हाईकोर्ट ने कमल हासन को फटकारा, लेकिन अग्रिम जमानत दे दी

मदुरै : मद्रास उच्च न्यायालय ने अभिनेता से नेता बने कमल हासन को उनकी हिंदू चरमपंथी टिप्पणी को लेकर सोमवार को फटकार लगाते हुए कहा कि एक अपराधी की पहचान उसके धर्म, जाति या नस्ल से करना निश्चित तौर पर लोगों के बीच घृणा के बीज बोना है। हालांकि मदुरै पीठ के न्यायमूर्ति आर पुगलेंधी ने एक हालिया चुनावी रैली में हासन की तरफ से की गयी विवादित टिप्प्णी को लेकर दर्ज मामले में उन्हें अग्रिम जमानत दे दी और कहा कि घृणा भरे भाषण देना आजकल आम हो गया है। हासन की गलती की ओर इशारा करते हुए न्यायाधीश ने कहा कि एक चिंगारी से रोशनी भी हो सकती है साथ ही पूरा जंगल भी खाक हो सकता है। चुनाव सभा में जनता के लिए जरूरी था कि आम लोगों के उत्थान के लिए रचनात्मक समाधान दिये जायें, न कि घृणा पैदा की जाये। देश पहले से ही सार्वजनिक भाषणों के कारण होने वाली कई घटनाएं झेल चुका है, जिसमें बेकसूर लोगों ने बहुत कुछ सहा है। न्यायाधीश ने इस बात पर खेद जताया कि याचिकाकर्ता अपने पक्ष पर कायम है कि उन्होंने जो कहा वह ऐतिहासिक घटना के संदर्भ में था। न्यायाधीश ने इस प्रकार के घृणा भाषणों को महत्त्व देने के लिए और घंटों तक उन पर बहस करने के लिए मीडिया की भी आलोचना की। हासन की याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायाधीश ने कहा कि अदालत को उन्हें जमानत देनी होगी क्योंकि चुनाव प्रक्रिया अब भी लंबित है और वह एक पंजीकृत राजनीतिक दल के नेता हैं। न्यायाधीश ने हासन को अरावाकुरीचि में न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश होने और 10 हजार रुपये का मुचलका और इतनी ही जमानत राशि जमा कराने का निर्देश दिया।
मक्कल नीधि मय्यम (एमएनएम) के संस्थापक हासन को अरावाकुरीचि में की गयी उनकी टिप्पणी को लेकर दर्ज मामले में गिरफ्तार किये जाने की आशंका थी। उन्होंने महात्मा गांधी की गोली मार कर हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे के संदर्भ में कहा था कि स्वतंत्र भारत का पहला चरमपंथी एक हिंदू था। उनके इस बयान पर हिंदू मुन्नानी की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

समय की हो कमी तो शाम को करें वर्कआउट, ये हैं फायदें

नई दिल्ली : कामकाजी लोगों के लिए सुबह जिम जाना या वर्कआउट करने में परेशानी होती है, लेकिन शाम को भी वर्कआउट किया जा सकता आगे पढ़ें »

भारत से व्यापर संबंध तोड़ने के बाद पाक में जीवनरक्षक दवाओं की किल्लत

नई दिल्ली : भारत के साथ व्यापार संबंध तोड़ने के फैसले के बाद यहां कई समानों की किल्लत होने लगी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक आगे पढ़ें »

महंगे बिल की शिकायतों के बाद केबल टैरिफ की समीक्षा करेगी ट्राई

पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था के लिए बैंकों ने किया विचार-मंथन

बासुकीनाथ में अब पूजा अर्चना के लिए बनेंगे आजीवन दाता कार्ड

आतंकवादियों को अलग-थलग करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है कश्मीर पुलिस : डीजीपी

flood

हिमाचल : बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से 8 लोगों की मौत, प्रदेश के 323 सड़के क्षतिग्रस्त

Gun-shot 1

आरपीएफ जवान ने गोलीमार कर की रेलकर्मी समेत उसकी पत्नी और पुत्री की हत्या

saho

इस फिल्‍म के नए पोस्टर में दिखी प्रभास और श्रद्धा कपूर की लव केमिस्ट्री

rajnath

रक्षामंत्री ने पाक को दी चेतावनी, पीओके के अलावा किसी दूसरे विषय पर बातचीत नहीं होगी

ऊपर