अक्‍टूबर में रहेगी व्रत-त्‍योहारों की धूम, जान लें कब पड़ेंगे नवर‍ात्रि, दशहरा

शेयर करे

कोलकाता : चातुर्मास के दौरान कई महत्‍वपूर्ण व्रत-त्‍योहार पड़ते हैं. इसे त्‍योहारों का मौसम भी कहा जा सकता है। इस साल अधिकमास पड़ने के कारण सावन और उसके बाद के व्रत-त्‍योहार 15 से 20 दिन देरी से पड़ेंगे। अक्‍टूबर में पितृ पक्ष चलेगा, सर्व पितृ अमावस्‍या के पितरों को विदाई दी जाएगी। इसके बाद शारदीय नवरात्रि महापर्व पड़ेगा, फिर दशहरा मनाया जाएगा। इसके अलावा भी शरद पूर्णिमा जैसे महत्‍वपूर्ण पर्व पड़ेंगे। आइए जानते हैं कि अक्‍टूबर में कौनसे महत्‍वपूर्ण व्रत त्‍योहार पड़ रहे हैं।

अक्‍टूबर 2023 व्रत-त्‍योहार लिस्‍ट

जीवित्पुत्रिका व्रत, 6 अक्‍टूबर: जीवित्पुत्रिका व्रत को जितिया व्रत भी कहते हैं। यह व्रत आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को किया जाता है। इस बार जितिया व्रत 6 अक्‍टूबर को रखा जाएगा। यह व्रत माताएं अपनी संतान की लंबी उम्र और अच्‍छी सेहत के लिए रखती हैं।

इंदिरा एकादशी 10 अक्‍टूबर: अश्विन मास के कृष्‍ण पक्ष की एकादशी को इंदिरा एकादशी कहते हैं। इंदिरा एकादशी पितृ पक्ष में पड़ती है और इस दिन दान-पुण्‍य करने से पितरों को मोक्ष मिलता है।

महालय श्राद्ध, 14 अक्‍टूबर: पितृ पक्ष का आखिरी दिन अमावस्‍या के दिन होता है। इसे सर्व पितृ अमावस्‍या या महालया भी कहते हैं। इस दिन पितरों की विदाई की जाती है। साथ ही इस दिन उन पूर्वजों का श्राद्ध किया जाता है, जिनके मरने की तिथि पता ना हो।

शारदीय नवरात्रि 15 अक्‍टूबर: अश्विन मास के शुक्‍ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शारदीय नवरात्रि शुरू होती हैं। इस साल 15 अक्‍टूबर से नवरात्रि शुरू हो रही हैं। नवरात्रि 23 अक्‍टूबर का समाप्‍त होंगी। इस दिन कन्‍या पूजन किया जाएगा।

विजयादशमी 24 अक्‍टूबर: विजयादशमी या दशहरा का पर्व 24 अक्टूबर को मनाया जाएगा। इसी दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था और लंका पर विजय प्राप्त की थी। साथ ही इसी दिन दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाता है।

पापांकुशा एकादशी 25 अक्‍टूबर: पापांकुशा एकादशी का व्रत करने और पूजा करने से सारे पाप नष्‍ट होते हैं। धर्म-शास्‍त्रों के अनुसार पापांकुशा व्रत करन से कई अश्वमेघ और सूर्य यज्ञ करने जितना फल मिलता है।

शरद पूर्णिमा व्रत 28 अक्टूबर: अश्विन मास की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहते हैं। इसे कोजागिरी भी कहते हैं। मान्‍यता है कि शरद पूर्णिमा की रात मां लक्ष्‍मी धरती पर भ्रमण करने आती हैं। साथ ही शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा अपनी सभी सोलह कलाओं से पूर्ण होता है। इस दिन चंद्रमा की रोशनी में खीर बनाकर रखी जाती है और मान्‍यता है कि शरद पूर्णिमा की रात धरती पर अमृत बरसता है।

 

Visited 230 times, 1 visit(s) today
0
0

मुख्य समाचार

कोलकाता : देवों के देव शिव शंभू, शिव शंकर साल का सबसे प्रिय माह श्रावण मास माना जाता है। इस
तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा सितंबर और चौथे सेमेस्टर की परीक्षा मार्च में कोलकाता : 12 साल बाद उच्च माध्यमिक के
हावड़ा : तीन युवकों पर शनिवार को 12 साल की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म कर उसे दफनाने का आरोप लगा
कल मुहर्रम पर महानगर में सुरक्षा चाक-चौबंद, ट्रैफिक होगी प्रभावित करीब 4 हजार पुलिस कर्मी रहेंगे तैनात कल शहर में
कोलकाता : 6 दोस्त मंदारमणि की यात्रा पर गए थे। सभी लोग समुद्र में स्नान करने गये। तभी 2 लोगों
रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया हुई शुरू कोलकाता : माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कक्षा 9 की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। इसे
एक नजर प्याज : 50 रु. प्रति किलो टमाटर : 100 रु. प्रति किलो कोलकाता : पश्चिम बंगाल टास्क फोर्स
संजय मुखर्जी को बनाया गया डीजी दमकल कोलकाता : लोकसभा चुनाव और विधानसभा के उपचुनाव खत्म होते ही एक बार
कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश के बाद ईबी व टास्क फोर्स द्वारा मिलकर महानगर के विभिन्न बाजारों में
कोलकाता : कोलकाता में सोमवार को भगवान जगन्नाथ के 53वां उल्टा रथयात्रा का आयोजन किया गया। इस्कॉन कोलकाता के सौजन्य
कोलकाता : महानगर व आसपास क्षेत्रों के 19 अहम ब्रिज और फ्लाईओवर की मरम्मत की जायेगी। केएमडीए ने इसकी तालिका
कोलकाता : राज्य के मोटर ट्रेनिंग स्कूलों पर परिवहन विभाग द्वारा नकेल कसी जाने के लिये कई अहम कदम उठाये
ऊपर