आस्ट्रेलियाई ओपन पर बारिश का असर, सेरेना और फेडरर की जीत से शुरुआत

मेलबर्न : सेरेना विलियम्स और रोजर फेडरर ने आस्ट्रेलियाई ओपन में सोमवार को जीत से शुरुआत की जिसके बाद बारिश के कारण अफरा-तफरी का माहौल बन गया और इस तरह से जंगलों की लगी आग के कारण भी चर्चा में रहे वर्ष के पहले ग्रैंडस्लैम के शुरुआती दिन कई मैच नहीं हो पाये।
मैच के दाैरान मूसलाधार बारिश
धुंध के कारण पिछले सप्ताह क्वालीफाईंग के दौरान कई खिलाड़ियों को खांसी और सांस लेने में तकलीफ हुई जिसके कारण टूर्नामेंट के आयोजन में देरी की संभावना बन गयी थी। टूर्नामेंट अपने तय कार्यक्रम के अनुसार शुरू हुए क्योंकि वायु क्‍वालिटी अच्छी आंकी गयी थी लेकिन चार घंटे बाद ही मूसलाधार बारिश के कारण बाहर के कोर्ट पर खेल रोकना पड़ा। विश्व में नंबर तीन फेडरर रॉड लेवर एरेना में छत बंद करने के समय ही कोर्ट से बाहर रहे। उन्होंने वापस लौटकर अमेरिका के स्टीव जानसन को 6-3, 6-2, 6-2 से हराया। यहां 20 साल पहले पदार्पण करने के बाद फेडरर कभी पहले दौर से बाहर नहीं हुए।
सेरेना की ग्रैंड स्लैम में 350वीं जीत
मारग्रेट कोर्ट एरेना और मेलबर्न एरेना में भी छत बंद करने के बाद खेल चलता रहा। मंगलवार को भी बारिश की भविष्यवाणी की गयी है जिससे मैचों के प्रभावित होने की संभावना है। पहले दिन बारिश के कारण 64 में से 48 मैच मंगलवार तक टाल दिये गये। इस बीच अपने 24वें ग्रैंडस्लैम खिताब की अपनी कवायद में लगी सेरेना विलियम्स ने दमदार शुरुआत की जबकि पिछले साल की चैंपियन नाओमी ओसाका ने भी सीधे सेटों में जीत से दूसरे दौर में जगह बनायी। सेरेना ने रूस की एनस्तासिया पोटापोवा के खिलाफ पहला सेट 19 मिनट में जीता और फिर केवल 58 मिनट में 6-0, 6-3 से मैच अपने नाम किया। सेरेना की ग्रैंड स्लैम में यह 350वीं जीत है।
15 वर्षीय कोको ने वीनस को बाहर किया
सेरेना की बड़ी बहन वीनस को हालांकि 15 वर्षीय कोको गॉफ ने 7-6 (7/5) 6-3 से हराकर बाहर का रास्ता दिखाया। ओसाका ने भी चेक गणराज्य की मैरी बोजकोवा को 80 मिनट में 6-2, 6-4 से जीत दर्ज की। सेरेना की सहेली और संन्यास लेने से पहले अपने अंतिम ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट में खेल रही कारोलिन वोजनियाकी भी सीधे सेटों में जीत दर्ज करके दूसरे दौर में पहुंच गयी। डेनमार्क की इस गैरवरीय खिलाड़ी ने अमेरिका की क्रिस्टी एन को 6-1, 6-3 से हराया।
एशले बार्टी ने पिछड़ने के बाद की वापसी
शाम का सत्र ढके हुए सेंटर कोर्ट में खेला गया जिसमें आस्ट्रेलिया की दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी एशले बार्टी ने एक सेट से पिछड़ने के बाद शानदार वापसी करते हुए लेसिया सुरेंको को 5-7 6-1 6-1 से शिकस्त दी। दुनिया के छठे नंबर के खिलाड़ी स्टेफानोस सिटसिपास ने सालवाटोर कारूसो को 6-0, 6-2, 6-3 से शिकस्त देकर दूसरे दौर मे प्रवेश किया। इस 21 साल के खिलाड़ी से काफी उम्मीदें हैं क्योंकि उसने 2019 में रोजर फेडरर को हराकर उलटफेर करते हुए अंतिम चार में प्रवेश किया था।
कनाडा के स्टार खिलाड़ी शापोवालोव पहले दौर में ही बाहर
टूर्नामेंट के अधिकारी प्रदूषण पर करीबी नजर लगाये हैं और अगर पीएम 2.5 200 तक पहुंचता है तो वे खेल रोक देंगे और मुख्य स्टेडियम की तीन छत बंद कर देंगे। अन्य नतीजों में पुरुष वर्ग में कनाडा के युवा स्टार 13वीं वरीयता प्राप्त डेनिस शापोवालोव को पहले दौर में ही बाहर का रास्ता देखना पड़ा। उन्हें हंगरी के मार्टन फुकसोविक्स ने 6-3, 6-7 (7/9), 6-1, 7-6 (7/3) से हराया। इटली के आठवीं वरीयता प्राप्त माटियो बेरेटिनी और अर्जेंटीना के 22वें वरीय गुइडो पेला भी दूसरे दौर में पहुंच गये लेकिन क्रोएशिया के 25वें वरीय बोर्ना कोरिच का सफर पहले दौर में ही समाप्त हो गया।
बेरेटिनी ने आस्ट्रेलिया के एंड्रयू हैरिस को 6-3, 6-1, 6-3 से जबकि पेला ने भी स्थानीय खिलाड़ी जॉन पैट्रिक स्मिथ को 6-3, 7-5, 6-4 से पराजित किया जबकि गैरवरीयता प्राप्त अमेरिकी सैम क्वेरी ने कोरिच को 6-3, 6-4, 6-4 से शिकस्त दी। महिला वर्ग में पहले दौर में वरीय खिलाड़ियों ने आसान जीत दर्ज की। अमेरिका की 14वीं वरीय सोफिया केनिन ने इटली की मार्टिना ट्रेविसान को 6-2, 6-4 से, क्रोएशिया की 13वीं वरीय पेट्रा मार्टिच ने अमेरिका की क्रिस्टीना मैकहाले को 6-3, 6-0 से और रूस की इकटेरिना अलेक्सांद्रोवा ने स्विट्जरलैंड की जिल टीचमैन को 6-4, 4-6, 6-2 से हराया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

प्राइवेट अस्पतालों का सरकार पर करीब 20 हजार करोड़ रुपए बकाया जल्द पूरा करे सरकार : सीके मिश्रा

नई दिल्ली : कोरोना वायरस का प्रसार लगतार बढ़ता जा रहा है, वहीं हेल्थसेक्टर तमाम असुविधाएं झेल रहा है। कोरोना के इलाज को लेकर मेडिकल आगे पढ़ें »

वैश्विक इकोनॉमी मे रिकवरी की उम्मीद से कच्चे तेल को मिला प्रोत्साहन, निवेशक सोने से दूर हुए

नई दिल्ली : चीनी अर्थव्यवस्था में सुधार की उम्मीद ने पिछले हफ्ते सोने की कीमतों पर नकारात्मक प्रभाव डाला है। सोने की कीमतों में पिछले आगे पढ़ें »

ऊपर