कोरोना के कारण स्थगित ओलंपिक क्वालीफायर हालात सुधरने पर होंगे : बत्रा

नयी दिल्ली : भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के कारण स्थगित किये गए टोक्यो ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट हालात सुधरने पर होंगे। उन्होंने राष्ट्रीय खेल महासंघों से अपने अपने खेलों में ऐसे टूर्नामेंटों की सूची बनाने को कहा। आईओए अध्यक्ष ने सभी एनएसएफ के आला अधिकारियों को टोक्यो ओलंपिक के लिये उनके खिलाड़ियों की तैयारी का कैलेंडर साझा करने को कहा। कोरोना वायरस महामारी के कारण टोक्यो ओलंपिक एक साल के लिये स्थगित कर दिये गए हैं। बत्रा ने सभी राष्ट्रीय खेल महासंघों के अध्यक्षों और सचिवों को लिखे पत्र में कहा,‘‘स्थगित किये गए क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट हालात ठीक होने पर नयी तारीखों पर होंगे। उसके लिये संभावित योजना तैयार करें। अपने अपने खेलों के क्वालीफिकेशन टूर्नामेंटों की भी जानकारी दें।’’ उन्होंने यह भी कहा कि आईओए और खेल महासंघों को उन कोचों के कार्यकाल को विस्तार देने की योजना भी बनानी है जिनके अनुबंध इस साल के आखिर में खत्म होने हैं। उन्होंने पत्र में यह भी लिखा कि 2021 में होने वाले ओलंपिक के लिये खिलाड़ियों की तैयारी की योजना भी बनाई जाये और खिलाड़ियों के मौजूदा ठिकाने तथा उनके स्वास्थ्य के बारे में बताया जाये। उन्होंने पत्र की प्रतियां खेल मंत्रालय और भारतीय खेल प्राधिकरण को भी भेजी हैं। भारत के अब तक सात खेलों (एथलेटिक्स, तीरंदाजी, मुक्केबाजी, घुड़दौड़, हॉकी, निशानेबाजी और कुश्ती) के 80 खिलाड़ी ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके हैं। आईओए को यह आंकड़ा 120 से अधिक रहने की उम्मीद है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सन्मार्ग एक्सक्लूसिव :आर्थिक पैकेज से हर वर्ग को राहत, न अन्न की कमी, न धन की : ठाकुर

 विशेष संवाददाता, कोलकाता : कोविड-19 संकट के आघात से देश और देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए केंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। आगे पढ़ें »

केंद्र और राज्यों को प्रवासियों को उनके घर पहुंचाने के लिए 15 दिन और : सुप्रीम कोर्ट

कोरोना इलाज खर्च पर एससी ने केंद्र से मांगा जवाब नयी दिल्ली : न्यायालय ने कहा कि सभी प्रवासी कामगारों को उनके पैतृक स्थानों तक पहुंचाने आगे पढ़ें »

ऊपर