संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान का निधन, शांति प्रयासों के लिए जाने जाते है अन्नान

स्विटजरलैंड : संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव और नोबेल पुरस्कार से सम्मानित कोफी अन्नान का शनिवार की सुबह स्विटजरलैंड में निधन हो गया। कोफी अन्नान 80 वर्ष के थे। अन्नान के निधन की सूचना उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक पोस्ट के जरिए दी गई। वे मूल रूप से घाना के रहनेवाले कोफी अन्नान को वैश्विक स्तर पर शांति प्रयासों और गरीबी उन्मूलन कार्यक्रमों के लिए जाने जाते है।
यूएन के महासचिव बनने वाले पहले अफ्रीकन
अन्नान को साल 2001 में उनके मानवीय कार्यों के लिए नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। अन्नान ने जनवरी 1997 से दिसंबर 2006 तक दो कार्यकालों के लिए संयुक्त राष्ट्र के सातवें महासचिव के तौर पर काम किया। वह यूएन के महासचिव बनने वाले पहले अफ्रीकन थे। उनका भारत से गहरा लगाव रहा है। उन्‍हें दुनियाभर में एड्स बीमारी की रोकथाम और युद्ध प्रभावित क्षेत्रों में शांति प्रयासों के लिए जाना जाता रहा है।
कौन थे कोफी अन्नान
कोफी अन्नान का जन्म 8 अप्रैल 1938 को गोल्ड कोस्ट, जो वर्तमान में घाना देश है, वहां के कुमसी नामक शहर में हुआ था। घाना के एक बोर्डिंग स्कूल में शुरुआती शिक्षा लेने के बाद अन्नान ने कुसमी के विज्ञान और प्रौद्योगिकी कॉलेज में दाखिला लिया। उनके पिता एक शिक्षित व्यक्ति थे, इसलिए कोफी की पढ़ाई पर भी बहुत ध्यान दिया। जब अन्नान 20 वर्ष के थे तब उन्होंने फॉर्ड फाउंडेशन स्कॉलरशिप जीती और सेंट पॉल मिनेसोटा के मैकलेस्टर कॉलेज में स्नातक की पढ़ाई के लिए चले गए, जहां उन्होंने इकॉनोमिक्स की पढ़ाई की।
1961 में इकॉनोमिक्स से स्नातक की डिग्री हासिल करने के बाद कोफी अन्नान जिनेवा चले गए, जहां उन्होंने ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनैशनल स्टडीज से डीईए की डिग्री की। अन्नान ने जिनेवा में ही वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ज्वाइन कर ली। वहां उन्होंने बजट अधिकारी के रूप में काम किया। वे 1965 तक डब्लू एच ओ के साथ रहे। 1965 से 1972 तक अन्नान ने इथियोपिया की राजधानी अद्दीस अबाबा में संयुक्त राष्ट्र की इकॉनोमिक कमिशन फॉर अफ्रिका के लिये काम किया। 1976 में यूएन के साथ काम करने के लिए वह एक बार फिर जिनेवा लौट गए। उसके बाद से फिर वह यूएन के साथ ही काम करते रहे।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

सुप्रीम काेर्ट में राहुल गांधी ने चौकीदार चोर है’ टिप्पणी पर जताया खेद कहा -आवेश में आकर दिया बयान

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदा मामले में अपने 'चौकीदार चोर है' बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट में खेद जताया है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद मीनाक्षी लेखी द्वारा दायर अवमानना ​​याचिका पर राहुल गांधी ने अपने [Read more...]

आजम खान के बाद अब उनके बेटे ने की जया प्रदा पर विवादित टिप्पणी, कही ये बड़ी बात

  नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव के दौरान सियासी दल एक दूसरे पर भाषा की मर्यादा भूलकर हमलावर हो रहे है। इसी कड़ी में समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता आजम खान के बाद अब उनके बेटे ने रामपुर से भारतीय जनता [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

मैच गंवाकर धोनी बोले- शीर्षक्रम के बल्लेेबाजों को फिनिशर की भूमिका निभानी चाहिये

सुप्रीम काेर्ट में राहुल गांधी ने चौकीदार चोर है’ टिप्पणी पर जताया खेद कहा -आवेश में आकर दिया बयान

ईरान से तेल खरीदने वाले भारत सहित पांच देशों पर अमेरिका लगा सकता है प्रतिबंध : सूत्र

गोखले ने चीनी विदेश मंत्री के साथ की वार्ता

देशभर के 1.5 लाख डाकघरों को आधुनिक बनाएगी यह कंपनी

आजम खान के बाद अब उनके बेटे ने की जया प्रदा पर विवादित टिप्पणी, कही ये बड़ी बात

श्रीलंका सिलसिलेवार विस्फोट : 2 जेडीएस नेताओं सहित 6 भारतीयों की मौत, मामले में अबतक 24 लोग गिरफ्तार

कचरा प्रबंधन के लिए सलाना 5 अरब डॉलर के निवेश की जरूरत: रिपोर्ट

जेट एयरवेज के विमानों को उड़ाना चाहता है यह एयरलाइंस

इस सप्ताह कई कंपनियां घोषित करेंगी वित्तीय परिणाम, शेयर बाजार में जारी रहेगा उतार चढ़ाव

ऊपर