कोच रवि शास्त्री ने कहा – धोनी वनडे से संन्यास ले सकते हैं

नयी दिल्ली : भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने खुलासा किया कि भारत के दो बार के विश्व विजेता कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जल्द ही एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं। शास्त्री ने आईसीसी के चार दिवसीय टेस्ट के प्रस्ताव को ‘बकवास’ करार दिया। शास्त्री ने कहा, ‘‘मेरी धोनी से बातचीत हुई और वह हमारी आपस की बात है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया और पूरी संभावना है कि वह एकदिवसीय क्रिकेट को अलविदा कहेंगे। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘लोगों को इस बात का सम्मान करना चाहिए कि वह लंबे समय तक खेल के सभी प्रारूपों में खेलते रहे हैं। अभी जिस उम्र के हैं उसमें हो सकता है कि वह केवल टी20 प्रारूप में खेलना चाहें जिसका मतलब है कि वह फिर से खेलना शुरू करेंगे। वह आईपीएल में खेलेंगे और देखते हैं कि उनका शरीर कैसी प्रतिक्रिया करता है। ’’
धोनी कभी टीम पर खुद को थोपते नहीं है
कोच ने दोहराया कि 38 वर्षीय धोनी अगर इंडियन प्रीमियर लीग में अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो वह टी20 विश्व कप के लिये चयन के दावेदार हो सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘वह निश्चित तौर पर आईपीएल में खेलेगा। मैं धोनी के बारे में एक बात जानता हूं कि वह कभी टीम पर खुद को थोपता नहीं है। लेकिन अगर आईपीएल में वह बेहतरीन प्रदर्शन करता है तो फिर (वह दावेदार होंगे)। ’’ धोनी ने भारत की तरफ से आखिरी मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व कप सेमीफाइनल में खेला था। धोनी ने भारत की तरफ से 350 वनडे, 90 टेस्ट ओर 98 टी अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं और उनके नाम पर 829 शिकार दर्ज हैं। उनके अगुवाई में भारत ने 2007 में टी20 विश्व कप और 2011 में वनडे विश्व कप जीता था।
शास्‍त्री ने चार दिवसीय टेस्ट को बकवास बताया
शास्त्री ने कहा कि टी20 विश्व कप के लिये टीम का चयन करते समय फार्म और अनुभव को तवज्जो दी जाएगी। उन्होंने कहा, ‘‘हमें व्यक्ति के अनुभव और फार्म पर विचार करना होगा। उन्हें पांचवें छठे नंबर पर बल्लेबाजी करनी होगी। शास्त्री ने चार दिवसीय टेस्ट पर सचिन तेंदुलकर और रिकी पोंटिंग से सहमति जतायी जिन्होंने इसका विरोध किया था। उन्होंने कहा, ‘‘चार दिवसीय टेस्ट बकवास है। अगर ऐसा होता है तो फिर सीमित ओवरों का टेस्ट मैच हो सकता है। पांच दिवसीय टेस्ट मैच में बदलाव की कोई जरूरत नहीं है। अगर इसमें बदलाव ही करना है तो चोटी की छह टीम पांच दिवसीय और अगली छह टीमें चार दिवसीय टेस्ट खेलें। ’’
गुलाबी गेंद से स्पिनरों को फायदा नहीं
शास्त्री ने कहा, ‘‘अगर आप टेस्ट क्रिकेट को बचाना चाहते हैं तो शीर्ष छह टीमों को एक दूसरे के खिलाफ खेलना चाहिए। दिन रात्रि टेस्ट मैच के बारे में शास्त्री ने कहा, ‘‘दिन रात्रि टेस्ट अभी परीक्षण के दौर से गुजर रहा है। मेरा अब भी मानना है गुलाबी गेंद से स्पिनरों को किसी तरह का फायदा नहीं होता। उन्हें दिन रात्रि टेस्ट के लिये सही गेंद की तलाश करनी होगी। दिन में यह टेस्ट मैच लगता है और रात में आधा टेस्ट मैच। ’’

शेयर करें

मुख्य समाचार

सन्मार्ग एक्सक्लूसिव :आर्थिक पैकेज से हर वर्ग को राहत, न अन्न की कमी, न धन की : ठाकुर

 विशेष संवाददाता, कोलकाता : कोविड-19 संकट के आघात से देश और देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए केंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। आगे पढ़ें »

इन किरदारों को निभाकर मुझे बहुत अनुभव मिलता है : पाओली दाम

अभिनेत्री पाओली दाम ने बॉलीवुड फिल्म" हेट स्टोरी" 2011 से डेब्यू किया। इस फिल्म में भी उनका बहुत ही बोल्ड एवं सेक्सी किरदार रहा। बांग्ला आगे पढ़ें »

ऊपर