स्पेस स्टेशन लॉन्चिंग की योजना बना रहा है भारत- इसरो प्रमुख

नई दिल्ली : भारत लगातार स्वदेशी तकनीक के दम पर अंतरिक्ष की ओर कदम बढ़ा रहा है। एक तरफ चंद्रयान-2 अंतरिक्ष में भेजने की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है तो दूसरी ओर देश के वैज्ञानिक स्पेस स्टेशन लॉन्चिंग की योजना बना रहे हैं। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के प्रमुख डॉ. के. सिवन का कहना है कि भारत अब स्पेस स्टेशन लांच करने की योजना भी बना रहा है। मालूम हो कि कुछ महीने पहले देश ने एक सक्रिय उपग्रह को मिसाइल से नष्ट कर दुनिया को अपनी ताकत दिखाई थी।
गगनयान कार्यक्रम को बनाए रखना होगा
सिवन ने गुरुवार को बताया कि भारत अपनी महत्वाकांक्षी योजना गगनयान मिशन का विस्तार करते हुए स्पेस स्टेशन लॉन्च करने की योजना बना रहा है। सिवन का कहना है कि मानव अंतरिक्ष मिशन की लॉन्चिंग के बाद गगनयान कार्यक्रम को बनाए रखना होगा। यही वजह है कि भारत अपना स्पेस स्टेशन लॉन्च करने की योजना बना रहा है।
अमेरिका और रूस ने बनाया था पहला आईएसएस

मालूम हो कि इस समय में सिर्फ दो स्पेस स्टेशन हैं। वर्ष 1998 में पहले इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (आईएसएस) की स्‍थापना की गई थी। इस अंतरिक्ष स्टेशन का निर्माण अमेरिका और रूस ने संयुक्त रूप से किया था। हालांकि बाद में कई अन्य देश भी इसके निर्माण में जुड़ते गए। फिलहाल आईएसएस के ज्यादातर नियंत्रणों और मॉड्यूल्स का खर्च अमेरिका उठाता है। पृथ्वी से करीब 400 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थित आईएसएस 28 हजार किमी की रफ्तार से घूमता रहता है। इस अंतरिक्ष स्टेशन पर अब तक 18 देशों के 230 लोग जा चुके हैं।

गौरतलब है कि चीन भी अंतरिक्ष में अपने 2 स्पेस स्टेशन को लॉन्च कर चुका है। उसने वर्ष 2011 में अपने पहले स्पेस स्टेशन को लांच किया था। इस स्पेस स्टेशन का नाम तियांगोंग-1 दिया गया। सिर्फ दो साल के लिए तैयार किया गया स्पेस स्टेशन पिछले साल 1 अप्रैल 2018 को धरती पर गिरकर नष्ट हो गया। चीन का दूसरा स्पेस स्टेशन तियांगोंग-2 वर्ष 2016 में  लॉन्च किया। फिलहाल यह अंतरिक्ष में मौजूद है। वहीं 2022 तक चीन तियांगोंग-3 को लॉन्च करने की तैयारी में है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

भारत से व्यापर संबंध तोड़ने के बाद पाक में जीवनरक्षक दवाओं की किल्लत

नई दिल्ली : भारत के साथ व्यापार संबंध तोड़ने के फैसले के बाद यहां कई समानों की किल्लत होने लगी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक आगे पढ़ें »

महंगे बिल की शिकायतों के बाद केबल टैरिफ की समीक्षा करेगी ट्राई

नई दिल्ली : भारतीय टेलिकॉम नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने यूजर्स द्वारा लगातार महंगे बिल की शिकायत के बाद ब्रॉडकास्टिंग और केबल इंडस्ट्री टैरिफ की दोबारा आगे पढ़ें »

पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था के लिए बैंकों ने किया विचार-मंथन

बासुकीनाथ में अब पूजा अर्चना के लिए बनेंगे आजीवन दाता कार्ड

आतंकवादियों को अलग-थलग करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है कश्मीर पुलिस : डीजीपी

flood

हिमाचल : बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से 8 लोगों की मौत, प्रदेश के 323 सड़के क्षतिग्रस्त

Gun-shot 1

आरपीएफ जवान ने गोलीमार कर की रेलकर्मी समेत उसकी पत्नी और पुत्री की हत्या

saho

इस फिल्‍म के नए पोस्टर में दिखी प्रभास और श्रद्धा कपूर की लव केमिस्ट्री

rajnath

रक्षामंत्री ने पाक को दी चेतावनी, पीओके के अलावा किसी दूसरे विषय पर बातचीत नहीं होगी

जियो फाइबर ब्रॉडबैंड अगले महीने होगी लॉन्च, जानिए प्लान्स

ऊपर