हिंसा की शिकार महिलाओं को मिला दो सौ करोड़ का मुआवजा

नयी दिल्ली : देश में पिछले दो वर्षों के दौरान महिला घरेलू हिंसा संरक्षण अधिनियम के तहत 461 मामले पंजीकृत किये गये हैं और हिंसा की शिकार महिलाओं के लिये सरकार ने अब तक राज्यों को 200 करोड़ रुपये का मुआवजा जारी किया है।  महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अनुसार ये आंकड़े राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) की ओर एकत्र किये गये हैं। मंत्रालय के अनुसार 13 जुलाई, 2016 को नयी पुनरीक्षित केंद्रीय पीड़ित मुआवजा फंड (सीवीसीएफ) नीति के तहत जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप एसिड हमले सहित विभिन्न घटनाओं में मारी गयी महिलाओं को मुआवजा देने के लिए सभी राज्यों को अब तक 200 करोड़ रुपयों का आवंटन किया गया है। इसके अलावा एसिड हमले की शिकार महिलाओं को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष के तहत एक लाख रुपये की अतिरिक्त मुआवजा भी दिया गया है। एजेंसियां

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

पाकिस्तान डरा, संयुक्त राष्ट्र से भारत को रोकने की गुहार लगाई

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में केन्द्रीय आरक्षित सुरक्षा बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान की कूटनीतिक घेराबंदी शुरु कर दी है। इसके तहत भारत ने पाकिस्तान से सबसे पसंदीदा राष्ट्र का दर्जा [Read more...]

जलवायु परिवर्तन के कारण भारत में मौसमी स्थितियां बदल जाएंगीः शोध

वाशिंगटन : प्रोसीडिंग्स ऑफ द नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया है कि जलवायु परिवर्तन के कारण भारत समेत उत्तरी गोलार्ध के क्षेत्रों में मौसमी स्थितियां निष्क्रिय हो सकती हैं और भयंकर तूफान आ [Read more...]

मुख्य समाचार

पाकिस्तान डरा, संयुक्त राष्ट्र से भारत को रोकने की गुहार लगाई

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में केन्द्रीय आरक्षित सुरक्षा बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान की कूटनीतिक घेराबंदी शुरु कर दी है। इसके तहत भारत ने पाकिस्तान से सबसे पसंदीदा राष्ट्र का दर्जा [Read more...]

जलवायु परिवर्तन के कारण भारत में मौसमी स्थितियां बदल जाएंगीः शोध

वाशिंगटन : प्रोसीडिंग्स ऑफ द नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया है कि जलवायु परिवर्तन के कारण भारत समेत उत्तरी गोलार्ध के क्षेत्रों में मौसमी स्थितियां निष्क्रिय हो सकती हैं और भयंकर तूफान आ [Read more...]

ऊपर