जोधपुर : देश में पहली बार हुआ 4 दिन की नवजात का देहदान

Jodhpur, Baby of Mimi, Newborn's Daughter, symbolic image

जोधपुर : देश में ऐसा पहली बार हुआ है जब 4 दिन की नवजात बच्ची की मौत हाेने पर उसका देहदान किया गया। जोधपुर शहर के डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज में मंगलवार को इस नवजात बच्‍ची का देहदान उसके माता पिता की मर्जी के अनुसार किया गया। इस बच्ची का नामकरण नहीं हुआ था इस वजह से उसकी पहचान के तौर पर उसका नाम मां के नाम से रखा गया। उसकी मां का नाम है मिमी इसलिए उसे ‘बेबी ऑफ मिमी’ के रूप में नामांकित किया है।

तीन महीने पहले भी एक बच्ची का हुआ देहदान

मालूम हो कि पिछले माह जोधपुर एम्स (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान) में एक ऐसी ही घटना हुई थी। जोधपुर एम्स गत माह सुर्खियों में आया था जब यहां पर 6 जून को तीन वर्ष की ज्योति नामक बच्ची की मौत हो जाने पर उसके माता-पिता ने उसका देहदान कर दिया था।

मां ने ही लिया देहदान का फैसला

जोधपुर की रहने वाली महिला मिमी ने जब बच्ची को जन्म दिया तो उसके बाद से ही नवजात की तबीयत बिगड़ने लगी। उसे डॉक्टराें की निगरानी में रखा गया ‌‌था पर उसे बचाया नहीं जा सका और मंगलवार की सुबह उसकी मौत हो गई। इसके बाद मां मिमी ने बच्ची का देहदान करने की पेशकश की। उनका कहना था कि उसकी इस पहल से मेडिकल कॉलेज में पढ़ने वाले देश के भावी डॉक्टर इसके माध्यम से कुछ सीख सके। मिमी के पति ने भी उसके इस फैसले का समर्थन किया।

मिमी के फैसले का डॉक्टरों ने किया स्वागत

मिमी के इस फैसले का डॉक्टरों ने भी स्वागत किया है। बाद में मिमी ने दिल पर पत्‍थर रख कर बिलखते हुए अपनी नवजात को सौंप दिया। उसके प‌रिवार वालों ने शव को मेडिकल कॉलेज के सुपुर्द कर दिया। मेडिकल कॉलेज में ‘बेबी ऑफ मिमी’ को मिलाकर अब तक 135 देहदान हुए हैं जिसमें से 16 बच्‍चों का देहदान इसी साल हुआ है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

current

कर्नाटक: सरकारी हाॅस्टल के 5 छात्रों की करंट लगने से हुई मौत

बेंगलुरू : कर्नाटक में हुए दर्दनाक हादसे में एक सरकारी हॉस्टल में करंट लगने से पांच छात्रों की मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर आगे पढ़ें »

अनुच्छेद 370 हटाने पर कांग्रेस के स्टैंड से हुड्डा नाराज

पानीपत : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटाए जाने पर कांग्रेस के स्टैंड से पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा नाराज चल रहे हैं। वे पार्टी के आगे पढ़ें »

ऊपर