत ने लीबिया छोड़ रहे भारतीयों की मदद के लिये 17 समन्वयक नियुक्त किए गए हैं और भारतीय दूतावास उन लोगों की भी मदद कर रहा जिनका वीजा [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

बम धमाके से फिर देहला श्रीलंका, कोलंबो के निकट हुआ धमाका

लीबिया में फंसे भारतीयों की मदद के लिए नियुक्त किये गये 17 समन्वयक

श्रीलंका हमला मामले में 16 और संदिग्ध गिरफ्तार, हवाई क्षेत्र के अंदर ड्रोन इस्तेमाल पर प्रतिबंध

माता सीता को लेकर उपेन्द्र कुशवाहा के विवादित बोल, कहा सिगरेट पीती है

30 साल बाद आया मलेरिया का टीका ,अफ्रीका में हुआ सफल परीक्षण

आईआरसीटीसी की इस सर्विस से टिकट बुक करना हुआ सस्ता

बोधिवृक्ष की पत्तियाें और टहनियाें की डस्ट मेहमानों को भेंट कि जाएगी

ईवीएम-वीवीपैट के मिलान को लेकर 21 विपक्षी दल पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

इंडोनेशिया ने रामायण थीम पर डाक टिकट जारी किए

नौकरी न मिलने से परेशान सुमित ने पत्नी और 3 बच्चों की कर दी हत्या

ऊपर