सामूहिक हत्याकांड के मामले में भाजपा विधायक को आजीवन कारावास

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को बड़ा झटका लगा है। भाजपा विधायक अशोक सिंह चंदेल को इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को हमीरपुर के बहुचर्चित हत्याकांड में आजीवन कारावास की सजा सुनाई। चंदेल के साथ ही इस मामले में 10 अन्य लोगों को भी सजा सुनाई गई है। बता दें कि विधायक पर एक साथ पांच लोगों की हत्या का आरोप था। चंदेल हमीरपुर से विधायक है।

आपसी रंजिश ने ली पांच लोगों की जान

हमीरपुर जिले से सदर विधायक अशोक सिंह चंदेल और भाजपा नेता राजीव शुक्ला में लंबे समय से राजनीतिक रंजिश थी। 26 जनवरी 1997 को देर शाम सरेआम बाजार में राजीव शुक्ला के दो सगे भाइयों और भतीजों समेत पांच लोगों की हत्या हुई थी। इसमें राजीव शुक्ला के बड़े भाई राजेश शुक्ला, राकेश शुक्ला, राकेश का पुत्र गणेश के अलावा वेद प्रकाश नायक और श्रीकांत पांडे थे। वेद प्रकाश और श्रीकांत इनके निजी सुरक्षाकर्मी थे। इस सामूहिक हत्याकांड में विधायक अशोक सिंह चंदेल के निजी गनर समेत 12 आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था।

सामूहिक हत्याकांड के दोषी चंदेल

इस मामले में गिरफ्तार आरोपी अजय सक्सेना दोनों पक्षों के बीच मुकदमे के मुख्य गवाह थे। मुकदमे में विधायक समेत 11 लोगों को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अश्विनी कुमार ने बरी कर दिया था। इसके बाद राजीव शुक्ला ने मामले की अपील उच्च न्यायालय इलाहाबाद में की थी। 22 साल तक चले इस मामले में पूर्व में हाईकोर्ट से एक आरोपी रूक्कू के हाजिर होने पर अदालत आजीवन कारावास की सजा दे चुकी है। शुक्रवार को हाईकोर्ट ने सामूहिक हत्याकांड का दोषी मानते हुए भाजपा विधायक अशोक सिंह चंदेल को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। साथ ही अन्य 10 आरोपियों को भी सजा सुनाई गई।

एक बार सांसद और चार बार विधायक रहे

अशोक चंदेल का जन्म हमीरपुर के कुरौरा गांव हुआ था। शिक्षा के लिए वह गांव से हमीरपुर आ गए और राजनीति में कूद गए। अशोक सिंह चंदेल 1989 में निर्दलीय विधायक चुने गए। इसके बाद 1993, 2008 में भी विधायक रहे। वर्ष 1999 में बसपा से सांसद चुने गए। इसके बाद वर्ष 2017 से भाजपा के टिकट से विधायक चुने गए। अशोक चंदेल लगभग सभी मुख्य दलों में रह चुके हैं और हर दल के बड़े-बड़े नेताओं से उनकेअच्छे संबंध रहे हैं। 2017 में मोदी लहर को देख अशोक चंदेल भाजपा में शामिल हो गए। उस दौरान भाजपा सांसद एवं केंद्रीय मंत्री उमा भारती समेत तामम भाजपा नेताओं ने इनका विरोध किया, लेकिन यूपी संगठन में बैठे नेताओं आगे उनकी एक नहीं चली थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

sjayshanker

‘नेपाल-भारत संयुक्त आयोग’ की 5वीं बैठक में शामिल होने नेपाल जाएंगे विदेश मंत्री

काठमांडू : विदेश मंत्री एस जयशंकर ‘नेपाल-भारत संयुक्त आयोग’ की 5वीं बैठक में शामिल होने इस सप्ताह नेपाल जाएंगे। इस बैठक में जयशंकर द्विपक्षीय संबंधों आगे पढ़ें »

dhule

महाराष्ट्र : बस और ट्रक के बीच भीषण टक्कर में 15 की मौत ,कई घायल

धुले : महाराष्ट्र के धुले में एक दर्दनाक हादसा होने का मामला सामने आया है। यहां एक बस और ट्रक के बीच हुए भीषण टक्कर आगे पढ़ें »

ऊपर