कोरोना : ओलंपिक के बाद अब विंबलडन पर खतरा, टालने या रद्द करने पर विचार

लंदन : वर्ष के तीसरे ग्रैंड ग्रैंड स्लेम विम्बलडन को कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर स्थगित या रद्द करने के बारे में फैसला अगले सप्ताह आपात बैठक के बाद लिया जाएगा। आल इंग्लैंड क्लब ने कहा है कि इस साल की विम्बलडन चैंपियनशिप को स्थगित या रद्द करने के बारे में कोई भी फैसला अगले सप्ताह आपात बैठक के बाद लिया जाएगा। दुनिया के सबसे पुराने टूर्नामेंट को कराने वाले क्लब ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा कि वह हालात पर लगातार नजर रखेगा और उसी के हिसाब से वह चैंपियनशिप के बारे में फैसला करेगा। ऑल इंग्लैंड क्लब ने बयान जारी कर कहा, ‘‘इस साल टूर्नामेंट कराने को लेकर सभी सीनियर अफसरों से बात की जा रही है। ग्रैंड स्लैम को टालना या रद्द करना है, इस पर चर्चा के लिए अगले हफ्ते आपातकालीन बैठक बुलाई गई है। हम कोरोनावायरस को लेकर कोई जोखिम नहीं उठाना चाहते। इस वर्ष विम्बलडन का आयोजन 29 जून से 12 जुलाई तक होना है। महिलाओं के डब्ल्यूटीए और पुरुषों के एटीपी टूर ने अपने सभी टूर्नामेंट सात जून तक स्थगित कर दिये थे। इन दोनों टेनिस संगठनों के स्थगित मुकाबलों में मैड्रिड और रोम में होने वाली एटीपी/डब्ल्यूटीए टूर्नामेंट, स्ट्रासबर्ग में आयोजित होने वाले डब्ल्यूटीए टूर्नामेंट तथा म्यूनिख, एस्टोरिल, जेनेवा और लियोन में आयोजित होने वाले एटीपी टूर्नामेंट शामिल हैं। वर्ष के दूसरे ग्रैंड स्लेम फ्रेंच ओपन को स्थगित कर दिया गया है और साल के आखिरी ग्रैंड स्लेम यूएस ओपन भी स्थगित किया जा सकता है। अमेरिकी टेनिस संघ (यूएसटीए) कोरोना वायरस के कारण यूएस ओपन को स्थगित करने पर विचार कर रहा है। उल्लेखनीय है कि यूएस ओपन का आयोजन 24 अगस्त से 13 सितंबर तक होना है। इससे पहले फ्रेंच ओपन को 20 सितंबर तक स्थगित किया गया था। फ्रेंच ओपन का आयोजन 24 मई से सात जून तक होना था। लेकिन यह टूर्नामेंट अब 20 सितंबर से शुरू होकर चार अक्टूबर तक चलेगा। फ्रेंच ओपन की नई तारीख यूएस ओपन के सिर्फ एक सप्ताह बाद तय की गई है।
.

शेयर करें

मुख्य समाचार

शेयर मार्केट को लॉकडाउन अपडेट्स का इंतजार, निफ्टी- सेंसेक्स में 0.5% की गिरावट

नई दिल्ली : बुधवार के कारोबार के दौरान निफ्टी और सेंसेक्स में उतार-चढ़ाव देखा गया और 0.5% की गिरावट के साथ बंद हुआ।  एंजिल ब्रोकिंग आगे पढ़ें »

income tax office

आयकर 5 लाख रुपये तक के सभी लंबित आयकर रिफंड तत्काल जारी करेगा, 14 लाख करदाताओं को होगा फायदा

नई दिल्ली : कोरोना आपदा के मद्देनजर केंद्र सरकार ने आज कुछ बड़े राहत पैकेजो का ऐलान किया है। वित्त मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति आगे पढ़ें »

ऊपर