सीजेआई पर यौन शोषण मामले की सुनवाई शुरू, सीलबंद लिफाफे में पेश किए गए सबूत

नई दिल्ली: सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई पर लगे यौन शोषण के आरोपों को लेकर सुप्रीम कोर्ट की विशेष पीठ ने सुनवाई ‌की। इस पूरे मामले को साजिश बताने वाले वकील उत्सव बैंस ने कहा कि चीफ जस्टिस को इस मामले में फंसाने की कोशिश की जा रही है। इसपर उन्होंने कोर्ट को सीलबंद लिफाफे में दस्तावेज पेश किए हैं। सुप्रीम कोर्ट के जज खुफिया ऐजेंसी के डयरेक्टर, सीबीआई प्रमुख और दिल्ली पुलिस के कमिश्नर के साथ बात कर रहे हैं। मामले की सुनवाई आज ही 3 बजे से होगी। कोर्ट ने वकील उत्सव बैंस को भी सुरक्षा देने का निर्देश दिया है।

बैंस ने पीठ को सीलबंद लिफाफे में सबूत पेश किया

सुबह करीब 11.15 बजे मामले की सुनवाई शुरू हुई और इस पूरे मामले को सीजेआई के खिलाफ साजिश बताने वाले वकील उत्सव बैंस ने कहा कि इस मामले में चीफ जस्टिस की छवि को धूमिल करने के लिए उन्हें फंसाया जा रहा है। इस पर बेंच ने पूछा कि आप इसपर क्या कहना चाहते हैं। जवाब में वकील बैंस ने कहा कि मैंने सीलबंद लिफाफे में सबूत दिए हैं साथ ही उसमें सीसीटीवी फुटेज भी है जो पूरी कहानी बयान करती है। वकील बैंस ने यह भी दावा किया कि एक औद्योगिक घराना के लोग चीफ जस्टिस को फंसाने की कोशिश कर रहे हैं।

एसआईटी का गठन कर मामले की छानबीन हो : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यौन शोषण के आरोपों की जांच के लिए इन हाउस पैनल जांच करेगा लेकिन न्यायपालिका की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के लिए की जा रही बड़ी साजिश की भी अलग से जांच होनी चाहिए। इसके लिए एसआईटी का गठन कर मामले की छानबीन भी की जाए। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर, सीबीआई प्रमुख और आईबी डायरेक्टर को कोर्ट में तलब होने का आदेश दिया।

बता दें कि यौन शोषण के आरोप के बाद सीजेआई ने कहा था कि वह निर्दोष हैं और उनकी प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से आरोप लगाए जा रहे हैं। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के खिलाफ यौन शोषण के आरोपों की जांच के लिए स्पेशल पीठ का गठन किया गया था। इस समिति में जस्टिस एस ए बोबड़े ने अध्यक्षता ‌की जिसमें एक महीला ज‌िस्टिस समेत दो जस्टिस शामिल हैं।

मुख्य समाचार

तेज आंधी के साथ बारिश ने पहुंचायी राहत, महानगर में पांच जगहों पर गिरे पेड़

कोलकाता : पिछले कई दिनों से भीषण गर्मी से परेशान महानगरवासियों को मंगलवार की दोपहर हुई बारिश से राहत मिली। बारिश के कारण शहर के आगे पढ़ें »

रणक्षेत्र बना बनगांव, बमबाजी से दहला इलाका

कोलकाता : बनगांव नगरपालिका में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान पूरा क्षेत्र रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। तोड़फोड़, लाठीचार्ज और बमबाजी से पूरा इलाका दहल गया। आगे पढ़ें »

tied the son to chains

पंजाब : नशे की लत छुड़ाने के लिए बेटे को जंजीर से बांधा

पटियाला : पंजाब में नाभा तहसील के एक परिवार ने अपने बेटे को 10 दिन से जंजीर से बांध रखा है। दरअसल, 22वर्षीय संदीप को आगे पढ़ें »

G Kishan Reddy

गृह मंत्रालय ने कहा- 5 सालों में 963 आतंकी ढेर,413 जवान शहीद

नई दिल्ली : केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्‌डी ने मंगलवार को लोकसभा में जानकारी दी की 2014 से अबतक घाटी में 963 आतंकी मारे आगे पढ़ें »

भारत में बीमा को लेकर बदल रही है सोच : रिपोर्ट

नई दिल्ली : भारत में लंबे समय से बीमाधारकों की संख्या बेहद कम रही है और बीमा को लेकर जागरुकता तो उससे भी कम रही आगे पढ़ें »

Mumbai, 4-storey building collapses

मुंबई में 100 साल पुरानी 4 मंजिला इमारत ढही, 12 की मौत कई घायल

मुबंई : मूसलाधार बारिश से जूझने के बाद देश की राजधानी मुंबई के डोंगरी इलाके में मंगलवार को 100 साल पुरानी इमारत ढहने से 12 आगे पढ़ें »

जुमा ने कहा, मैंने ही गुप्ता परिवार को मीडिया एम्पायर खड़ा करने की सलाह दी

जोहानिसबर्ग : दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा ने इस बात की पुष्टि की है कि उन्होंने ही गुप्ता परिवार को मीडिया एम्पायर खड़ा आगे पढ़ें »

Arvind Kejriwal, Manish Sisodia

केजरीवाल और सिसोदिया को आपराधिक मानहानि मामले में मिली जमानत

नई दिल्ली : आपराधिक मानहानि के मुकदमें में मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री (सीएम) अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को दिल्ली की राउज आगे पढ़ें »

Varanasi-Patalpuri- Guru Purnima-muslim women worshiped mahant

वाराणसी में गुरू पूर्णिमा के दिन मुस्लिम महिलाओं ने उतारी महंत की आरती

वाराणसी : धर्म की नगरी वाराणसी में गुरू पूर्णिमा के दिन मुस्लिम महिलाओं ने अपने गुरु पीठाधीश्वर महंत बालक दास की पूजा-आरती कर सामाजिक एकता आगे पढ़ें »

कुलभूषण जाधव मामले में बुधवार को फैसला सुनाएगी आईसीजे

द हेग : अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से जुड़े मामले में बुधवार को अपना फैसला सुनाएगी। पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत आगे पढ़ें »

ऊपर