शाह-नीतीश की मुलाकात पर टिकी धुरंधरों की निगाह, सीटों का हो सकता है बंटवारा

पटनाः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह बिहार में 2015 में हुए विधानसभा चुनावों के बाद पहली बार कल यानी 12 जुलाई को पटना दौरे पर आ रहे हैं। शाह का पटना दौरा आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर राजनीतिक परिदृश्य से काफी अहम माना जा रहा है। उनके इस दौरे पर राजनीतिक धुरंधरों की निगाह टिकी हुई हैं, क्योंकि इस दौरान सीट बंटवारे को लेकर जद (यू) अध्यक्ष नीतीश कुमार से बातचीत होनी है। इसके अलावा शाह अपनी इस यात्रा में संगठन को मजबूत धार देंगे। जिनके साथ शाह आगामी चुनावों को देखते हुए पार्टी की रणनीति को आक्रामक तरीके से जनता तक पहुंचाने पर चर्चा करेंगे। इस दौरान वे 2019 के चुनावों को देखते हुए राज्यभर के निचले स्तर पर चुनाव प्रबंधकों से तो मुलाकात करेंगे ही, साथ ही 10 हजार शक्ति केद्रों के प्रमुखों के साथ भी बैठक करेंगे। जिसमें जमीनी स्तर पर पार्टी कार्यकर्ता मतदाताओं से जुड़ने का बीड़ा उठाते हैं। वरिष्ठ भाजपा सूत्रों का कहना है कि पूरे बिहार में 63 हजार से ज्यादा बूथ है और पार्टी ने 51 हजार बूथों के आंकाड़े एकत्र कर लिए हैं।
शाह की यात्रा को लेकर विपक्षियों ने बोला हमला
वहीं आरजेडी और कांग्रेस अमित शाह के इस दौरे को लेकर हमले बोल रहे हैं। तेजस्वी यादव ट्विटर के जरिए अमित शाह के दौरे पर नजर बनाए हुए हैं और अपनी बात रख रहे हैं। बुधवार सुबह तेजस्वी यादव ने अमित शाह के दौरे को लेकर ट्वीट किया और कहा कि वह वर्षों से अर्जित अपने विशेष नॉलेज को नीतीश कुमार और बीजेपी नेता गिरिराज सिंह के साथ शेयर करने के लिए बिहार आ रहे हैं।
नीतीश और गिरिराज दोनों ही अंदर मिले हुए है
नीतीश कुमार और गिरिराज सिंह पर हमला बोलते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि 18 वर्षों से दोनों एक-दूसरे के अजीज हैं और अंदर ही अंदर दोनों मिले हुए हैं मगर ऊपरी तौर पर एक-दूसरे का विरोध करते रहते हैं।
संघ से जल्द आयेगा साइड इफेक्ट
आरएसएस सरसंघचालक मोहन भागवत पर भी तंज कसते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि अमित शाह के बिहार दौरे के बाद के साइड इफेक्ट्स कुछ ही दिन में नजर आएंगे। तेजस्वी यादव ने कई मौकों पर कहा है कि इसी साल फरवरी महीने में मोहन भागवत के बिहार दौरे के बाद ही राज्य में रामनवमी के दौरान सांप्रदायिक हिंसा देखने को मिली थी। इसी को लेकर तेजस्वी यादव ने कहा है कि अब अमित शाह के दौरे के बाद भी इसके साइड इफेक्ट जल्दी नजर आएंगे।

मुख्य समाचार

भारत, व्यापार क्षेत्र की अड़चनों को कम करे : अमेरिका

नयी दिल्ली : भारत के तीन दिवसीय दौरे पर आए अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने प्रधानमंत्री नेरेंद्र मोदी एवं विदेश मंत्री एस जयशंकर आगे पढ़ें »

कपिल के शो में फिर नजर आएंगे सुनील ग्रोवर

मुंबई : कपिल शर्मा और कॉमेडियन सुनील ग्रोवर की जोड़ी का जादू तो सबने देखा ही है। सुनील जल्द ही फिर से कपिल के शो आगे पढ़ें »

विजयवर्गीय ने निगमकर्मियों को बैट से पीटा

इंदौर : भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे की दंबंगई सामने आई है। भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय ने अपने समर्थकों आगे पढ़ें »

अमेरिका-चीन का व्यापार युद्ध भारत के लिए अवसर: पनगढ़िया

न्यूयॉर्कः अमेरिका और चीन के व्यापारिक रिश्तों में बढ़ता तनाव भारत के लिए एक 'अवसर' की तरह है। ऐसी में भारत उन बहुराष्ट्रीय कंपनियों को आगे पढ़ें »

कैश की किल्लत होगी खत्म, आरबीआई से मिल सकते हैं 3 लाख करोड़ रुपए

नई दिल्ली : बिमल जालान समिति की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय रिजर्व बैंक के पास पड़ी आवश्यकता से अधिक आरक्षित पूंजी से केंद्र सरकार आगे पढ़ें »

ट्रेन में 2 विधायकों से लूटपाट, चोरों ने नकदी सहित दस्तावेज उड़ाए

मुंबई : महाराष्ट्र के ठाणे के कल्याण स्टेशन पर सोमवार को अलग-अलग ट्रेनों में दो विधायकों से चोरों ने लूटपाट की। इस घटना की जानकारी आगे पढ़ें »

भारत पहुंचे पोम्पियो, पीएम मोदी और विदेश मंत्री जयशंकर से की मुलाकात

नई दिल्ली : भारत के दो दिनों के दौरे पर आए अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत विदेश आगे पढ़ें »

जल्द आएगा राष्ट्रीय खुदरा नीति पर मसौदा, व्यापार संघों से मांगे सुझाव 

नई दिल्ली : राष्ट्रीय खुदरा नीति का एक मसौदा अगले दस दिनों में जारी किया जा सकता है।  इस मसौदे पर व्यापार संघों से सुझाव आगे पढ़ें »

एसयूवी ने ली फुटपाथ पर सो रहे 3 बच्चों की जान, भीड़ की पिटाई से ड्राइवर की मौत

पटना : बिहार की राजधानी पटना में मंगलवार देर रात एक अनियंत्रित एसयूवी ने फुटपाथ पर सो रहे 4 बच्चों को रौंद डाला। शहर के आगे पढ़ें »

बजट : पेट्रोलियम पदार्थों को जीएसटी के दायरे में ला सकती है सरकार

नई दिल्ली : बजट में मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल समेत सभी पेट्रोलियम पदार्थों को जीएसटी के दायरे में ला सकती है। एक रिपोर्ट के आगे पढ़ें »

ऊपर