कैंसर से लड़ रहे इस बैडमिंटन स्टार ने लिया संन्यास

69 अंतरराष्ट्रीय खिताब अपने नाम किया
नई दिल्लीः महान बैडमिंटन ‌खिलाड़ी मलेशिया के ली चोंग वेई ने गुरुवार को संन्यास की घोषणा की। नाक की कैंसर से पीड़ित वेई का करियर 19 साल का रहा। 36 साल के वेई ने आंखों में आंसू लिये अपनी विदाई की घोषणा की। वेई ने कहा कि वह कोर्ट पर लौटना चाहते थे, लेकिन बीमारी के आगे मजबूर रहे। वेई के नाम वर्ल्ड रैंकिंग में 348 सप्ताह तक नंबर-1 पर रहने का रिकॉर्ड है।
परिवार के साथ समय व्यतीत करना चाहते हैं
वेई ने कहा ‘संन्यास का फैसला काफी मुश्किल भरा रहा। मुझे इस खेल से वाकई प्यार है, लेकिन यह खेल काफी डिमांडिंग है।’ ली ने कहा कि वह कुछ दिन आराम करेंगे और परिवार के समय व्यतीत करेंगे और अपनी पत्नी को हनीमून पर ले जाएंगे।
दो बच्चों के पिता ली के बीते साल नाक के कैंसर से पीड़ित होने का पता चला था। ताइवान में उनका इलाज चला था। ली ने कहा ‘मुझे पछतावा है। स्वास्थ्य कारणों से संन्यास लेना वाकई दुखद है।’
टोक्यो ओलंपिक के बाद संन्यास लेना चाहते थे
ली ने यह भी कहा कि कैंसर का इलाज पूरा हो गया है। ली ने कहा ‘मैं टोक्यो ओलंपिक के बाद संन्यास लेना चाह रहा था, लेकिन स्वास्थ्य कारणों से मुझे यह फैसला लेना पड़ा।’ ली ने तीन बार ओलंपिक रजत पदक जीते। उन्होंने करियर के दौरान कुल 69 अंतरराष्ट्रीय खिताब अपने नाम किये।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर