सरकारी बैंकोंं की घोर लापरवाही

डॉ. भरत झुनझुनवाला
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने चिंता जतायी है कि सरकारी बैंकोंं द्वारा दिए गए लोन बड़ी मात्रा में खटाई में पड़ रहे हैं। इससे संपूर्ण अर्थव्यवस्था पर संकट मंडराने लगा है। याद करें कि सन् 2008 में

A cashier (L) counts currency notes as customers wait inside a bank in Hyderabad March 22, 2010. REUTERS/Krishnendu Halder/Files

अमरीकी बैंकों पर संकट उत्पन्न हो गया था। उन्होंने बड़ी मात्रा में लेहमन ब्रदर्स जैसी कंपनियों को लोन दिए थे। लेहमन ब्रदर्स इन लोन को वापस नहीं दे पाया था। फलस्वरूप संपूर्ण अमरीकी अर्थव्यवस्था चरमरा गयी थी। इसी प्रकार का संकट अपने देश में भी उत्पन्न हो सकता है। इस भावी संकट से निपटने के लिए वित्त मंत्री ने सरकारी बैंकों की पूंजी में सरकारी निवेश बढ़ाने की योजना बनायी है। जैसे मान लीजिए अमुक सरकारी बैंक द्वारा दिए गए लोन खटाई में पड़ गए। इन लोन के रिपेमेंंट से बैंक को अपेक्षित राशि प्राप्त नहीं हो रही है। इन लोन को देने के लिए बैंक ने जनता से फिक्स डिपाजिट लिए थे। इन फिक्स डिपाजिट का समय पूरा हो गया। बैंक के सामने संकट पैदा हो गया। फिक्स डिपाजिट का भुगतान करना है परंतु लोन का रिपेमेंट नहीं आ रहा है। जैसे दुकानदार ने उधार पर माल खरीद कर आपको उधार पर बेच दिया। आप द्वारा दुकानदार को पेमेंंट नहीं किया जाए तो दुकानदार के सामने संकट पैदा हो जाता है। इसी प्रकार बैंकों को फिक्स डिपाजिट का पेमेंंट करना होता है, परंतु दिए गए लोन का रिपेमेंट नहीं आने से संकट पैदा हो जाता है।
इस संकट से सरकारी बैंकों को उबारने के लिए वित्त मंत्री ने उनकी पूंजी में निवेश करने की योजना बनाई है। जैसे आपकी दुकान का कर्मचारी चोर है। अपने जान पहचान वाले ग्राहकों को वह माल सस्ता दे देता है। दुकान को घाटा लग रहा है। ऐसे में आप घर के जेवर बेचकर दुकान में पूंजी लगाएं तो इसकी क्या सार्थकता है? जरूरी है कि पहले कर्मचारी पर नियंत्रण स्थापित करें। घाटे की पूर्ति के लिए जेवर बेचना उचित नहीं है। दुकान के विस्तार के लिए घर के जेवर बेचे जाएं तो समझ आता है। इसी प्रकार हमारे सरकारी बैंक घाटे में चल रहे है, चूंकि इनके कर्मी अकुशल हैं अथवा भ्रष्ट हैं।
यदि किसी पाठक ने सरकारी बैंक से लोन लेने का प्रयास किया होगा तो उसे भ्रष्टाचार का अनुभव होगा। मैनेजरों ने दलाल नियुक्त कर रखे हैं, जिनके माध्यम से घूस वसूली जाती है। यही कारण है कि सरकारी बैंक घाटे में चल रहे हैं। निजी बैंकों की स्थिति तुलना में अच्छी है। एक रपट के मुताबिक सरकारी बैंकों द्वारा दिए गए 50 प्रतिशत ऋण ओवर ड्यू हो गए हैं यानी समय पर पेमेंंट नहीं कर पा रहे हैं। तुलना में प्राइवेट बैंकों द्वारा दिए गए केवल 20 प्रतिशत लोन ओवर ड्यू हैं। अर्थव्यवस्था की मंदी दोनों प्रकार के बैंकों को बराबर प्रभावित करती है। परंतु सरकारी बैंकों की लचर व्यवस्था के कारण ओवर ड्यू ज्यादा है।
सरकारी एवं प्राइवेट बैंकों के मैनेजमेंट में मौलिक अंतर है। सरकारी बैंक के अधिकारियों को बैंक के मुनाफे या घाटे से कम ही सरोकार होता है। उनके बैंक को घाटा लगे तो भी वेतन पूर्ववत बने रहते हैं। उन्हें मामूली सजा दी जा सकती है, जैसे ट्रांसफर कर दिया जाए। तुलना में प्राइवेट बैंक के मालिकों को स्वयं घाटा लगता है। बैंक को घाटा लगा तो उनके शेयरों के दाम गिर जाते हैं। यह मौलिक समस्या सभी सरकारी कंपनियों में विद्यमान है। लेकिन इस अकुशलता के बावजूद विशेष परिस्थितियों में सरकारी कंपनियां बनाई जाती हैं। जैसे स्वतंत्रता के बाद देश में स्टील के उत्पादन के लिए भिलाई जैसी कंपनियां लगाई गयी, चूंकि उस समय प्राइवेट उद्यमियोें में स्टील कंपनी लगाने की क्षमता नहीं थी। इसी आधार पर इंदिरा गांधी ने सत्तर के दशक में सरकारी बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था। उन्होंने सोचा कि प्राइवेट बैंकों द्वारा केवल बड़े उद्यमियों को लोन दिए जा रहे हैं। आम आदमी को लोन देने में ये रुचि नहीं लेते है। इसलिए इनका राष्ट्रीयकरण कर दिया। इसके बाद ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकों का विस्तार भी हुआ। परंतु कुछ ही समय बाद पुरानी स्थिति कायम हो गयी।
सरकारी बैंकों ने ब्रांच गांव में अवश्य स्थापित किए परंतु इनका मुख्य कार्य गांव की पूंजी को सोख कर शहर पहुंचाना हो गया। देश के ग्रामीण ब्रांचों में 100 रुपये जमा होते हैं तो केवल 25 रुपये के लोन इस क्षेत्र में दिए जाते हैं। शेष 75 रुपये मुंबई के माध्यम से बड़े उद्यमियो को पहुंचा दिए जाते हैं। राष्ट्रीयकरण का अंतिम परिणाम सुखद नहीं रहा है। गरीब को लोन देने का मुख्य उद्देश्य पूरा नहीं हुआ बल्कि उद्यमियों को दिए जा रहे लोन की गुणवत्ता में गिरावट आई, चूंकि अब लोन अकुशलता एवं भ्रष्टाचार से चलित होते हैं।
मूल समस्या है कि बैंकिंग व्यवस्था को आम आदमी के पक्ष में कैसे चलाया जाए। इस कार्य को दो स्तर पर संपन्न करना होगा। सर्वप्रथम आम आदमी द्वारा लोन की मांग बढ़ाने की जरूरत है। कहावत है कि घोड़े को पानी तक ले जाना संभव है परंतु पानी पिलाना संभव नहीं है। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्र में ईमानदार मैनेजर बैंक खोल कर बैठा हो तो भी निरर्थक है, यदि ग्रामीण लोगों का धंधा नहीं चल रहा हो और उनके द्वारा लोन लेने की मांग ही न की जाए। आज हमारी अर्थव्यवस्था ऑटोमेटिक मशीनों की तरफ बढ़ रही है। आम आदमी के रोजगार घट रहे हैं। इन रोजगार को संरक्षण देना होगा। साथ-साथ रिजर्व बैंक को सख्ती करनी होगी। रिजर्व बैंक ने व्यवस्था बना रखी है कि बैंकों द्वारा दिए गए ऋण का एक हिस्सा छोटे उद्योगों एवं कृषि को दिया जाए। परंतु इसे सख्ती से लागू नहीं किया जा रहा है। इस व्यवस्था को लागू करने के साथ सभी सरकारी बैंकों का निजीकरण कर देना चाहिए, तब इनमें व्याप्त अकुशलता तथा भ्रष्टाचार से देश को मुक्ति मिल जाएगी। इनके घाटे, अकुशलता एवं भ्रष्टाचार की भरपाई के लिए वित्त मंत्री को पूंजी उपलब्ध नहीं करानी पड़ेगी, बल्कि इनके निजीकरण से भारी मात्रा में धन भी मिलेगा, जिनका उपयोग अन्य जरूरी कार्यों में निवेश के लिए किया जा सकता है।- लेखक आर्थिक मामलों के विशेषज्ञ हैं।

एसे अन्य लेख

Leave a Reply

मुख्य समाचार

यहा पढ़े अप्रैल माह में क्या कहते..

नई दिल्लीः अप्रैल का महीना ज्योतिषशास्त्र की दृष्टि से बहुत ही खास होने वाला है। महीने के पहले हफ्ते में ही नवरात्र शुरू हो रहे आगे पढ़े »

पाक सेना की आलोचना करने वाली महिला..

अपहरण के पीछे था पाक की खुफिया विभाग व सेना का हाथ, डर के चलते महिला ने पुलिस को नहीं दिया बयान लाहौरः पाकिस्तान में पाक आगे पढ़े »

लाइलाज नहीं है कैंसर, समय पर जानकारी..

नारायणा हैल्थ द्वारा संचालित धर्मशिला नारायणा सुपरस्पेशलिटी अस्पताल ने विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर ‘चेतना - एक पहल विजेताओं द्वारा’ नाम से कार्यक्रम का आगे पढ़े »

आंतरिक सुरक्षा पर बड़ा निर्णय, 25 हजार..

नयी दिल्ली : केंद्र ने आंतरिक सुरक्षा की चुनौतियों तथा राज्यों में कानून व्यवस्था की स्थिति से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए बड़ा निर्णय आगे पढ़े »

कांग्रेस के आत्मघाती चेहरे

कांग्रेस में इन दिनों एक के बाद एक कई आत्मघाती चेहरे सामने आ रहे हैं, जो समय-समय पर कांग्रेस की साख, विश्वसनीयता और उसके अस्तित्व आगे पढ़े »

सम्पादकीय : खतरनाक दोपहरी और लापरवाह ड्राइवर

हिंदू लोकाचार में कहा गया है कि सूरज जब मध्य आकाश से नीचे की ओर ढलने लगे तो यात्राएं रोक देनी चाहिए। न जाने समय आगे पढ़े »

खाते वक्त पानी न पीयें,नहीं तो……

क्या आपको भी खाना खाते वक्त पानी पीने की आदत हैं.....?? अगर आपका जवाब 'हाँ' है तो अब सावधान हो जायें। आपकी ये आदत आपके आगे पढ़े »

भाजपा महिला मोर्चा ने बसपा नेताओं की..

लखनऊ : भाजपा महिला मोर्चा ने भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) से निष्कासित दयाशंकर सिंह के परिजनों के खिलाफ कथित अभद्र टिप्पणी के अभियुक्त बहुजन समाज पार्टी(बसपा) आगे पढ़े »

लालू ने की बिहारवासियों को राज्य की..

पटना : देश के कई अन्य राज्यों की तरह बिहार के वासियों को अपने प्रदेश की नौकरियों में 80 प्रतिशत आरक्षण दिये जाने की मांग आगे पढ़े »

पार्टी से अलग होकर सहयोगी दे रहे..

लखनऊः विधानसभा में विरोधी दल के नेता रहे स्वामी प्रसाद मौर्य और वरिष्ठ नेता आर. के. चौधरी के बाद बुधवार को 2 विधायकों ने बगावत आगे पढ़े »

आज और अभी के समाचार

मैनचेस्टर सिटी ने एफए कप जीता, 116..

नयी दिल्लीः वेम्बले स्टेडियम में हुए एफए कप के फाइनल में इंग्लैंड के क्लब मैनचेस्टर सिटी ने वेटफोर्ड को 6-0 से मात दे दिया। इस आगे पढ़े »

कमल हासन ने अब महात्मा गांधी ‘सुपरस्टार’..

चेन्नई : अभिनय की दुनिया से राजनीति के क्षेत्र में कदम रखने वाले मक्कल निधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने रविवार को महात्मा आगे पढ़े »

आईआरजीसी के प्रमुख मेजर जनरल हौसेन सालामी

तेहरान : अमेरिका और ईरान के बीच तनाव चरम पर है। अब ईरान के सर्वोच्च सुरक्षा बल ईस्लामिक रिवोल्यूशन गार्ड्स कोर (आईआरजीसी) ने कहा है आगे पढ़े »

अंतिम चरण में शाम 5 बजे तक..

नयी दिल्ली : लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण का मतदान संपन्‍न हो गया। पश्चिम बंगाल, पंजाब, बिहार और मध्य प्रदेश में कुछ स्थानों आगे पढ़े »

नहीं मिला तेल कंपनियों को एक साल..

नयी दिल्लीः घरेलू रसोई गैस (एलपीजी) पर दी जाने वाली सब्सिडी का पैसा सरकार ने तेल विपणन कंपनियों को एक साल से नहीं दिया है आगे पढ़े »

आरसीईपी में शामिल 11 सदस्य देशों के..

नयी दिल्ली: भारत को 2018-19 में क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक भागीदारी (आरसीईपी) वार्ता में शामिल 16 सदस्य देशों में से चीन, दक्षिण कोरिया तथा आस्ट्रेलिया सहित आगे पढ़े »

पाकिस्तान में तेल भंडार: खोदा पहाड़ निकली..

इस्लामाबादः पाकिस्तान ने कराची तट क्षेत्र के समीप अरब सागर में खनिज तेल और गैस का बड़ा भंडार हासिल करने की उम्मीदों के साथ शुरू आगे पढ़े »

आचार संहिता खत्म होने तक बंगाल में..

नयी दिल्ली : पश्चिम बंगाल में चुनाव के दौरान हिंसा को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने चुनाव आयोग से रविवार को अपील की आगे पढ़े »

वेनेजुएला दूतावास को कब्जा में लेने के..

वाशिंगटन : अमेरिका में व्हाइट हाउस के बाहर लगभग 200 लोगों ने प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन वेनेजुएला दूतावास को कब्जा में लिये जाने और वेनेजुएला आगे पढ़े »

लोकसभा चुनाव : अंतिम चरण की वोटिंग..

नई दिल्ली : सत्रहवीं लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण के लिए मतदान जारी है। पश्चिम बंगाल और पंजाब में हिंसक झड़पों, कुछ मतदान आगे पढ़े »

स्पोर्ट्स

मैनचेस्टर सिटी ने एफए कप जीता, 116..

नयी दिल्लीः वेम्बले स्टेडियम में हुए एफए कप के फाइनल में इंग्लैंड के क्लब मैनचेस्टर सिटी ने वेटफोर्ड को 6-0 से मात दे दिया। इस आगे पढ़े »

रोहित-कोहली के पास गांगुली का रिकार्ड तोड़ने..

नई दिल्लीः भारतीय कप्तान और उपकप्तान के पास पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली का 20 साल पुराना वर्ल्ड रिकार्ड तोड़ने का मौका है। उपकप्तान रोहित के आगे पढ़े »

इंग्लैंड ने पाकिस्तान को तीन विकेट से..

नाटिंघमः विश्व कप मेजबान और प्रबल दावेदारों में शुमार इंग्लैंड ने ट्रेंट ब्रिज में चौथे एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में शुक्रवार को पाकिस्तान को तीन आगे पढ़े »

केदार जाधव ने फिटनेस टेस्ट किया पास,..

नई दिल्लीः विश्व कप 2019 खेलने के लिए भारतीय टीम को 22 मई को इंग्लैंड रवाना होना है। इस संबंध में टीम के अहम खिलाड़ी आगे पढ़े »

विश्व कप विजेता टीम को मिलेगी टूर्नामेंट..

दुबईः आईसीसी विश्व कप 2019 की विजेता टीम पर करोड़ो रुपये की वर्षा होगी। इस बार की इनामी राशि इस टूर्नामेंट के इतिहास में सबसे आगे पढ़े »

क्रिकेटर की पत्नी को दिनदहाड़े लूटा, चीखने..

हरारे: ‌जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान ब्रेंडन टेलर की पत्नी के साथ दिनदहाड़े लूट हुई। बदमाशों ने टेलर की पत्नी पर हमला किया और आगे पढ़े »

रसेल को कैसे रोकना है, यह मुझे..

नई दिल्लीः विंडीज के विस्फोटक हरफनमौला खिलाड़ी आंद्रे रसेल ने आईपीएल में जो अपनी बल्लेबाजी में धार दिखाई है, उससे सब काफी प्रभावित हैं। उनके आगे पढ़े »

कैरेबियाई लीग में जगह बनाने वाले पहले..

नई दिल्ली: हरफनमौला खिलाड़ी इरफान पठान गुरुवार को कैरेबियाई प्रीमियर लीग (सीपीएल) के खिलाड़ियों के ड्राफ्ट में शामिल होने वाले पहले भारतीय बन गए। इससे आगे पढ़े »

देश में पहली बार क्रिकेट की तरह..

नयी दिल्लीः देश में पहली बार क्रिकेट की तरह ही खो-खो लीग में भी रेफरल प्रणाली का प्रयोग किया जाएगा। आपकों बता दें कि देश आगे पढ़े »

अंडर-19 लड़कियों की क्रिकेट टीम में कोई..

सभी बल्लेबाज बोल्ड आउट हुए, 4 रन अतिरिक्त मिलेकोच्चिः लड़कियों के अंडर-19 के मैच में कसारागोड की पूरी टीम महज 4 रन पर पवेलियन लौट आगे पढ़े »

विदेश

आईआरजीसी के प्रमुख मेजर जनरल हौसेन सालामी

तेहरान : अमेरिका और ईरान के बीच तनाव चरम पर है। अब ईरान के सर्वोच्च सुरक्षा बल ईस्लामिक रिवोल्यूशन गार्ड्स कोर (आईआरजीसी) ने कहा है आगे पढ़े »

वेनेजुएला दूतावास को कब्जा में लेने के..

वाशिंगटन : अमेरिका में व्हाइट हाउस के बाहर लगभग 200 लोगों ने प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन वेनेजुएला दूतावास को कब्जा में लिये जाने और वेनेजुएला आगे पढ़े »

ऑस्ट्रेलिया में आम चुनाव आज, वोट ना..

मेलबर्नः ऑस्ट्रेलिया में शनिवार को अगले प्रधानमंत्री के चयन के लिए आम चुनाव हुए। जहां दुनियाभर के लोकतंत्रों में मतदान प्रक्रिया जनता की भागीदारी पर आगे पढ़े »

संयुक्त राष्ट्र पर भारत का 3.6 अरब..

न्यूयॉर्कः संयुक्त राष्ट्र के अभियानों के लिए शांतिरक्षक और पुलिस बल मुहैया कराने वाले दशों को भुगतान में हो रही देरी पर भारत ने चिंता आगे पढ़े »

चीन के लिए जासूसी करने के जुर्म..

वाशिंगटनः अमेरिका में शुक्रवार को ‘सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी’ (सीआईए) के एक पूर्व अधिकारी केविन मैलोरी को चीन के लिए जासूसी करने के जुर्म में 20 आगे पढ़े »

अमेरिका में पगड़ी पहने सिख युवक को..

न्यूयॉर्क: अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में अपने दोस्तों से मिलने पहुंचे पगड़ी पहने एक सिख युवक को रेस्त्रां में प्रवेश करने से रोक दिया आगे पढ़े »

समलैंगिक विवाह को मंजूरी देने वाला एशिया..

ताइपे : ताइवान समलैंगिक विवाह को मंजूरी देने वाला एशिया का पहला देश बन गया है। ताइवानी संसद में शुक्रवार को रूढ़िवादी सांसदों के आगे पढ़े »

भारतीय इंजी‌नियर को नहीं मिला एच-1बी वीजा,..

वॉशिंगटनः भारतीय इंजीनियर को एच-1बी वीजा जारी नहीं करने पर सिलिकॉन वैली की आईटी फर्म एक्सटेरा सॉल्यूशन ने अमेरिकी सरकार पर केस कर आगे पढ़े »

अमेरिका ने पांच रूसी नागरिकों पर प्रतिबंध..

वॉशिंगटन : रूस और अमेरिका के बीच शीर्ष स्तर की वार्ता के बाद दोनों देशों के बीच तनाव कम होता दिख रहा था। इसी बीच आगे पढ़े »

अमेरिका ने 52 पाकिस्तानी नागरिकों को स्वदेश..

इस्लामाबाद : अमेरिका ने 52 पाकिस्तानी प्रवासियों को स्वदेश भेज दिया है। ये प्रवासी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच विशेष विमान से इस्लामाबाद आगे पढ़े »

ऊपर