एल्गर-डि कॉक के शतक के दम पर द. अफ्रीका ने 8 विकेट पर 385 रन बनाये

विशाखापत्तनम : डीन एल्गर और क्विंटन डिकाक ने भारतीय गेंदबाजों का डटकर सामना करके दक्षिण अफ्रीका को पहले टेस्ट क्रिकेट मैच के तीसरे दिन शुक्रवार को यहां अच्छी वापसी दिलायी। एल्गर ने 160 रन की लाजवाब पारी खेली और वह 2010 के बाद भारतीय सरजमीं पर शतक जड़ने वाले पहले दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज बने, जबकि डिकाक (111) ने अपने सदाबहार अंदाज में बल्लेबाजी करके सैकड़ा जड़ा। इन दोनों की शतकीय पारियों से दक्षिण अफ्रीका ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक आठ विकेट पर 385 रन बनाये हैं।
अश्‍विन ने 5 विकेट चटकाये
दक्षिण अफ्रीका अभी भारत से 117 रन पीछे है जिसने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 502 रन बनाकर समाप्त घोषित की थी। भारतीय पारी का आकर्षण मयंक अग्रवाल (215) और रोहित शर्मा (176) की सलामी जोड़ी के बड़े शतक रहे। भारत को पहले दो सत्र में केवल दो सफलताएं मिली लेकिन तीसरे सत्र में वह एल्गर और डिकाक दोनों को आउट करने में सफल रहा। रविचंद्रन अश्विन भारत के सबसे सफल गेंदबाज रहे हैं। उन्होंने अब तक 128 रन देकर पांच विकेट लिये हैं। दक्षिण अफ्रीका ने दिन की शुरुआत तीन विकेट पर 39 रन से की और तब मैच एकतरफा लग रहा था लेकिन इसके बाद एल्गर ने पारी को अच्छी तरह से संवारा और उन्हें दूसरे छोर से पर्याप्त सहयोग मिला।
एल्‍गर ने 12वां शतक पूरा किया
एल्गर और कप्तान फाफ डुप्लेसिस (55) ने पांचवें विकेट के लिये 115 रन की साझेदारी की। इसके बाद डिकाक ने बखूबी उनका साथ दिया। इन दोनों ने छठे विकेट के लिये अब तक 164 रन जोड़े। अश्विन ने दूसरे सत्र में डुप्लेसिस का विकेट लेने के बाद तेजी से टर्न लेती गेंद पर डिकाक को बोल्ड किया। इससे पहले रविंद्र जडेजा (116 रन देकर दो) ने एल्गर का विकेट लेकर टेस्ट मैचों में अपना 200वां विकेट लिया। इससे पहले एल्गर ने उपमहाद्वीप की कड़ी परिस्थितियों में अपने कौशल का शानदार नजारा पेश किया और अपने टेस्ट करियर का 12वां शतक पूरा किया। हाशिम अमला के 2010 में शतक लगाने के बाद वह भारतीय धरती पर तिहरे अंक में पहुंचने वाले पहले दक्षिण अफ्रीकी हैं। उनके बल्ले से 18 चौकों के अलावा चार छक्के भी निकले। पिच बल्लेबाजी के अनुकूल थी फिर दक्षिण अफ्रीका ने शानदार वापसी की, क्योंकि दूसरे दिन उसने अपने शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाज जल्दी गंवा दिये थे।
चेतेश्वर पुजारा ने एल्गर का कैच पकड़ा
एल्गर तीसरे सत्र में आउट होने वाले पहले बल्लेबाज थे जिनका चेतेश्वर पुजारा स्क्वायर लेग पर खूबसूरत कैच लिया। डिकाक ने भी एल्गर की तरह अश्विन पर छक्का जड़कर अपना शतक पूरा किया लेकिन वह इसके बाद लंबी पारी नहीं खेल पाये। अश्विन ने वर्नोन फिलैंडर को बोल्ड करके अपना पांचवां विकेट लिया। स्टंप उखड़ने के समय सेनुरन मुतुस्वामी 12 और केशव महाराज तीन रन पर खेल रहे थे। भारतीय स्पिनरों को तीसरे दिन शुरू से ही सबसे बड़ा खतरा माना जा रहा था लेकिन एल्गर ने बड़ी कुशलता से उनका सामना किया। एल्गर ने अश्विन पर कॉउ कार्नर पर छक्का जड़कर लाजवाब अंदाज में अपना शतक पूरा किया।
डिकाक ने पांचवां टेस्ट शतक जमाया
दूसरी तरफ डुप्लेसिस के 58वें ओवर में आउट होने के बाद डिकाक ने स्पिनरों को निशाने पर रखा। वह सीमित ओवरों की शैली में खेले और अपना पांचवां टेस्ट शतक लगाया। उन्होंने अपनी पारी में 16 चौके और दो छक्के लगाये। भारत ने बीच में हनुमा विहारी और रोहित शर्मा जैसे कामचलाऊ स्पिनर भी आजमाये। दक्षिण अफ्रीका ने सुबह तेम्बा बावुमा (18) का विकेट जल्दी गंवा दिया जिससे स्कोर चार विकेट पर 63 रन हो गया।
इशांत ने बावुमा को चलता किया
बावुमा को इशांत शर्मा ने पगबाधा आउट किया। इसके बाद एल्गर ने डुप्लेसिस ने भारतीय आक्रमण का डटकर सामना किया तथा लंच तक स्कोर चार विकेट पर 153 रन पर पहुंचाया। इस बीच एल्गर जब 74 रन पर थे तब रविंद्र जडेजा की गेंद पर साहा उनका मुश्किल कैच नहीं ले पाये। दूसरी तरफ डुप्लेसिस सहज होकर खेल रहे थे उन्होंने अश्विन पर पारी का पहला छक्का लगाया। डुप्लेसिस की पारी में आठ चौके और एक छक्का शामिल है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

नागरिकता कानून के खिलाफ ममता की रैली, कहा- भाजपा पैसे देकर कराती है हिंसा

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपनी पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं के साथ सोमवार को कोलकाता की सड़कों पर उतरीं और पूरे देश आगे पढ़ें »

chauhan

असम में तैनात सेना की टुकड़ियां एक या दो दिन में बैरक में वापस आ जाएंगी: सेना कमांडर

कोलकाता : सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान ने सोमवार को कहा कि असम में ‌स्थिति तेजी से सुधर रही है। उन्होंने उम्मीद जताई आगे पढ़ें »

ऊपर