एथलेटिक्स चैम्पियनशिप : भाला फेंक के फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बनी अन्नू रानी

दोहा : भारत की भाला फेंक में शीर्ष महिला एथलीट अन्नू रानी ने विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में सोमवार को यहां नये राष्ट्रीय रिकार्ड के साथ फाइनल के लिये क्वालीफाई किया। 27 साल की अन्नू को क्वालीफिकेशन दौर में ग्रुप ए में रखा गया था। उन्होंने अपने पहले प्रयास में 57.05 मीटर दूर भाला फेंका। दूसरे प्रयास में उनके भाले ने 62.43 मीटर की दूरी तय की जो उनके राष्ट्रीय रिकार्ड 62.34 मीटर से बेहतर है। इस प्रयास से वह फाइनल में जगह बनाने में भी सफल रही। वह विश्व चैंपियनशिप में भाला फेंक स्पर्धा के फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट भी बन गयी हैं। अन्नू ग्रुप ए में तीसरे स्थान पर रही और क्वालीफाईंग दौर में पांचवीं सर्वश्रेष्ठ एथलीट के रूप में फाइनल में पहुंची। केवल दो एथलीट, चीन की एशियाई चैंपियन लियु हुइहुइ (67.27 मीटर) और जर्मनी की क्रिस्टीन हुसोंग (65.29 मीटर) ही 63.50 मीटर के क्वालीफिकेशन मानदंड को हासिल कर पायी जबकि अन्नू सहित अन्य दस ने इसके बाद सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के आधार पर फाइनल में प्रवेश किया। उन्होंने तीसरे प्रयास में भाले को 60.50 मीटर फेंका। अपने ग्रुप में वह तीसरे स्थान पर रही। चीन की लियू शियिंग (63.48) पहले जबकि स्लोवेनिया की रतेज मार्टिना (62.87) दूसरे स्थान पर रही। इस बीच अन्य भारतीय एथलीटों में अर्चना सुशींद्रन (महिलाओं की 200 मीटर) और अंजलि देवी (महिलाओं की 400 मीटर) पहले दौर से आगे बढ़ने में नाकाम रही। विश्व एथलेटिक्स संस्था आईएएएफ से आखिरी क्षणों में निमंत्रण पाने वाली अर्चना हीट नंबर दो में सबसे अंतिम और कुल 43 भागीदारों के बीच 40वें स्थान पर रही। उन्होंने 23.65 सेकेंड का समय निकाला जबकि उनका व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 23.18 सेकेंड है। इक्कीस वर्षीय अंजलि 400 मीटर दौड़ में 52.33 सेकेंड के समय के साथ हीट नंबर छह में छठे और कुल 46 एथलीटों में 36वें स्थान पर रही।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एलजी ने बजट सेगमेंट में डब्ल्यू 10 अल्फा लॉन्च किया, जानिए फीचर्स

नई दिल्ली : मोबाइल फोन कंपनी एलजी ने डब्ल्यू सीरीज के तहत नया स्मार्टफोन डब्ल्यू 10 अल्फा लॉन्च कर दिया है और यह फोन देशभर आगे पढ़ें »

gold

सोनभद्र में जमीन के अंदर मिला 3 हजार टन सोना, सरकार करेगी नीलामी

सोनभद्र : उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में 3 हजार टन सोना मिला है। राज्य के खनिज विभाग ने इसकी पुष्टि की है। विभाग के आगे पढ़ें »

ऊपर