अपने जेठ के खिलाफ शिकायत करने एसपी ऑफिस पहुंची हसीन जहां

अमरोहाः भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी अपने जेठ हसीब अहमद के खिलाफ शिकायती पत्र देने एसपी ऑफिस पहुंची। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से बताया कि उन्हें हसीब से जान का खतरा है। साथ ही घर का ताला खुलवाने की मांग की। परंतु इसी दौरान पत्र में कुछ संशोधन कराने के लिए बिना पत्र दिए वापस हो गई। अभी वह दोबारा एसपी दफ्तर आएंगी।
इसके पहले भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मुहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां अचानक अपनी ससुराल सहसपुर अलीनगर पहुंचीं। उनके साथ बेटी आयरा और वकील जाकिर हुसैन भी थे। उन्हें घर पर ताला लटका मिला। हसीन ने ताला तोड़ने का प्रयास किया लेकिन सफल नहीं हो सकी। दोपहर तक हसीन वहां रहीं और बाद में एडीएम को शिकायती पत्र सौंपकर घर में दाखिल होने की अनुमति मांगी। एसपी से उनकी मुलाकात नहीं हो सकी। देर शाम तक हसीन जोया में एक परिचित के घर पर ठहरी हुई थीं।
दुष्कर्म और उत्पीड़न का आरोप लगाया है
हसीन ने पति शमी, जेठ हसीब अहमद और अन्य परिजनों के खिलाफ दुष्कर्म, दहेज उत्पीडन व मारपीट का आरोप लगाते हुए कोलकाता में मुकदमा दर्ज कराया है। उसकी विवेचना चल रही है। सुबह सात बजे वह सबसे पहले डिडौली कोतवाली पहुंचीं और सहसपुर अलीनगर स्थित ससुराल जाने के लिए पुलिस सुरक्षा मांगी। प्रभारी निरीक्षक ऋषिराम कठेरिया पुलिस टीम लेकर हसीन के साथ सहसपुर अलीनगर पहुंचे। वहां घर पर ताला लटका मिला।
अपर जिलाधिकारी को शिकायती पत्र सौंपा
हसीन जहां के पहुंचने पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। घर पर ताला लगा होने के कारण हसीन को शमी के चाचा निसार अहमद के घर पर ठहराया गया। शमी के परिवार के चाचा सुल्तान अहमद, मामा मुगीर आलम के साथ अन्य ग्रामीणों ने भी हसीन से बातचीत की। सीओ सदर जितेंद्र सिंह और प्रभारी निरीक्षक की मौजूदगी में हुई दोनों पक्षों की वार्ता में केवल गिले शिकवे हुए। बाद में वकील के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचीं और अपर जिलाधिकारी एमए अंसारी को शिकायती पत्र सौंपा। इसमें उन्होंने घर में दाखिल कराने का अनुरोध किया। एडीएम ने पत्र पर एएसपी ब्रजेश कुमार को जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया लेकिन हसीन की उनसे मुलाकात नहीं हो सकी।
पुलिस से सुरक्षा की मांग
शमी की पत्नी हसीन जहां ने डिडौली कोतवाली पहुंचने के बाद पुलिस से सुरक्षा की मांग की। इसके बाद थाने से पुलिस कर्मियों को लेकर वह अपने शौहर शमी के गांव सहसपुर अलीनगर में अपनी ससुराल पहुंच गईं। इसके बाद ससुराल के घर मे ताला लटकता देख वह पड़ोसी के घर में बैठ गईं। घर पहुंचते शमी की पत्नी हसीन जहां ने बगावती तेवर दिखाते हुए कहा कि उन्हें अब यही रहना है। हसीन जहां अपनी बेटी के साथ यहां पर रहने आई है और स्थानिय पुलिस स्टेशन जाकर इसकी सूचना देते हुए पुलिस से खुद की सुरक्षा की गुहार लगायी है।
आपसी सहमति को तैयार है हसीन
हसीन के अमरोहा पहुंचने की जानकारी मिलते ही शमी के परिजन घर पर ताला लगाकर कहीं चले गए। इसके बाद हसीन अपनी बेटी आयरा के साथ पड़ोस में रहने वाले शमी के चाचा के घर पर रुकी है। हसीन ने कहा कि शमी उससे माफी मांग ले तो वह उसे माफ कर देगी और फिर से अपना घर बसा लेगी, लेकिन शमी ने जो किया है वह बहुत गलत है।
हसीब मुझे मारना चाहते हैंः हसीन
हसीन जहां ने कहा कि हसीब उसकी हत्या करके शमी की शादी अपनी साली के साथ करवाना चाहते हैं। अचानक अपने वकील के साथ हसीन जहां के पहुंचने से गांव में भी काफी खलबली मच गई है। वकील जाकिर हुसैन तथा अपनी बेटी आयरा के साथ अमरोहा पहुंची हसीन जहां ने कहा कि मोहम्मद शमी एक कम पढ़ा-लिखा आदमी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

pak

पाकिस्तान : आसिया बीबी मामले में 86 कट्टरपंथियों को 55 साल कैद की सजा

इस्लामाबाद : पाकिस्तान की एक अदालत ने एक कट्टरपंथी इस्लामी पार्टी के 86 सदस्यों को 55 वर्ष कैद की सजा सुनाई है। इन सभी सदस्यों आगे पढ़ें »

guha

नरेंद्र मोदी परिश्रमी, राहुल गांधी का सांसद चुना जाना विनाशकारी : रामचंद्र गुहा

कोझिकोड : जानेमाने इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने शुक्रवार को कहा कि ‘‘खानदान की पांचवी पीढ़ी’’ के राहुल गांधी के पास भारतीय राजनीति में ‘‘कठोर परिश्रमी आगे पढ़ें »

ऊपर