सुप्रीम कोर्ट में जोसेफ समेत तीन हुई महिला जजों की संख्या

नईदिल्लीः मंगलवार को मुख्य जस्टिस इंदिरा बनर्जी, जस्टिस विनीत सरन और जस्टिस के एम जोसेफ को पद की शपथ दिलाई। जस्टिस इंदिरा बनर्जी सुप्रीम कोर्ट के 68 साल के इतिहास में आठवीं महिला जज हो गई हैं साथ ही पहली बार ऐसा हुआ है कि सुप्रीम कोर्ट में एक साथ तीन महिला जज होंगी। इससे पहले एक समय मे अधिकतम दो महिला जज ही सुप्रीम कोर्ट में रही हैं। इन तीन नियुक्तियों के साथ ही सुप्रीम कोर्ट मे जजों की संख्या 25 हो गई है जबकि सुप्रीम कोर्ट में जजों के स्वीकृत पद 31 हैं। मालूम हो ‌कि उत्तराखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के एम जोसेफ ने साल 2016 में राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने वाले मोदी सरकार के फैसले को पलट दिया था। जिसके बाद से वह चर्चा का केंद्र रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट में जजों की नियुक्ति को लेकर काफी लंबे समय तक चले विवाद के बीच जस्टिस के. एम. जोसेफ समेत कुल तीन जजों ने आज देश की सबसे बड़ी अदालत के जज के रूप में शपथ ली।
जोसेफ के तीसरे नंबर होने से उठा विवाद
हालांकि, शपथ से पहले भी इसको लेकर विवाद रहा। कई वरिष्ठ जजों ने जस्टिस के. एम. जोसेफ की वरिष्ठता घटाने को लेकर अपनी आपत्ति जाहिर की है। लेकिन केंद्र अपने रुख पर अडिग है, इसलिए आज शपथ ग्रहण पूर्व में तय कार्यक्रम के आधार पर ही हुआ। इस मामले को लेकर सोमवार को कई सीनियर जजों ने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा से मुलाकात की थी। चीफ जस्टिस ने उन्हें मामले को केंद्र के सामने उठाने की बात भी कही थी। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट में तीन जज नियुक्त होने के मामले में उतराखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के. एम. जोसेफ को वरिष्ठता के क्रम में तीसरे नंबर पर रखा गया है। जिसको लेकर आपत्ति जताई जा रही है।
कौन कब बना जज?
जस्टिस इंदिरा बनर्जी 5 फ़रवरी 2002,जस्टिस विनीत सरन 14 फ़रवरी 2002, जस्टिस के एम जोसेफ 14 अक्टूबर 2014,
मालूम हो कि इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के कई मौजूदा और पूर्व जज अपनी प्रतिक्रिया दे चुके हैं। जस्टिस चेलमेश्वर, जस्टिस कुरियन जोसफ और जस्टिस मदन बी लोकुर ने भी चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा को चिट्ठी लिखकर सुप्रीम कोर्ट की गरिमा बचाने और सरकार की मनमानी रोकने के उपाय करने पर जोर दिया था। इन उपायों की तलाश के लिए फुलकोर्ट यानी सभी जजों की मीटिंग बुलाने की मांग की थी। जिस दौरान कोलेजियम ने जस्टिस के. एम. जोसेफ के नाम की सिफारिश की थी, तब सरकार ने कई तरह के तर्क देकर उनका नाम वापस कर दिया था। लेकिन अब लगता है कि सरकार राजी हो गई है।

मुख्य समाचार

ओम बिड़ला सर्वसम्मति से चुने गए लोकसभा के नए अध्यक्ष

नयी दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के उम्मीदवार ओम बिड़ला बुधवार को सभी सर्वसम्मति से लोकसभा अध्यक्ष चुन आगे पढ़ें »

मोदी की बुलाई सर्वदलीय बैठक से विपक्ष का किनारा, ममता समेत कई नेता नहीं होंगे शामिल

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुधवार को सभी राजनीतिक दलों के अध्यक्षों की बैठक बुलाई गई है। लेकिन समस्या यह है कि अब कई आगे पढ़ें »

पुलिस कांस्टेबल ने सिर में गोली मार कर की आत्महत्या

कोलकाता : हेस्ट‌िंग्स थानांतर्गत विद्यासागर सेतु पर एक पुलिस कांस्टेबल ने सर्विस रिवाल्वर से सिर में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मृतक का नाम तरुण आगे पढ़ें »

रवींद्र सदन मेट्रो में व्यक्ति ने की आत्महत्या

कोलकाताः रवींद्र सदन मेट्रो पर एक व्यक्ति ने मंगलवार की शाम आत्महत्या कर लिया। इस कारण मेट्रो परिसेवा घण्टों बाधित रही। हादसा मंगलवार शाम करीब आगे पढ़ें »

खतरनाक स्टंट व कई गलतियों ने ली जादूगर की जान

रामकृष्णपुर घाट से​ मिला था शव हावड़ा ब्रिज के नीचे से हाथ पैर बांधकर उतरे थे नदी में हावड़ा : सोनारपुर के रहनेवाले जादूगर चंचल ल‍ाहिड़ी आगे पढ़ें »

आतंकियों ने पुलवामा में थाने पर फेंका ग्रेनेड, पुंछ में हथियारों का जखीरा बरामद

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में आतंकियों का सफाया करने के लिए सुरक्षा बलों के जवान लगातार कार्रवाई कर रहे हैं। उनकी इस कार्रवाई से आतंकी बौखला आगे पढ़ें »

जेट एयरवेज को उभारने की सभी कोशिशें नाकाम, बैंकों ने दिवालिया की अर्जी दाखिल की

मुंबईः एक समय में देश की सबसे बड़ी निजी एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज अब दिवालिया होने के कगार पर है। बैंको द्वारा जेट एयरवेज को आगे पढ़ें »

कांग्रेस दल के नेता अधीर रंजन चौधरी होंगे, पहले राहुल गांधी के नाम की चर्चा थी

नई दिल्ली : लंबी जद्दोजहद के बाद मंगलवार को कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी को लोकसभा में पार्टी का नेता नामित किया आगे पढ़ें »

किसके सर सजेगा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री का ताज

लंदन : ब्रिटेन का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा इसको लेकर वहां के राजनीतिक पार्टियों में होड़ मची हुई है। प्रधानमंत्री पद पर काबिज होने के आगे पढ़ें »

7 साल में 38 प्रतिशत बढ़ गई है भारतीय-अमेरिकियों की तादाद

वॉशिंगटन: अमेरिका में भारतीय मूल के नागरिकों की तादाद 7 वर्षों में 38 प्रतिशत तक बढ़ गई। दक्षिण एशियाई पैरोकार समूह साउथ एशियन अमेरिकन्स लीडिंग आगे पढ़ें »

ऊपर