कोरोना पीड़ितों के लिए मेस्सी करेंगे 377 करोड़ की मदद, बार्सिलोना के खिलाड़ी भी वेतन में करेंगे कटौती

लंदन : कोरोनावायरस का असर स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लिगा पर भी पड़ा है। 12 मार्च से ही लीग के मुकाबले नहीं हो रहे हैं। ऐसे में आर्थिक संकट से जूझ रहे क्लब की मदद के लिए कप्तान लियोनल मेस्सी आगे आए हैं। उन्होंने ऐलान किया है कि खिलाड़ी अपनी सैलरी में 70 फीसदी की कटौती करेंगे। इससे क्लब के कर्मचारियों और बाकी स्टाफ को पूरी तनख्वाह देने में आसानी होगी। मेस्सी खुद अपनी सैलरी में से 360 करोड़ रुपए कम लेंगे। उन्होंने कहा- हमारी तरफ से अब यह घोषणा करने का वक्त आ गया है कि इस आपात स्थिति से निपटने के लिए हम अपनी 70 फीसदी सैलरी कटवाएंगे। इसके अलावा हम जरूरी योगदान भी देंगे, ताकि क्लब के कर्मचारियों को पूरी सैलरी मिल सके। बार्सिलोना के कप्तान को सालाना सैलरी और बोनस मिलाकर करीब 648 करोड़ रुपए मिलते हैं। मेस्सी ने कहा जब भी क्लब को जरूरत पड़ी है, हम सबसे पहले आगे आए हैं। कई बार हमने जरूरत समझते हुए खुद ही मदद की पहल की है। इसलिए हम इस बात पर हैरान नहीं हैं कि क्लब के भीतर से ही कुछ लोग इस बात के लिए हम पर दबाव बना रहे थे, जो हम पहले से ही करना चाहते थे। कुछ समय बाद ही साथी खिलाड़ियों ने मेसी का यह मैसेज अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर कर लिया। इनमें गेरार्ड पीके, स्ट्राइकर एंटोनी ग्रिजमैन, लुईस सुआरेज, जॉर्डी एल्बा शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इससे कोरोना के खिलाफ जंग को लेकर उसकी प्रतिबद्धता साबित होती। बार्सिलोना के अलावा एटलेटिको मैड्रिड और एस्पेनियोल जैसे क्लब भी कर्मचारियों की सैलरी कम करने का फैसला कर चुके हैं। वहीं, इसका असर इटली की फुटबॉल लीग सीरी-ए पर भी पड़ा है। क्लब को उम्मीद है कि मार्च से जून के बीच 4 महीने तक मुआवजे को कम करके वह करीब 720 करोड़ बचा लेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बॉयकॉट ने बीबीसी की स्पेशल टेस्ट कॉमेंट्री टीम छोड़ी

लंदन : इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जैफरी बॉयकॉट ने कोरोना की वजह से बीबीसी की स्पेशल टेस्ट कॉमेंट्री टीम छोड़ दी है। वे 14 साल आगे पढ़ें »

एशिया कप में खेलना सपने सच होने जैसा : कप्तान आशा लता

नयी दिल्ली : भारतीय महिला फुटबॉल टीम के सदस्य घरेलू दर्शकों के सामने एएफसी महिला एशिया कप 2022 फाइनल्स की संभावनाओं से खुश हैं और आगे पढ़ें »

ऊपर