अक्टूबर तक स्थिति सामान्य होने पर भी हो सकता है आईपीएल : नेहरा

नयी दिल्ली : देशभर में महामारी बन चुके कोरोना वायरस संक्रमण से लोगों के बचाव के लिए लागू 21 दिन के लॉकडाउन के बीच पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का मानना है कि अगर अक्टूबर तक भी कोविड-19 महामारी को नियंत्रित कर दिया जाता है तो इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को वर्ष के अंतिम तीन महीनों में भी आयोजित किया जा सकता है। आईपीएल 2020 को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 29 मार्च से शुरू होना था लेकिन कोरोना वायरस के कारण उसे 15 अप्रैल तक स्थगित कर दिया गया है और अभी इसके आयोजन की संभावना भी नहीं है।
स्थिति नियंत्रण होने पर विश्वास है कि होगा आईपीएल
नेहरा ने स्टार स्पोर्ट्स के एक कार्यक्रम में कहा, ‘आईपीएल अगस्त में नहीं हो सकता क्योंकि वह बारिश का मौसम होता है और ऐसे में कई मैचों के रद्द होने की संभावना रहेगी। अगर अक्टूबर तक विश्व भर में स्थिति नियंत्रण में आ जाएगी तो मुझे पूरा विश्वास है कि आईपीएल होगा।’ कोरोना वायरस के मामलों और उससे होने वाली मौतों में कोई कमी नहीं आ रही है और ऐसे में इस साल आईपीएल के आयोजन की संभावना भी कम हो गयी है। इस घातक वायरस के कारण भारत में लगभग 150 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि विश्व भर में यह संख्या 80 हजार से ऊपर चली गयी है।
युवराज ने धोनी की अगुवाई में किया बेहतर प्रदर्शन
नेहरा ने इसके साथ ही कहा कि युवराज सिंह ने महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में हमेशा अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा, ‘मैंने जितना युवराज के करियर को देखा है तो मुझे लगता है कि उसने महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में अच्छा प्रदर्शन किया। हमने देखा कि किस तरह से उसने 2007 और उसके बाद बल्लेबाजी की। हमने 2011 में देखा कि बीमारी के बावजूद उसने धोनी के नेतृत्व में किस तरह का शानदार प्रदर्शन किया।’ नेहरा ने कहा, ‘मेरा मानना है कि प्रत्येक खिलाड़ी का कोई पसंदीदा कप्तान होता है और मेरे हिसाब से युवराज ने धोनी की अगुवाई में बेहतर प्रदर्शन किया।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

रजनीकांत की राजनीति में एंट्री

- 31 दिसंबर को करेंगे पार्टी का एलान चेन्नईः दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने आखिरकार नई पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है। पार्टी आगे पढ़ें »

यूएन में भारत बोला- करतारपुर साहिब गुरुद्वारा का प्रबंधन हस्तांतरित करना यूएनजीए प्रस्ताव का उल्लंघन

नयी दिल्ली : भारत ने पाकिस्तान द्वारा पवित्र करतारपुर साहिब गुरुद्वारे का प्रबंधन मनमाने तरीके से गैर सिख इकाई को हस्तांरित करने का विरोध करते आगे पढ़ें »

ऊपर